Sunday, June 16, 2024
Homeराजनीति'अगले 20 वर्षों में विकसित राष्ट्र होगा भारत': G20 समिट से पहले PM मोदी...

‘अगले 20 वर्षों में विकसित राष्ट्र होगा भारत’: G20 समिट से पहले PM मोदी का इंटरव्यू, बोले – आतंकवाद को जड़ से उखाड़ने और भ्रष्टाचार मिटाने के लिए प्रतिबद्ध

पीएम मोदी ने कहा कि सरकार भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए भ्रष्टाचार विरोधी कानूनों को सख्त करने, भ्रष्टाचारियों पर कड़ी कार्रवाई करने और भ्रष्टाचार को रोकने के लिए जागरूकता बढ़ाने जैसे कदम उठा रही है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने न्यूज एजेंसी PTI को दिए एक्सक्लूसिव इंटरव्यू में जी-20 सम्मेलन, रूस यूक्रेन युद्ध, भारत में भ्रष्टाचार, जातिवाद और संप्रदायवाद पर चर्चा की है। पीएम मोदी ने कश्मीर, अरुणाचल में जी-20 बैठक पर पाकिस्तान और चीन की आपत्तियों को खारिज कर दिया। उन्होंने कहा कि देश के हर हिस्से में बैठकें आयोजित करना स्वाभाविक है। जी-20 के शिखर सम्मेलन से पहले उनका ये इंटरव्यू दुनिया के लिए संदेश माना जा रहा है।

भारत का विश्व कल्याण का सिद्धांत बन सकता है मार्ग दर्शक

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि लंबे समय तक भारत को एक अरब भूखे पेट वाले देश के रूप में देखा जाता था, अब यह एक अरब महत्वाकांक्षी मस्तिष्क और दो अरब कुशल हाथों वाला देश है। दुनिया का जीडीपी-केंद्रित दृष्टिकोण रहा है, अब मानव-केंद्रित दृष्टिकोण में बदल रहा है। भारत इसमें महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। प्रधानमंत्री ने कहा कि सबका साथ, सबका विकास’ विश्व कल्याण के लिए भी एक मार्गदर्शक सिद्धांत हो सकता है।

इन विषयों पर की बात

मोदी ने कहा कि भारत 2047 तक एक विकसित राष्ट्र बन जाएगा, और भ्रष्टाचार और जातिवाद का देश में कोई स्थान नहीं होगा। उन्होंने कहा कि भारत की जी20 अध्यक्षता से कई सकारात्मक प्रभाव पड़े हैं, और भारत ने वैश्विक मंच पर एक मजबूत नेतृत्व की भूमिका निभाई है। उन्होंने भारत-चीन संबंधों के बारे में कहा कि दोनों देशों को एक-दूसरे के साथ शांतिपूर्ण और सहयोगपूर्ण तरीके से रहना चाहिए।

पीएम मोदी ने इस खास साक्षात्कार में जी20 शिखर सम्मेलन, आतंकवाद, भ्रष्टाचार और अर्थव्यवस्था सहित कई मुद्दों पर अपनी बात रखी। इस दौरान उन्होंने चीन-पाक की उन आपत्तियों को खारिज कर दिया, जिसमें उन्होंने अरुणाचल प्रदेश और जम्मू-कश्मीर में जी-20 से जुड़ी बैठकों के आयोजन पर सवाल उठाए थे।

जी20 शिखर सम्मेलन

जी20 शिखर सम्मेलन के बारे में बात करते हुए, प्रधानमंत्री नरेंद्र ने कहा कि भारत इस साल होने वाले शिखर सम्मेलन में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। उन्होंने कहा कि भारत जी20 के माध्यम से वैश्विक अर्थव्यवस्था को मजबूत करने और जलवायु परिवर्तन से लड़ने के लिए काम करेगा। पीएम मोदी ने कहा कि भारत जी20 के माध्यम से आर्थिक सुधार, जलवायु परिवर्तन, आतंकवाद का मुकाबला, डिजिटलीकरण और स्वास्थ्य जैसे बेहद जरूरी मामलों पर काम कर रहा है।

पीएम मोदी ने यह भी कि भारत जी20 के माध्यम से वैश्विक समुदाय को एकजुट करने और एक बेहतर भविष्य का निर्माण करने के लिए काम करेगा।

आतंकवाद

आतंकवाद के बारे में बात करते हुए, प्रधानमंत्री ने कहा कि यह एक वैश्विक चुनौती है। उन्होंने कहा कि भारत आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में एक मजबूत सहयोगी है। पीएम ने कहा कि आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में भारत सरकार कुछ खास कदम उठा रही है, जिसमें आतंकवादियों के खिलाफ कार्रवाई, आतंकवादी संगठनों को वित्तपोषित करने वाले स्रोतों को खत्म करने और आतंकवाद के विचारों को फैलाने के खिलाफ जागरूकता बढ़ाने जैसे कदम उठा रही है। पीएम मोदी ने कहा कि भारत आतंकवाद को जड़ से उखाड़ फेंकने के लिए प्रतिबद्ध है।

भ्रष्टाचार

भ्रष्टाचार के बारे में बात करते हुए, पीएम मोदी ने कहा कि यह भारत की एक बड़ी समस्या है। उन्होंने कहा कि सरकार भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए कड़े कदम उठा रही है। पीएम मोदी ने कहा कि सरकार भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए भ्रष्टाचार विरोधी कानूनों को सख्त करने, भ्रष्टाचारियों पर कड़ी कार्रवाई करने और भ्रष्टाचार को रोकने के लिए जागरूकता बढ़ाने जैसे कदम उठा रही है। पीएम मोदी ने कि सरकार भ्रष्टाचार को मिटाने के लिए दृढ़ संकल्पित है।

अर्थव्यवस्था

अर्थव्यवस्था के बारे में बात करते हुए, मोदी ने कहा कि भारत की अर्थव्यवस्था मजबूत है, और भारत अगले 20 वर्षों में एक विकसित राष्ट्र बन जाएगा। मोदी ने कहा कि भारत की अर्थव्यवस्था पिछले कुछ वर्षों में तेजी से बढ़ी है। उन्होंने कहा कि भारत की अर्थव्यवस्था में सूचना प्रौद्योगिकी, विनिर्माण और सेवा क्षेत्र में अपार संभावनाएँ हैं। उन्होंने कहा कि भारत इसी तरह से चलता रहे, तो भारत अपनी मजबूत अर्थव्यवस्था के आधार पर अगले 20 वर्षों में एक विकसित राष्ट्र बन जाएगा।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आतंकवाद का बखान, अलगाववाद को खुलेआम बढ़ावा और पाकिस्तानी प्रोपेगेंडा को बढ़ावा : पढ़ें- अरुँधति रॉय का 2010 वो भाषण, जिसकी वजह से UAPA...

अरुँधति रॉय ने इस सेमिनार में 15 मिनट लंबा भाषण दिया था, जिसमें उन्होंने भारत देश के खिलाफ जमकर जहर उगला था।

कर्नाटक में बढ़ाए गए पेट्रोल-डीजल के दाम: लोकसभा चुनाव खत्म होते ही कॉन्ग्रेस ने शुरू की ‘वसूली’, जनता पर टैक्स का भार बढ़ा कर...

अभी तक बेंगलुरु में पेट्रोल 99.84 रुपये प्रति लीटर और डीजल 85.93 रुपये प्रति लीटर बिक रहा था, लेकिन नए आदेश के बाद बढ़ी हुई कीमतें तत्काल प्रभाव से लागू हो गई हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -