Saturday, September 18, 2021
Homeराजनीतिमिलिए वनाती श्रीनिवासन से, कोयंबटूर के मैदान में हिंदी, हिंदू और मोदी विरोधी कमल...

मिलिए वनाती श्रीनिवासन से, कोयंबटूर के मैदान में हिंदी, हिंदू और मोदी विरोधी कमल हासन को चटाई है धूल

बीजेपी की 50 वर्षीय नेता और चेन्नई हाई कोर्ट की वकील वनाती श्रीनिवासन कोयंबटूर में काफी लोकप्रिय रही हैं। उन्हें पिछले साल अक्टूबर में ही बीजेपी महिला मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष की जिम्मेदारी दी गई थी।

तमिलनाडु के विधानसभा चुनावों में इस बार बीजेपी खाता खोलने में सफल रही है। उसे 4 सीटों पर कामयाबी मिली है। इनमें से एक सीट कोयंबटूर दक्षिण की भी है। त्रिकोणकीय मुकाबले में यहाँ बाजी बीजेपी की वनाती श्रीनिवासन के हाथ लगी। मक्कल निधि मय्यम (MNM) बनाकर राजनीति के मैदान में उतरे कमल हासन के चुनाव लड़ने की वजह से यह सीट चर्चा में रही थी।

वनाती ने हासन को 1728 वोटों के करीबी अंतर से हराया। वे पहली बार विधायक बनी हैं। 2 मई को हुई मतगणना के शुरुआती दौर में एमएनएम के कमल हासन आगे चल रहे थे। लेकिन कुछ दौर की गिनती के बाद कॉन्ग्रेस के मयूरा जयाकुमार ने बढ़त बना ली। शुरुआत में तीसरे नंबर पर चल रही बीजेपी की वनाती श्रीनिवासन ने आखिर के राउंडों में बढ़त बनाते हुए जीत हासिल की।

विधानसभा चुनाव से पहले कयास लग रहे थे कि कमल हासन चुनावी समर में चेन्नई से उतरेंगे। लेकिन आखिर में उन्होंने कोयंबटूर दक्षिण की सीट चुनी थी। 1.75 लाख वोटर्स वाले कोयंबटूर साउथ में एमएनएम प्रमुख कमल हासन के चुनाव लड़ने का ऐलान करने से यहाँ मुकाबला रोचक हो गया था। उनको चुनौती देने के लिए कॉन्ग्रेस ने पार्टी के तमिलनाडु प्रदेश के कार्यकारी अध्यक्ष मयूरा जयकुमार तो बीजेपी ने राष्ट्रीय महिला मोर्चा की राष्ट्रीय अध्यक्ष वनाती श्रीनिवासन को मैदान में उतारा।

साभार: चुनाव आयोग

बीजेपी की 50 वर्षीय नेता और चेन्नई हाई कोर्ट की वकील वनाती श्रीनिवासन कोयंबटूर में काफी लोकप्रिय रही हैं। उन्हें पिछले साल अक्टूबर में ही बीजेपी महिला मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष की जिम्मेदारी दी गई थी। उस समय इस फैसले को तमिलनाडु के विधानसभा चुनाव से ही जोड़कर देखा गया था।

गौरतलब है कि शुरू से ही नरेंद्र मोदी के धुर आलोचक रहे कमल हासन ने अपना पूरा अभियान हिंदू और हिंदी विरोधी नैरेटिव के इर्द-गिर्द केंद्रित रखा था। राष्ट्रीय भाषा हिंदी को देश की अन्य पुरानी भाषाओं की तुलना में ‘अभी डायपर में एक छोटा बच्चा’ कहने से लेकर मुगलों के पहले हिंदू शब्द के अस्तित्व को खारिज करने समेत अपने कई बयानों को लेकर कमल हासन विधानसभा चुनावों से पहले ही विवादों में रहे।

नतीजों के बाद कमल हासन ने ट्वीट कर समर्थकों का शुक्रिया अदा किया और कहा कि वह लोगों का फैसला स्वीकार करते हैं।

वहीं वनाती श्रीनिवासन ने समर्थकों का शुक्रिया अदा करते हुए लिखा, “हम जीत गए हैं! कोवई दक्षिण आपके आशीर्वाद और समर्थन के लिए शुक्रिया। मैं अपने मतदाताओं, नेताओं, पीएम नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा और तमिलनाडु के सभी बीजेपी कार्यकर्ताओं का उनकी कड़ी मेहनत और समर्पण के लिए शुक्रिया अदा करती हूँ।”

वनाती को बीजेपी नेताओं से बधाई संदेश मिले, खासकर पार्टी की दिग्गज महिला नेता स्मृति ईरानी ने उन्हें तमिलनाडु चुनावों में जीत के लिए बधाई दी।

तमिलनाडु विधानसभा चुनाव 2021 में एमके स्टालिन की अगुवाई में डीएमके ने बहुमत हासिल किया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘फर्जी प्रेम विवाह, 100 से अधिक ईसाई लड़कियों का यौन शोषण व उत्पीड़न’: केरल के चर्च ने कहा – ‘योजना बना कर हो रहा...

केरल के थमारसेरी सूबा के कैटेसिस विभाग ने आरोप लगाया है कि 100 से अधिक ईसाई लड़कियों का फर्जी प्रेम विवाह के नाम पर यौन शोषण किया गया।

डॉ जुमाना ने किया 9 बच्चियों का खतना, सभी 7 साल की: चीखती-रोती बच्चियों का हाथ पकड़ लेते थे डॉ फखरुद्दीन व बीवी फरीदा

अमेरिका में मुस्लिम डॉक्टर ने 9 नाबालिग बच्चियों का खतना किया। सभी की उम्र 7 साल थी। 30 से अधिक देशों में है गैरकानूनी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
122,951FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe