Thursday, May 23, 2024
Homeराजनीतिपटना में रोडशो करने वाले पहले प्रधानमंत्री बने PM मोदी: बुर्के वाली मुस्लिम महिलाओं...

पटना में रोडशो करने वाले पहले प्रधानमंत्री बने PM मोदी: बुर्के वाली मुस्लिम महिलाओं ने भी लगाए ‘जय श्री राम’ के नारे, राम मंदिर से लेकर मिथिला पेंटिंग तक की झलक

इस दौरान सड़क के दोनों तरफ सांस्कृतिक झलकियाँ भी दिखीं। इस दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी उनके साथ नज़र आए। उनके स्वागत में आईं मुस्लिम महिलाओं ने 'जय श्री राम' के नारे लगाए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोकसभा चुनाव 2024 के चौथे चरण से पहले बिहार की राजधानी पटना में भव्य रोडशो किया, जिसमें आम जनमानस का एक बड़ा हुजूम उमड़ा। पीएम मोदी एयरपोर्ट से राजभवन पहुँचे, उसके बाद उन्होंने रोडशो किया। भट्टाचार्य मोड़ से शुरू होकर उमा सिनेमा, कदमकुआँ, साहित्य सम्मेलन, ठाकुरबाड़ी रोड और कारगिल चौक होते हुए उद्योग भवन और JP गोलंबर तक लगभग 2 किलोमीटर के इस रोडशो के साथ ही पीएम मोदी ने बिहार में समीकरण को भाजपा के पक्ष में साधा, जहाँ सातों चरणों में चुनाव हो रहे हैं।

रविवार (12 मई, 2024) को रोडशो खत्म होने के बाद राजभवन में ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रात्रि-विश्राम की व्यवस्था की गई। अगले दिन उन्हें पटना सिटी गुरुद्वारा में भी दर्शन करना है। इसके बाद हाजीपुर, वैशाली और सारण में वो रैलियों को संबोधित करेंगे। इस दौरान सड़क के दोनों तरफ सांस्कृतिक झलकियाँ भी दिखीं। इस दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी उनके साथ नज़र आए। उनके स्वागत में आईं मुस्लिम महिलाओं ने ‘जय श्री राम’ के नारे लगाए।

रोडशो में बड़ी संख्या में महिलाएँ भी भगवा पगड़ी बाँधी हुई नज़र आईं, वहीं आरती करते हुए पुजारी भी दिखे। इस दौरान कहीं राम मंदिर की झलक दिखी तो कहीं मिथिला पेंटिंग की। पीएम मोदी की गाड़ी के ठीक आगे साफा बाँधी महिलाओं का काफिला था। बिहार में विपक्षी दलों ने जाति और आरक्षण के इर्दगिर्द इस चुनाव को घुमाने की कोशिश की गई, लेकिन पीएम मोदी ने मुस्लिम आरक्षण लेकर तमाम मुद्दों पर करारा प्रहार किया और आरक्षण पर भ्रम फैलाने वालों को जवाब दिया, लगातार अपनी जन-कल्याणकारी योजनाएँ गिनाईं।

नरेंद्र मोदी देश के पहले प्रधानमंत्री हैं, जिन्होंने पटना में रोडशो किया हो। पटना साहिब लोकसभा क्षेत्र से जहाँ पूर्व केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद भाजपा के प्रत्याशी हैं, वहीं पाटलिपुत्र से रामकृपाल यादव उम्मीदवार हैं। इस दौरान लोग अपने-अपने घरों की छतों पर खड़े होकर पीएम मोदी की एक झलक पाने को बेताब दिखे। पीएम मोदी ने अपने चुनाव प्रचार का फोकस विपक्ष के देश-विरोधी रवैये पर प्रहार के साथ-साथ अपनी गरीब-कल्याण योजनाओं को रखा है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘टेबल पर लगा सिर, पैर पकड़कर नीचे घसीटा’: विभव कुमार ने CM केजरीवाल के घर में कैसे पीटा, स्वाति मालीवाल ने अब कैमरे पर...

स्वाति मालीवाल ने बताया कि जब उन्होंने विभव कुमार को धक्का देने की कोशिश की तो उन्होंने उनका पैर पकड़ लिया और नीचे घसीट दिया।

‘भीड़ का मजहब नहीं होता’: हाईकोर्ट जस्टिस फरजंद अली ने 18 कट्टरपंथियों को दी जमानत, हिंदुओं की शोभायात्रा पर हुआ था हमला; कहा- हार्ट...

हाईकोर्ट के जज फरजंद अली ने कहा कि जब भीड़-भाड़ वाले इलाके में कोई हंगामा होता है कई लोग वहाँ पर जुट जाते हैं, कुछ उत्सुकता तो कुछ डर से जाते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -