‘बापू-बापू’ कहकर फूट-फूटकर रोने लगे सपा नेता फिरोज खान, लोगों ने कहा- 50 रुपए काट लो ओवरएक्टिंग के

सपा जिलाअध्यक्ष फिरोज खान और अन्य पदाधिकारी बापू की याद में विलाप करने लगे। कई लोग इस दौरान सपा नेता को ढांढस बँधाते भी नजर आए। लेकिन। फिरोज खान लगातार कहते रहे, "बापू आप कहाँ चले गए... आपने इतने बड़े देश को आजाद कराया और हमें आनाथ बनाकर चले गए।"

गाँधी जयन्ती के अवसर पर कल हर किसी ने राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी को याद किया। आमजनों से लेकर हर राजनैतिक पार्टी से जुड़े शख्स ने उन्हें श्रद्धांजलि दी। इसी बीच कल सोशल मीडिया पर संभल से सपा के कुछ नेताओं का वीडियो वायरल होने लगा। जिसमें दिखा कि वे बापू की प्रतिमा के आगे फूट-फूटकर रो रहे हैं।

जानकारी के मुताबिक ये नेता महात्मा गाँधी की प्रतिमा के पास श्रद्धासुमन अर्पित करने पहुँचे थे, लेकिन इसी बीच ये इतने भावुक हो गए कि बापू-बापू करते हुए प्रतिमा पकड़कर रोने लगे।

बताया जा रहा है कि ये मामला चंदौसी कोतवाली क्षेत्र के फव्वारा चौक का है। जहाँ सपा जिलाअध्यक्ष फिरोज खान और अन्य पदाधिकारी पहुँचे जरूर, लेकिन थोड़ी देर में बापू की याद में विलाप करने लगे। कई लोग इस दौरान जिलाध्यक्ष का ढांढस भी बँधाते नजर आए और फिरोज खान लगातार कहते रहे, “बापू आप कहाँ चले गए… आपने इतने बड़े देश को आजाद कराया और हमें आनाथ बनाकर चले गए।”

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

आजतक की खबर के मुताबिक बापू की प्रतिमा के आगे जिला अध्यक्ष करीब एक मिनट तक फफक-फफक के रोए और फिर अगला कार्यकर्म यानी सफाई का काम शुरू किया। इस दौरान पार्टी कार्यकर्ताओं ने आस-पास से एक ठेले का इंतजाम किया, लेकिन खबर के अनुसार यहाँ सपा कार्यकर्ता सफाई कम और फोटो ज्यादा खिंचाते नजर आए।

इस कार्यक्रम के दौरान फिरोज खान ने प्रदेश सरकार पर भी जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा, “स्वच्छ भारत मिशन के तहत भाजपा लाखों रुपए डकार रही है। आज इस देश में लूट खसोट मची हुई हैं, इसलिए बापू को याद करके मेरी आँखें भर आईं। मैं बहुत रोया हूँ।”

हालाँकि, बता दें सपा नेता का ये वीडियो सोशल मीडिया पर जैसे ही वायरल हुआ, लोगों ने उनकी भावनाओं की कद्र न करते हुए उनका मजाक उड़ाना शुरू कर दिया। लोग उनके इस दुख को खराब एक्टिंग बताने लगे। बापू की तस्वीर के साथ तरह-तरह के मीम्स शेयर किए जाने लगे, ‘ओवरएक्टिंग के लिए 50 रुपए काट’ जैसी बात भी कई यूजर्स ने कही।

लोगों ने ये भी कहा कि ये सब ड्रामेबाजी है, अगर इनकी इनकी ठीक से जाँच की जाए तो देश के पैसे से चोरी की करोड़ों की संपत्ति और बैंक बैलेंस निकलेंगे, इनके बच्चे विदेशी शिक्षा प्राप्त करते मिलेंगे और ये यहाँ जनता को मूर्ख बनाकर फिर से सत्ता में आने और चोरी करने की रणनीति बना रहे है।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

जेएनयू छात्र विरोध प्रदर्शन
गरीबों के बच्चों की बात करने वाले ये भी बताएँ कि वहाँ दो बार MA, फिर एम फिल, फिर PhD के नाम पर बेकार के शोध करने वालों ने क्या दूसरे बच्चों का रास्ता नहीं रोक रखा है? हॉस्टल को ससुराल समझने वाले बताएँ कि JNU CD कांड के बाद भी एक-दूसरे के हॉस्टल में लड़के-लड़कियों को क्यों जाना है?

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

112,491फैंसलाइक करें
22,363फॉलोवर्सफॉलो करें
117,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: