Thursday, May 30, 2024
Homeराजनीति'बुर्के में होने से मर्दों का मन नहीं मचलता, नहीं तो लोग बुरी नजर...

‘बुर्के में होने से मर्दों का मन नहीं मचलता, नहीं तो लोग बुरी नजर से देखेंगे’: सपा MP ने शफीकुर्रहमान बर्क ने किया अलकायदा की तरह हिजाब का समर्थन

"मैं हिजाब के पक्ष में हूँ। इस्लाम कहता है कि लड़की को हिजाब में रहना चाहिए। अगर लड़की पर्दे में नहीं रहेगी तो उससे खतरा पैदा होता है। पर्दे में होगी तो उसके जिस्म का हिस्सा ढंका रहेगा। अन्यथा खुले हुए में लोग उसे बुरी नजर से देखेंगे। इससे हालात बिगड़ेंगे।"

कर्नाटक में हुए हिजाब विवाद के लिए बीजेपी और सरकार को जिम्मेदार बताते हुए उत्तर प्रदेश के संभल से समाजवादी पार्टी के सांसद शफीकुर्रहमान बर्क ने जहर उगला है। बर्क ने हिजाब को इस्लाम का अभिन्न अंग करार दिया और तर्क दिया कि जब लड़कियाँ हिजाब में रहती हैं तो उनका जिस्म ढंका रहता है और इससे मर्दों का मन नहीं मचलता। हिजाब पहनने से रेप की घटनाओं में कमी आएगी।

रिपब्लिक टीवी को दिए इंटरव्यू में सपा के मुस्लिम सांसद ने हिजाब को लेकर अलकायदा प्रमुख के बयान पर कहा, “ये तो अलकायदा वाले जानें, मुझे इससे मतलब नहीं है। हिजाब इस्लाम में जरूरी है और ये एक मजहबी मामला है। कोई सरकारी मसला नहीं है। इस पर सरकार या फिर कर्नाटक के लोगों ने जो भी किया है वो गलत है। इस्लाम कहता है कि जब एक लड़की जवान हो जाए तो वो पर्दे में रहनी चाहिए। अगर वो स्कूल या कॉलेज में हिजाब पहनकर जाती है तो उसमें क्या बुराई है। इस्लाम में हिजाब जरूरी है।”

हिजाब विवाद सरकार की साजिश है। इस तरह के मजहबी मुद्दों पर दखल देना सरकार का काम नहीं है। सपा सांसद ने आगे कहा, “मैं हिजाब के पक्ष में हूँ। इस्लाम कहता है कि लड़की को हिजाब में रहना चाहिए। अगर लड़की पर्दे में नहीं रहेगी तो उससे खतरा पैदा होता है। पर्दे में होगी तो उसके जिस्म का हिस्सा ढंका रहेगा। अन्यथा खुले हुए में लोग उसे बुरी नजर से देखेंगे। इससे हालात बिगड़ेंगे।”

बर्क ने यूरोपीय सभ्यता औऱ भारतीय सभ्यता की तुलना करते हुए कहा कि आज भी यहाँ महिलाएँ पर्दे में रहती हैं, जबकि यूरोप में तो सबकुछ खुला रहता है। सपा सांसद का दावा है कि अगर महिलाएँ पर्दे में रहेंगी तो इससे उनके खिलाफ होने वाले अत्याचार में कमी आएगी। हिजाब में रहने से बलात्कार, छेड़छाड़ जैसी घटनाओं में कमी आएगी।

बाबर अली की हत्या का किया था समर्थन

इससे पहले शफीकुर्रहमान बर्क ने कुशीनर में बाबर अली की हत्या किए जाने का समर्थन किया था। बर्क ने कुतर्क दिया था कि भाजपा का समर्थन करना बाबर की गलती थी, उस पर बीजेपी की जीत का जश्न मनाना बड़ी गलती थी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

T20 वर्ल्ड कप में भारत-पाकिस्तान मैच पर हो सकता है ‘लोन वुल्फ अटैक’, जानिए आतंकी इसे कैसे देते हैं अंजाम: ISIS खुरासान ने दी...

इस्लामी आतंकी संगठन ISIS खुरासान ने भारत पाकिस्तान मैच पर हमले की धमकी दी है। इस मैच के दौरान 'लोन वुल्फ' हमले की धमकी दी गई है।

पीड़ितों को पहचान दे रहा CAA: उत्तराखंड, बंगाल और हरियाणा में भी पाकिस्तान से आए हिंदुओं को मिली भारतीय नागरिकता, दिल्ली में भी बँट...

नागरिकता संशोधन कानून के तहत मोदी सरकार ने बंगाल, हरियाणा और उत्तराखंड में पड़ोसी मुल्कों से आए हिंदुओं को भारत की नागरिकता देना शुरू कर दिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -