‘ढाई किलो के हाथ’ ने थामा कमल का साथ, विनोद खन्ना वाली सीट से लड़ सकते हैं चुनाव

दो दिन पहले सनी देओल और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की मुलाकात एयरपोर्ट पर हुई थी। दोनों के बीच बातचीत 5 मिनट तक चली। उसके बाद से ही अनुमान लगाया जा रहा था कि...

बॉलीवुड कलाकार सनी देओल आज 23 अप्रैल 2019 को भाजपा में शामिल हो गए। मंगलवार को दिल्ली स्थित पार्टी हेडक्वार्टर में उनको पार्टी की सदस्यता दी गई। खबरों के मुताबिक पार्टी हेडक्वार्टर में रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने उन्हें पार्टी में शामिल होने की पर्ची दी। साथ ही गुलदस्ते के साथ उनका स्वागत किया।

इस मौक़े पर मौजूद रहे केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि कई सालों का पारिवारिक संबंध अब राजनीतिक संबंध बनने जा रहा है। उन्होंने कहा, “साल 2008 में धर्मेंद्र पार्टी के सांसद थे, अब उनके पुत्र सनी देओल भी जनता के बीच रहकर अपनी राजनीतिक छाप लोगों के बीच छोड़ेंगे।”

पीयूष गोयल ने सनी का मनोबल बढ़ाते हुए कहा कि जिस तरह उन्होंने फिल्मों के जरिए सुरक्षाबलों का उत्साह बढ़ाया है, उसी प्रकार वे राजनैतिक जीवन में भी अपनी पारी को आगे बढ़ाएँगे।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

एनडीटीवी इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक सनी देओल ने पार्टी में शामिल होने के दौरान कहा, “जिस तरह से मेरे पापा इस परिवार के साथ जुड़े थे, उन्होंने अटल जी के साथ काम किया, आज मैं मोदी जी के साथ जुड़ रहा हूँ, मैं मोदी जी से जुड़ने आया हूँ। आज मोदी जी ने जिस तरह से पाँच सालों में काम किया है, इसलिए मैं चाहता हूँ कि अगले पाँच साल तक मोदी जी ही पीएम रहें। क्योंकि हम विकास चाहते हैं। मैं इस परिवार की सेवा करूँगा। 

बता दें अभी दो दिन पहले सनी देओल और भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की मुलाकात एयरपोर्ट पर हुई थी। दोनों के बीच बातचीत 5 मिनट तक चली। उसके बाद से ही अनुमान लगाया जा रहा था कि वे भाजपा में शामिल हो सकते हैं। चूँकि अब वे पार्टी की सदस्यता ले चुके हैं तो कयास लगाए जा रहे हैं कि भाजपा उन्हें गुरदासपुर से प्रत्याशी बनाकर उतार सकती है।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

"ज्ञानवापी मस्जिद पहले भगवान शिव का मंदिर था जिसे मुगल आक्रमणकारियों ने ध्वस्त कर मस्जिद बना दिया था, इसलिए हम हिंदुओं को उनके धार्मिक आस्था एवं राग भोग, पूजा-पाठ, दर्शन, परिक्रमा, इतिहास, अधिकारों को संरक्षित करने हेतु अनुमति दी जाए।"

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

154,743फैंसलाइक करें
42,954फॉलोवर्सफॉलो करें
179,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: