Wednesday, April 17, 2024
Homeराजनीतिअब सांसदों पर निगरानी रखना होगा आसान, सुमित्रा महाजन ने इस वेबसाइट का किया...

अब सांसदों पर निगरानी रखना होगा आसान, सुमित्रा महाजन ने इस वेबसाइट का किया लोकार्पण

पार्लियामेंट्री बिजनेस डॉट कॉम वेबसाइट के जरिये जनता और सांसदों के बीच संवाद को आसान बनाया जाएगा।

लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने सांसदों पर निगरानी रखने के लिए एक ऑनलाइन वेबसाइट का लोकार्पण किया है। इस वेबसाइट के जरिये जनता सीधे अपने जनप्रतिनिधियों से जुड़ सकेगी। इस वेबसाइट का नाम पार्लियामेंट्री बिजनेस डॉट कॉम दिया गया है। इस वेबसाइट की जिम्मेदारी प्रबंध संपादक के रूप में नीरज गुप्ता को दी गई है। नीरज गुप्ता ने लोकार्पण के दौरान बताया कि इस वेबसाइट के लांच होने के बाद जनता द्वारा चुने गए प्रतिनिधियों की जवाबदेही तय होगी।

संवाद आसान बनाने की पहल

इस वेबसाइट के जरिये जनता और सांसदों के बीच संवाद को आसान बनाया जाएगा। इस वेबसाइट पर लॉगिन के बाद आप अपने क्षेत्र के सांसद को किसी भी समस्या से अवगत करा सकते हैं। इस तरह अपनी बात को जनप्रतिनिधियों के सामने रखने के लिए आपको कहीं भी जाने की जरूरत नहीं है।  

सदन की कार्यवाही का हर पल अपडेट

आपको बता दें कि सदन से जुड़ी जानकारी के लिए सत्र खत्म होने का इंतजार नहीं करना होगा। इस वेबसाइट के जरिये देश भर के सांसद जुड़े होंगे। इन सांसदों के काम-काज से लेकर सदन के हर पल की जानकारी वेबसाइट पर अपडेट होगी। यदि आप अपने क्षेत्र के सांसद के कामकाज के बारे में जानना चाहते हैं, तो आप उनके नाम या लोकसभा क्षेत्र पर क्लिक करने के बाद उनसे जुड़ी जनकारी को देख सकेंगे। किसी भी सांसदों के द्वारा पूछे गए सवाल और उनके जवाब को भी आप पढ़ सकते हैं।

सांसद के परफॉर्मेंस को जांचने का माध्यम

इस वेबसाइट के जरिये देश भर के सांसदों के कामकाज का भी आकलन किया जाएगा। बेस्ट सांसद का चुनाव इस आधार पर होगा कि किसी सांसद ने अपने मद से कितने रूपए जनकल्याण या विकास कार्यों के लिए खर्च किया है,या किस सांसद ने अपने क्षेत्रीय समस्या को सही तरह से हल करने का प्रयास किया है। इस तरह साल में एक बार सांसदों के कामकाज सांसद में उपस्थिति आदि के आधार पर एक रैंकिंग लिस्ट जारी की जाएगी।  

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

शंख का नाद, घड़ियाल की ध्वनि, मंत्रोच्चार का वातावरण, प्रज्जवलित आरती… भगवान भास्कर ने अपने कुलभूषण का किया तिलक, रामनवमी पर अध्यात्म में एकाकार...

ऑप्टिक्स और मेकेनिक्स के माध्यम से भारत के वैज्ञानिकों ने ये कमाल किया। सूर्य की किरणों को लेंस और दर्पण के माध्यम से सीधे राम मंदिर के गर्भगृह में रामलला के मस्तक तक पहुँचाया गया।

18 महीने में होती थी जितनी बारिश, उतना पानी 1 दिन में दुबई में बरसा: 75 साल का रिकॉर्ड टूटने से मध्य-पूर्व के रेगिस्तान...

दुबई, ओमान और अन्य खाड़ी देशों में मंगलवार को एकाएक हुई रिकॉर्ड बारिश ने भारी तबाही मचाई है। ओमान में 19 लोगों की मौत भी हो गई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe