Sunday, June 16, 2024
Homeराजनीति'रामराज को हटाना है, साधु के वेश में आतंकी': सपा नेता स्वामी प्रसाद मौर्य...

‘रामराज को हटाना है, साधु के वेश में आतंकी’: सपा नेता स्वामी प्रसाद मौर्य के बयान पर साधु-संतों ने दिया करारा जवाब, पूछा – सनातन को ही क्यों बनाते हैं निशाना?

"आप लोगों ने हिंदुओं को पढ़ने लिखने से वंचित कर दिया था। हिंदू समाज के किसी भी नारी को आप लोगों ने पढ़ने लिखने का अधिकार नहीं दिया।

समाजवादी पार्टी के नेता स्वामी प्रसाद मौर्य ने अपनी हिन्दू विरोधी घृणा को प्रदर्शित करने हुए फिर से बयान दिया है। साथ ही उन्होंने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को लेकर भी विवादित टिप्पणी की है। उन्होंने रविवार (21 मई, 2023) को तथागत बुद्ध जयंती के कार्यक्रम में ‘हिन्दू राष्ट्र’ को लेकर भी अपनी भड़ास निकाली। उन्होंने दावा किया कि ‘साधु के वेश में आतंकी’ जब उनकी हत्या की बात कर रहे थे, तब योगी सरकार कानून व्यवस्था की दुहाई देते हुए शांत बैठी हुई थी।

स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा, “आज सत्ता पक्ष के एक नेता के द्वारा बयान दिया जा रहा है कि देश में हिंदुओं की संख्या घट रही है और मुस्लिमों की जनसंख्या बढ़ रही है। किस बात का हिंदू? हिंदू नीच होने के लिए? हिंदू आप की गुलामी करने के लिए? आज आप लोगों को हिंदुओं के चिंता सता रही है। आप लोगों ने हिंदुओं को पढ़ने लिखने से वंचित कर दिया था। हिंदू समाज के किसी भी नारी को आप लोगों ने पढ़ने लिखने का अधिकार नहीं दिया।

स्वामी प्रसाद मौर्य ने दावा किया कि ‘हम सब एक हैं’ की भावना अगर आप में होती तो भारत कभी गुलाम नहीं होता। उन्होंने बौद्ध और सिख धर्म के प्रादुर्भाव को भी हिन्दू विरोध से जोड़ने की कोशिश की। स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि ‘हिन्दू राष्ट्र’ की माँग भारत विरोधी है। उन्होंने रामराज को हटाने की बात भी की। रामचरितमानस का अपमान करने के बाद हुई आलोचना को उन्होंने धमकी करार देते हुए आलोचकों को आतंकी बताया।

वहीं स्वामी प्रसाद मौर्य के इस बयान पर साधु-संतों ने भी मोर्चा खोल दिया है। उनके ‘आरक्षण हटाने की साजिश’ वाले प्रलाप पर भी उन्हें जवाब मिला है। हनुमानगढ़ी के महंत राजू दास ने पूछा कि स्वामी प्रसाद मौर्य हमेशा हिन्दू धर्म को निशाना क्यों बनाते हैं? उन्होंने कहा कि रामराज में भगवान श्रीराम ने सबको गले लगाया। रामलला के मुख्य पुजारी आचार्य सत्येंद्र दास ने स्वामी प्रसाद के बयान को राजनीतिक बताते हुए उन्हें मूर्ख और पागल करार दिया। साथ ही कहा कि उन्हें ज्ञान नहीं है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आतंकवाद का बखान, अलगाववाद को खुलेआम बढ़ावा और पाकिस्तानी प्रोपेगेंडा को बढ़ावा : पढ़ें- अरुँधति रॉय का 2010 वो भाषण, जिसकी वजह से UAPA...

अरुँधति रॉय ने इस सेमिनार में 15 मिनट लंबा भाषण दिया था, जिसमें उन्होंने भारत देश के खिलाफ जमकर जहर उगला था।

कर्नाटक में बढ़ाए गए पेट्रोल-डीजल के दाम: लोकसभा चुनाव खत्म होते ही कॉन्ग्रेस ने शुरू की ‘वसूली’, जनता पर टैक्स का भार बढ़ा कर...

अभी तक बेंगलुरु में पेट्रोल 99.84 रुपये प्रति लीटर और डीजल 85.93 रुपये प्रति लीटर बिक रहा था, लेकिन नए आदेश के बाद बढ़ी हुई कीमतें तत्काल प्रभाव से लागू हो गई हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -