Saturday, June 15, 2024
Homeराजनीति'भारत की समृद्ध परंपरा के प्रसार में सेक्युलरिज्म सबसे बड़ा खतरा': CM योगी की...

‘भारत की समृद्ध परंपरा के प्रसार में सेक्युलरिज्म सबसे बड़ा खतरा’: CM योगी की बात से लिबरल गिरोह को सूँघा साँप

"ये सेक्युलरिज्म जो शब्द है- ये सबसे बड़ा खतरा है भारत की समृद्ध परम्पराओं को आगे बढ़ाने और वैश्विक मंच पर स्थान दिलाने में। ये सबसे बड़ी बाधा है। रूस में भी रामलीला का मंचन होता है। कई देशों में उनकी रामलीला है। दुनिया के सभी देशों को जोड़ कर हमें इसे आगे बढ़ाना है।"

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रामायण विश्व महाकोश (ग्लोबल इनसाइक्लोपीडिया ऑफ द रामायण) की कर्टेन रेजर पुस्तक का विमोचन किया। इस अवसर पर सम्बोधन देते हुए उन्होंने सेक्युलरिज्म पर कुछ ऐसी बातें कही, जो लिबरल गिरोह को चुभ सकती है। उन्होंने कम्बोडिया के अंकोर वाट मंदिर के एक युवक की चर्चा की, जिसने उन्हें भगवान हनुमान के बारे में समझाया था। उन्होंने कहा कि वो बौद्ध था, लेकिन उसे पता था कि मूल रूप से वो हिन्दू है।

मुख्यमंत्री ने आगे कहा, “यहाँ इस तरह की चर्चा करने पर बहुत सारे लोगों के सेक्युलरिज्म को खतरा पैदा हो जाता है। ये सेक्युलरिज्म जो शब्द है- ये सबसे बड़ा खतरा है भारत की समृद्ध परम्पराओं को आगे बढ़ाने और वैश्विक मंच पर स्थान दिलाने में। ये सबसे बड़ी बाधा है। रूस में भी रामलीला का मंचन होता है। कई देशों में उनकी रामलीला है। दुनिया के सभी देशों को जोड़ कर हमें इसे आगे बढ़ाना है।”

ऊपर संलग्न किए गए वीडियो में आप 8:00 के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा सेक्युलरिज्म पर की जा रही बातों को सुन सकते हैं। सीएम ने कहा कि भगवान श्रीराम की परम्परा के माध्यम से भारत की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत को वैश्विक मंच पर स्थापित किया जाना चाहिए और इस कार्य में सभी भाषाओं, लोक परम्पराओं, लोककथाओं में भगवान श्रीराम के संबंध में उपलब्ध सामग्री का उपयोग किया जाना चाहिए।

उन्होंने कहा कि भगवान श्रीराम व रामायण के संबंध में जनसामान्य व संग्रहालयों आदि में उपलब्ध पांडुलिपियों को संग्रहित कर डिजिटल फॉर्म में लाने का प्रयास किया जाना चाहिए। यह प्रयास स्थानीय व राज्य स्तर के साथ-साथ वैश्विक स्तर पर भी किए जाने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम ने भगवान विष्णु का अवतार होने के बावजूद खुद को मानव से इतर प्रकट करने का प्रयास नहीं किया और उन्होंने मानवीय मर्यादाओं के अंदर ही अपनी लीलाओं को रचा, यही राम जी की महानता है।

सीएम योगी ने कहा, “ग्लोबल इनसाइक्लोपीडिया ऑफ रामायण प्रकृति और परमात्मा के समन्वय को दर्शाने का कार्य करेगा। यह विज्ञान और अध्यात्म के अनेक अनछुए पहलुओं को जानने का अवसर भी प्रदान करेगा।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आतंकवाद का बखान, अलगाववाद को खुलेआम बढ़ावा और पाकिस्तानी प्रोपेगेंडा को बढ़ावा : पढ़ें- अरुँधति रॉय का 2010 वो भाषण, जिसकी वजह से UAPA...

अरुँधति रॉय ने इस सेमिनार में 15 मिनट लंबा भाषण दिया था, जिसमें उन्होंने भारत देश के खिलाफ जमकर जहर उगला था।

कर्नाटक में बढ़ाए गए पेट्रोल-डीजल के दाम: लोकसभा चुनाव खत्म होते ही कॉन्ग्रेस ने शुरू की ‘वसूली’, जनता पर टैक्स का भार बढ़ा कर...

अभी तक बेंगलुरु में पेट्रोल 99.84 रुपये प्रति लीटर और डीजल 85.93 रुपये प्रति लीटर बिक रहा था, लेकिन नए आदेश के बाद बढ़ी हुई कीमतें तत्काल प्रभाव से लागू हो गई हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -