Monday, May 20, 2024
Homeराजनीतिगुंडागर्दी पर उतरी पंजाब पुलिस, ये अपहरण नहीं तो क्या? : तेजिंदर बग्गा की...

गुंडागर्दी पर उतरी पंजाब पुलिस, ये अपहरण नहीं तो क्या? : तेजिंदर बग्गा की गिरफ्तारी पर माँ ने केजरीवाल पर साधा निशाना, पिता ने दर्ज कराई शिकायत

“मैंने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है कि मुझे पंजाब पुलिस के जवानों ने पीटा। मैंने अभी तक तेजिंदर से बात नहीं की है। मैं दिल्ली पुलिस को उनके सहयोग के लिए धन्यवाद देता हूँ।”

बीजेपी नेता तेजिंदर पाल सिंह बग्गा (Tajinder Pal Singh Bagga) को हरियाणा के कुरुक्षेत्र से दिल्ली लाया जा रहा है। हरियाणा पुलिस ने बग्गा को दिल्ली पुलिस को सौंप दिया है और पंजाब पुलिस खाली हाथ रह गई है। इधर, आम आदमी पार्टी के दफ्तर के बाहर विरोध प्रदर्शन भी जारी है। वहीं पूरा मामला पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट पहुँच गया है। हाई कोर्ट ने सभी पक्षों को जवाब दाखिल करने के आदेश दिए हैं।

इस बीच बग्गा के माता-पिता ने पंजाब पुलिस पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं। बग्गा के पिता प्रीतपाल सिंह ने इस संबंध में पुलिस के समक्ष शिकायत दर्ज करवाई है। उन्होंने ANI से बात करते हुए कहा, “मैंने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है कि मुझे पंजाब पुलिस के जवानों ने पीटा। मैंने अभी तक तेजिंदर से बात नहीं की है। मैं दिल्ली पुलिस को उनके सहयोग के लिए धन्यवाद देता हूँ।”

इससे पहले इस घटनाक्रम पर तेजिंदर बग्गा के पिता ने ऑपइंडिया से बात करते हुए बताया था, “पहले मेरे घर में 2 पुलिसकर्मी घुसे। वो मुझ से सामान्य ढंग से बात कर रहे थे। उस समय घर पर तेजिंदर और उनके अलावा कोई नहीं था। उसी समय तेजिंदर कपड़े पहन कर बाहर आए। थोड़ी बातचीत के बाद कई पुलिसकर्मी मेरे घर में जबरन घुस गए। उनके इस काम की मैं वीडियो बनाने लगा। इसी दौरान एक पुलिसकर्मी मुझे खींच कर कमरे की तरफ ले गया और मुझ से हाथापाई की।”

तेजिंदर के पिता ने आगे बताया, “इसके बाद वो तेजिंदर को खींच कर बाहर ले गए और हिरासत में ले लिया। पुलिसकर्मियों ने बग्गा को उनकी पगड़ी तक नहीं पहनने दी, जबकि उसने इसे पहनने की गुजारिश की। पुलिस वाले बग्गा का फोन भी अपने साथ ले गए।”

वहीं भारतीय जनता युवा मोर्चा (BJYM) के राष्ट्रीय सचिव, तजिंदर बग्गा की माँ कमलजीत कौर का कहना है पुलिसकर्मियों ने उन्हें जबरन खींच लिया। कौर ने कहा, “उन्होंने (बग्गा को) उनकी पगड़ी पहनने का समय भी नहीं दिया।” कमलजीत कौर ने यह भी आरोप लगाया कि पंजाब पुलिस ने न तो प्रोटोकॉल का पालन किया और न ही बग्गा की गिरफ्तारी से संबंधित कोई दस्तावेज पेश किया और न ही उन्होंने स्थानीय पुलिस इकाई को इसके बारे में सूचित किया। उन्हेंने सवाल करते हुए पूछा, “पंजाब पुलिस ने ‘गुंडों’ की तरह काम किया, आम आदमी के पोशाक में पहुँचे और उसे ले गए। यह अपहरण नहीं तो और क्या है?” 

उन्होंने ANI से बात करते हए कहा, “हमने कहा कि किसी की पीड़ा का मजाक उड़ाना और कश्मीर फाइल्स का मजाक उड़ाना सही नहीं है और उन्हें (AAP) माफी माँगनी चाहिए। उन्होंने माफी नहीं माँगी, उन्होंने (तेजिंदर बग्गा) कहा कि भाजयुमो उन्हें शांति से नहीं रहने देगा। उन्होंने (अरविंद केजरीवाल) उनके (तजिंदर बग्गा) खिलाफ FIR दर्ज की कि वह उन्हें जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। पंजाब पुलिस उनके हाथ में है तो वह इस तरह की गुंडागर्दी करेंगे।”

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को संबोधित करते हुए बग्गा की माँ ने उन्हें ‘गुंडागर्दी’ नहीं करने की चेतावनी दी। उन्होंने कहा, “अगर आपको कोई समस्या है, तो दिल्ली पुलिस में उचित तरीके से FIR दर्ज करवाएँ। हम अदालत में सही से केस लड़ेंगे। सही और गलत का फैसला कानूनी रूप से किया जाएगा।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

भारत में 1300 आइलैंड्स, नए सिंगापुर बनाने की तरफ बढ़ रहा देश… NDTV से इंटरव्यू में बोले PM मोदी – जमीन से जुड़ कर...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आँकड़े गिनाते हुए जिक्र किया कि 2014 के पहले कुछ सौ स्टार्टअप्स थे, आज सवा लाख स्टार्टअप्स हैं, 100 यूनिकॉर्न्स हैं। उन्होंने PLFS के डेटा का जिक्र करते हुए कहा कि बेरोजगारी आधी हो गई है, 6-7 साल में 6 करोड़ नई नौकरियाँ सृजित हुई हैं।

कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं ने अपने ही अध्यक्ष के चेहरे पर पोती स्याही, लिख दिया ‘TMC का एजेंट’: अधीर रंजन चौधरी को फटकार लगाने के बाद...

पश्चिम बंगाल में कॉन्ग्रेस का गठबंधन ममता बनर्जी के धुर विरोधी वामदलों से है। केरल में कॉन्ग्रेस पार्टी इन्हीं वामदलों के साथ लड़ रही है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -