Saturday, May 21, 2022
Homeराजनीतितेजिंदर बग्गा को मेडिकल जाँच के लिए दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल ले गई दिल्ली...

तेजिंदर बग्गा को मेडिकल जाँच के लिए दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल ले गई दिल्ली पुलिस, जज के घर में हुई पेशी: जानिए आज का पूरा घटनाक्रम

इधर द्वारका कोर्ट पहुँचते ही पंजाब पुलिस के डीएसपी के एस संधू का बीजेपी के कार्यकर्ताओं ने जमकर विरोध किया। हालाँकि, उनका कहना है कि बग्गा के मामले में उन्होंने नियमों के अनुसार कार्रवाई की है।

पंजाब पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए जाने के बाद हरियाणा से तेजिंदर पाल सिंह बग्गा को छुड़ाकर दिल्ली पुलिस उन्हें वापस दिल्ली लाई है। उन्हें शुक्रवार (6 मई, 2022) की रात 9 बजे गुरुग्राम में जज के घर पर पेश किया गया। उससे पहले उन्हें दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल मेडिकल जाँच के लिए ले जाया गया। इधर द्वारका कोर्ट पहुँचते ही पंजाब पुलिस के डीएसपी के एस संधू का बीजेपी के कार्यकर्ताओं ने जमकर विरोध किया। हालाँकि, उनका कहना है कि बग्गा के मामले में उन्होंने नियमों के अनुसार कार्रवाई की है।

इधर पंजाब पुलिस के एडीजीपी शरद चौहान भी कुरुक्षेत्र के थानेसर थाने पहुँचे। यहीं पर पंजाब पुलिस के अधिकारियों को रोक कर रखा गया है। वहीं इस मामले में पंजाब पुलिस ने पंजाब-हरियाणा हाई कोर्ट का रुख किया है।

क्या है आज का पूरा घटनाक्रम

गौरतलब है कि शुक्रवार की अल सुबह दिल्ली स्थित घर से पंजाब पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार किया। इस घटना के बाद बग्गा कि पिता ने दिल्ली के जनकपुरी थाने में बग्गा के अपहरण की शिकायत दर्ज कराई और इसका आरोप पंजाब पुलिस पर लगाया। इसके बाद हरकत में आई दिल्ली पुलिस ने हरियाणा पुलिस से मदद माँगी औऱ हरियाणा पुलिस ने कुरुक्षेत्र में पंजाब पुलिस के काफिले को रोक दिया

इधर दिल्ली पुलिस की टीम बग्गा को पंजाब पुलिस के चंगुल से छुड़ाने के लिए कुरुक्षेत्र के लिए रवाना हुई औऱ उन्हें वापस दिल्ली लेकर आई।

बता दें कि पंजाब पुलिस पर ये आरोप है कि उसने अवैध तरीके से न सिर्फ बग्गा को गिरफ्तार किया, बल्कि उनके पिता के साथ मारपीट भी की। तेजिंदर बग्गा के पिता ने ऑपइंडिया से बात की। उन्होंने बताया, “पहले मेरे घर में 2 पुलिसकर्मी घुसे। वो मुझ से सामान्य ढंग से बात कर रहे थे। उस समय घर पर तेजिंदर और उनके अलावा कोई नहीं था। उसी समय तेजिंदर कपड़े पहन कर बाहर आए। थोड़ी बातचीत के बाद कई पुलिसकर्मी मेरे घर में जबरन घुस गए। उनके इस काम की मैं वीडियो बनाने लगा। इसी दौरान एक पुलिसकर्मी मुझे खींच कर कमरे की तरफ ले गया और मुझ से हाथापाई की।”

तेजिंदर बग्गा के पिता ने आगे बताया, “इसके बाद वो तेजिंदर को खींच कर बाहर ले गए और हिरासत में ले लिया। पुलिसकर्मियों ने बग्गा को उनकी पगड़ी तक नहीं पहनने दी, जबकि उसने इसे पहनने की गुजारिश की। पुलिसवाले बग्गा का फोन भी अपने साथ ले गए।”

इस मामले में दिल्ली पुलिस ने पंजाब पुलिस पर प्रक्रिया का पालन नहीं करने का आरोप लगाया है। दिल्ली पुलिस का दावा है कि उसे गिरफ्तारी को लेकर पूर्व सूचना नहीं दी गई थी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

उद्धव का मंत्री, पवार का खास: अदालत ने भी माना ‘डी गैंग’ से नवाब मलिक के संबंध, ED ने चार्जशीट में बताया- मुंबई ब्लास्ट...

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने गंभीर आरोपों में गिरफ्तारी के बावजूद अपने जिस मंत्री नवाब मलिक को हटाने से इनकार किया था, उनके डी गैंग से लिंक होने की बात अदालत ने भी मानी है।

अब कहाँ गायब हो गया ज्ञानवापी ढाँचे में दिखा शिवलिंग? पूर्व महंत ने तस्वीरों से खोले राज़, हनुमान मूर्ति और कमल के फूल भी...

काशी विश्वनाथ मंदिर के पूर्व महंत डॉ कुलपति तिवारी ने ज्ञानवापी विवादित ढाँचे और शिवलिंग को लेकर पुरानी तस्वीरें दिखाते हुए बड़ा दावा किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
187,690FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe