Tuesday, October 19, 2021
Homeराजनीति'बलात्कारी को टिकट दिया, थप्पड़ मार कर सुकून मिला' - कॉन्ग्रेसी नेताओं में हाथापाई,...

‘बलात्कारी को टिकट दिया, थप्पड़ मार कर सुकून मिला’ – कॉन्ग्रेसी नेताओं में हाथापाई, महिला नेता ने भी कूटा

“पार्टी ने एक गलत व्यक्ति को टिकट दिया है, वह नेता (मुकुंद भास्कर मणि) बलात्कारी है। यह बात कहने की वजह से मेरे साथ अभद्र व्यवहार और मारपीट हुई।”

उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले के टाउन हॉल स्थित कॉन्ग्रेस कार्यालय में शनिवार (10 अक्टूबर 2020) को बैठक आयोजित की गई थी। इस बैठक में कॉन्ग्रेस प्रत्याशी मुकुंद भास्कर मणि का स्वागत होना था। इस दौरान कॉन्ग्रेस की ही तारा यादव का राष्ट्रीय सचिव सचिन नायक से विवाद हो गया। विवाद बहुत जल्द हाथापाई में बदल गया, जिसमें साफ़ देखा जा सकता है कि कई कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं ने तारा यादव को पीट दिया। यह वीडियो काफी चर्चा में बना हुआ है। 

दरअसल उत्तर प्रदेश की 7 विधानसभा सीटों पर आगामी 3 नवंबर को चुनाव होने वाले हैं, देवरिया सदर सीट इनमें से एक है। मुकुंद भास्कर मणि इस विधानसभा सीट से उम्मीदवार बनाए गए थे, उनके स्वागत के लिए कॉन्ग्रेस कार्यालय में बैठक आयोजित की गई थी।

इस बैठक में राष्ट्रीय सचिव और प्रदेश प्रभारी सचिन नायक भी शामिल हुए थे। संगठन की इस बैठक में चुनावी रणनीति पर भी चर्चा होनी थी। तभी पार्टी नेत्री तारा यादव कार्यालय में गुलदस्ता लेकर पहुँची और उनकी सचिन नायक से बहस शुरू हो गई। ख़बरों के मुताबिक़ वह चुनाव के लिए पार्टी टिकट नहीं मिलने की वजह से नाराज़ थीं। 

बहस के दौरान तारा यादव ने कॉन्ग्रेस के राष्ट्रीय सचिव को धक्का दिया, जिसके बाद उन्होंने भी पार्टी नेत्री को थप्पड़ जड़ दिया। वायरल वीडियो में साफ़ देखा जा सकता है कि इसके बाद कई अन्य कार्यकर्ताओं ने उनसे मारपीट शुरू कर दी। जल्द ही वहाँ मौजूद अन्य कार्यकर्ता उन्हें कार्यालय से बाहर लेकर गए। बाहर निकलने के बावजूद कॉन्ग्रेस नेत्री तारा यादव चिल्ला कर विरोध कर रही थीं। इसके अलावा बाहर निकलने पर उन्होंने कहा कि थप्पड़ मार कर सुकून मिल गया। 

एक समाचार समूह से बात करते हुए उन्होंने कहा, “पार्टी ने एक गलत व्यक्ति को टिकट दिया है, वह नेता (मुकुंद भास्कर मणि) बलात्कारी है। मैंने राष्ट्रीय सचिव से यही कहा था कि उन्होंने एक गलत व्यक्ति को टिकट दिया है। इस कदम से संगठन की छवि पर प्रभाव पड़ेगा, यह टिकट किसी और को दिया जाना चाहिए। कोई ऐसा जिसका चरित्र और तौर तरीका बेहतर हो, यह बात कहने की वजह से मेरे साथ अभद्र व्यवहार और मारपीट हुई।”       

घटना के बाद तारा यादव ने कॉन्ग्रेस जिलाध्यक्ष समेत 4 नामजद और अन्य के विरुद्ध मारपीट व छेड़खानी का मामला दर्ज कराया है। वहीं कॉन्ग्रेस के अन्य कार्यकर्ताओं का कहना है कि तारा यादव देवरिया सदर विधानसभा सीट पर होने वाले उपचुनावों के लिए टिकट माँग रही थीं। इस सीट से लगभग डेढ़ दर्जन उम्मीदवार थे और टिकट किसी और को ही दिया जा सकता था। इस बात से नाराज़ होकर कॉन्ग्रेस नेत्री ने पार्टी के ही राष्ट्रीय सचिव के साथ अभद्र व्यवहार किया। उनके द्वारा लगाए गए सभी आरोप सरासर गलत हैं।  

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पाकिस्तान हारे भी न और टीम इंडिया गँवा दे 2 अंक: खुद को ‘देशभक्त’ साबित करने में लगे नेता, भूले यह विश्व कप है-द्विपक्षीय...

सृजिकल स्ट्राइक का सबूत माँगने वाले और मंच से 'पाकिस्तान ज़िंदाबाद' का नारा लगवाने वाले भारत-पाकिस्तान क्रिकेट मैच रद्द कराने की माँग कर 'देशभक्त' बन जाएँगे?

धर्मांतरण कराने आए ईसाई समूह को ग्रामीणों ने बंधक बनाया, छत्तीसगढ़ की गवर्नर का CM को पत्र- जबरन धर्म परिवर्तन पर हो एक्शन

छत्तीसगढ़ के दुर्ग में ग्रामीणों ने ईसाई समुदाय के 45 से ज्यादा लोगों को बंधक बना लिया। यह समूह देर रात धर्मांतरण कराने के इरादे से पहुँचा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,980FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe