Monday, May 20, 2024
Homeदेश-समाजसंदेशखाली में उमड़ा भगवा सैलाब, 'जय भवानी-जय शिवाजी' के नारों से गूँजा 4 किमी...

संदेशखाली में उमड़ा भगवा सैलाब, ‘जय भवानी-जय शिवाजी’ के नारों से गूँजा 4 किमी लंबा जुलूस: लोग बोले- बंगाल में कमल खिलना तय

बताया जा रहा है कि संदेशखाली में ये जुलूस 4 किलोमीटर तक निकाला गया और इस दौरान 'जय भवानी-जय शिवाजी' के नारे भी लगे। लोगों ने ये भीड़ देखकर कहा कि बंगाल में भाजपा का आना तय है। जल्द ही प्रदेश में कमल खिलेगा।

लोकसभा चुनावों के बीच बंगाल में पोइला बैशाख के मौके पर भारतीय जनता पार्टी की महिला मोर्चा ईकाई और बशीरहाट जिला संगठन ने संदेशखाली के राजबाड़ी इलाके में जुलूस निकाला। इस दौरान पार्टी के दिग्गज नेता सुवेंदु अधिकारी भी उनके साथ रहे। अधिकारी ने इस जुलूस की एक वीडियो को शेयर भी किया है।

वीडियो में देख सकते हैं कि काफी मात्रा में भाजपा समर्थक सड़कों पर हैं। हाथ में तिरंगे के साथ भारतीय जनता पार्टी का झंडा है और साथ में कमल का निशान है। सुवेंदु अधिकारी ने इसे शेयर करते हुए कहा- “पोइला बैशाख के शुभ अवसर पर भाजपा महिला मोर्चा और भाजपा बशीरहाट संगठनात्मक जिले ने संदेशखाली के राजबाड़ी क्षेत्र में एक रंगारंग और आनंदमय जुलूस का आयोजन किया। मैंने भी जुलूस में भाग लिया और हजारों लोगों के साथ चला। भाजपा बंगाल कार्यकर्ताओं ने, बंगाली नव वर्ष के शुभ अवसर पर लोगों से मिलकर उन्हें शुभकामानाएँ दीं।”

इस वीडियो को देखने के बाद अब हैरानी जताई जा रही है कि आखिर बंगाल में भगवे की सुनामी कहाँ से आई। कुछ लोग ये भी दावा कर रहे है कि 4 किलोमीटर तक निकाले गए इस जुलूस में लोग ‘जय भवानी-जय शिवाजी’ के जोर-जोर से नारे लगा रहे थे और शाहजहाँ और औरंगजेब के खिलाफ भी नारेबाजी की जा रही थी।

अमित ठाकुर ने लिखा, “यही तो बंगाल को बदल रहा है। पोइला बैशाक आयोजन में जनता का सैलाब उमड़ आया है। बंगाल में कमल खिलना तय है।”

सनी राज लिखते हैं- संदेशखाली में सुवेंदु अधिकारी के नेतृत्व में भगवे का लहर। तृणमूल कॉन्ग्रेस के लिए ये डराने वाले विजुल्स हैं।

अभिषेक भारद्वाज कहते हैं- संदेशखाली में भगवे की लहर देखी गई है, अब जाकर लगता है कि बंगाल के लोग बदलाव चाहते हैं।

बता दें कि बंगाल का संदेशखाली पिछले कई समय से चर्चा में था।फरवरी माह में यहाँ की महिलाओं ने टीएमसी नेता शेख शाहजहाँ के विरुद्ध आवाज बुलंद करते हुए बताया था कि किस तरीके से उनके साथ टीएमसी के गुंडे उनपर अत्याचार करके उनकी जमीन कब्जा रहे थे और उनका शोषण कर रहे थे… जब संदेशखाली की यह आवाज राष्ट्र के कोने-कोने तक पहुँची तो इस मामले पर एक्शन लिया गया और आखिर में जाकर शेख शाहजहाँ की गिरफ्तारी हुई। अब इसी जगह से भाजपा ने संदेशखाली की एक पीड़िता रेखा पात्रा को टिकट देकर चुनावी मैदान में उतारा है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

J&K के बारामुला में टूट गया पिछले 40 साल का रिकॉर्ड, पश्चिम बंगाल में सर्वाधिक 73% मतदान: 5वें चरण में भी महाराष्ट्र में फीका-फीका...

पश्चिम बंगाल 73% पोलिंग के साथ सबसे आगे है, वहीं इसके बाद 67.15% के साथ लद्दाख का स्थान रहा। झारखंड में 63%, ओडिशा में 60.72%, उत्तर प्रदेश में 57.79% और जम्मू कश्मीर में 54.67% मतदाताओं ने वोट डाले।

भारत पर हमले के लिए 44 ड्रोन, मुंबई के बगल में ISIS का अड्डा: गाँव को अल-शाम घोषित चला रहे थे शरिया, जिहाद की...

साकिब नाचन जिन भी युवाओं को अपनी टीम में भर्ती करता था उनको जिहाद की कसम दिलाई जाती थी। इस पूरी आतंकी टीम को विदेशी आकाओं से निर्देश मिला करते थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -