Monday, August 2, 2021
Homeबड़ी ख़बरअगस्ता वेस्टलैंड डील: ED का दावा, 2004 से 2016 के बीच ‘RG’ को ...

अगस्ता वेस्टलैंड डील: ED का दावा, 2004 से 2016 के बीच ‘RG’ को मिले ₹50 करोड़

"इटैलियन लेडी", "इटालियन लेडी का बेटा R", के नाम से, क्रिश्चियन मिशेल यूरोफाइटर की पैरवी कर रहे थे और राफ़ेल सौदे के ख़िलाफ़, कैसे उसने कॉन्ग्रेस के शासनकाल में पीएमओ तक अपनी पहुँच बनाई थी, इससे संबंधित अनेकों ख़ुलासे हुए।

प्रवर्तन निदेशालय ने दावा किया है कि संक्षिप्त रूप से ‘RG’ के नाम से जाने जाने वाले व्यक्ति को अगस्ता वेस्टलैंड सौदे के संबंध में 2004 से 2016 के बीच ₹50 करोड़ मिले हैं।

इंडिया टुडे की एक ख़बर के अनुसार, प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने आरोपी सुशेन गुप्ता को हिरासत में लेते हुए एक चौंकाने वाला ख़ुलासा किया है। सुशेन को ED ने मनी लॉन्ड्रिंग निरोधक अधिनियम (PMLA) के तहत 25 मार्च की देर रात को गिरफ़्तार किया था।

ED के आवेदन में कहा गया है, “सुशेन गुप्ता जानबूझ कर अपनी डायरी में ग़लत संक्षिप्त विवरण देकर जाँच को ग़लत ठहरा रहे हैं, जिसमें ‘RG’ का इस्तेमाल एक एब्रिवेशन (संक्षिप्त विवरण) के तौर पर कई पन्नों के अलावा पेन ड्राइव डेटा में भी मिला है।”

ED ने अपने आवेदन में कहा, “2004 से 2016 के बीच ₹50 करोड़ से अधिक की राशि ‘RG’ द्वारा प्राप्त की गई है, जबकि सुशेन गुप्ता द्वारा ‘RG’ की पहचान रजत गुप्ता के रूप में की गई, जिसके द्वारा 2007 से सुशील गुप्ता के साथ नकद लेन-देन स्वीकार किया गया था।

प्रवर्तन निदेशालय का मानना ​​है कि सुशील गुप्ता जानबूझकर उस व्यक्ति की वास्तविक पहचान का ख़ुलासा नहीं कर रहे हैं, जिसे ‘RG’ कहा जाता है। सुशेन गुप्ता ने दावा किया है कि उक्त “RG” एक रजत गुप्ता, जो राम हरि राम ज्वैलर्स का निदेशक है।

कथित तौर पर, ED ने सुशेन गुप्ता के दावों को प्रमाणित करने के प्रयास किया और रजत गुप्ता से भी पूछताछ की। हालाँकि, रजत गुप्ता ने ED को यह कहते हुए जवाब दिया कि उन्हें ’RG’ के संक्षिप्त नाम से कोई सरोकार नहीं है और इसे केवल सुशेन गुप्ता ही बता सकते हैं।

इससे पहले, ED ने एक बम गिराते हुए यह उल्लेख किया था कि केस के सिलसिले में क्रिश्चियन मिशेल से पूछताछ के दौरान श्रीमती गाँधी का भी नाम सामने आया था।

हाल ही में, सीबीआई की विशेष अदालत ने मामले में राजीव सक्सेना की याचिका को मंज़ूर कर लिया था। 1973 की दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 306 के तहत अपने आवेदन में, राजीव सक्सेना ने पूर्ण और सच्चे प्रकटीकरण के मामले में क्षमा के लिए प्रार्थना की थी।

बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल को दुबई से भारत लाए जाने के बाद से ही अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलिकॉप्टर घोटाले की जाँच में बड़ा घटनाक्रम देखने को मिला है। “इटैलियन लेडी”, “इटैलियन लेडी का बेटा R”, के नाम से, क्रिश्चियन मिशेल यूरोफाइटर की पैरवी कर रहे थे और राफ़ेल सौदे के ख़िलाफ़, कैसे उसने कॉन्ग्रेस के शासनकाल में पीएमओ तक अपनी पहुँच बनाई थी, इससे संबंधित अनेकों ख़ुलासे हुए।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मुहर्रम पर यूपी में ना ताजिया ना जुलूस: योगी सरकार ने लगाई रोक, जारी गाइडलाइन पर भड़के मौलाना

उत्तर प्रदेश में डीजीपी ने मुहर्रम को लेकर गाइडलाइन जारी कर दी हैं। इस बार ताजिया का न जुलूस निकलेगा और ना ही कर्बला में मेला लगेगा। दो-तीन की संख्या में लोग ताजिया की मिट्टी ले जाकर कर्बला में ठंडा करेंगे।

हॉकी में टीम इंडिया ने 41 साल बाद दोहराया इतिहास, टोक्यो ओलंपिक के सेमीफाइनल में पहुँची: अब पदक से एक कदम दूर

भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने टोक्यो ओलिंपिक 2020 के सेमीफाइनल में जगह बना ली है। 41 साल बाद टीम सेमीफाइनल में पहुँची है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,544FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe