Saturday, June 22, 2024
Homeदेश-समाजराज्यपाल पर हमलों की वजह DMK नेताओं के ज़हरीले बयान, अन्नामलाई ने वीडियो शेयर...

राज्यपाल पर हमलों की वजह DMK नेताओं के ज़हरीले बयान, अन्नामलाई ने वीडियो शेयर कर साधा निशाना: नागालैंड वालों को ‘कुत्ता खाने वाला’ बताने पर भी की निंदा

"तमिलनाडु भाजपा ने डीएमके नेताओं को उत्तर और उत्तर पूर्वी भारत का दौरा करने के लिए 50 ट्रेन टिकटों को प्रायोजित करने की पेशकश की है ताकि उनके मन से अपमानजनक रूढ़िवादिता को दूर करने में मदद मिल सके जिसे आपकी पार्टी सदियों से प्रचारित कर रही है।"

तमिलनाडु के राज्यपाल RN रवि पर बार-बार हुए हमलों के पीछे DMK नेताओं का हाथ है। ऐसा दावा किया है तमिलनाडु भाजपा के अध्यक्ष एन अन्नामलाई ने। उन्होंने एक डीएमके नेता के भाषण का वीडियो शेयर किया, जिसमें राज्यपाल आरएन रवि के लिए गलत शब्दों का उपयोग तो किया ही गया है, साथ ही उन पर हमलों के लिए लोगों को उकसाया भी गया है। यही नहीं, डीएमके नेता उस वीडियो में नागालैंड के लोगों को ‘कुत्ता’ खाने वाला कह रहा है।

एन अन्नामलाई ने अपने एक्स ( पूर्व में ट्विटर ) हैंडल पर लिखा, “राजभवन पर हालिया हमला डीएमके नेताओं द्वारा माननीय राज्यपाल के खिलाफ ऐसे भद्दे भाषणों का परिणाम है, फिर भी लगता है कि डीएमके ने सबक नहीं सीखा है। हमारे उत्तर पूर्वी भाई-बहनों के गौरव को कुत्ता खाने वालों तक सीमित करना अत्यंत निंदनीय है। जबकि एमके स्टालिन का पॉडकास्ट ड्रामा जारी है। इंडी एलायंस और उसके समावेशी सामाजिक न्याय के मॉडल की नजर में भारत ऐसा है।” उन्होंने जो वीडियो शेयर किया है, उसमें डीएमके नेता नागालैंड के लोगों के बारे में गलत बात बोलता दिख रहा है।

डीएमके नेता उस वीडियो में कहता है, “नागालैंड के लोग, जो कुत्ता खाते हैं, उन्होंने आरएन रवि को वहाँ से भगा दिया। हम तमिलनाडु के लोग तो नमक से खाना खाते हैं और कहीं ज्यादा मजबूत हैं। हम क्या हश्र करेंगे” बता दें कि तमिलनाडु के राज्यपाल आरएन रवि से सत्ताधारी पार्टी डीएमके का छत्तीस का आँकड़ा है।

भाजपा ने डीएमके को दिया ऑफर, अपने 50 लोगों को भेजो उत्तर और उत्तर-पूर्व भारत, हम देंगे खर्चा

इस बीच एन अन्नामलाई ने डीएमके को पत्र लिखकर कहा है कि वो अपने 50 कार्यकर्ताओं को उत्तर भारत और उत्तर-पूर्व भारत के दौरे के लिए भेजे, जिसके टिकट का खर्च भाजपा उठाएगी। ऐसा करने से डीएमके के लोगों को पूरे भारत को समझने का मौका मिलेगा, क्योंकि वो उत्तर भारतीयों को स्टीरियोटाइप की तरह देखते हैं और उनके प्रति खास नफरत की भावना उनकी पार्टी प्रचारित करती है। उन्होंने लिखा, “श्री एमके स्टालिन जी, तमिलनाडु भाजपा ने डीएमके नेताओं को उत्तर और उत्तर पूर्वी भारत का दौरा करने के लिए 50 ट्रेन टिकटों को प्रायोजित करने की पेशकश की है ताकि उनके मन से अपमानजनक रूढ़िवादिता को दूर करने में मदद मिल सके जिसे आपकी पार्टी सदियों से प्रचारित कर रही है।”

बता दें कि डीएमके नेता राज्यपाल आरएन रवि को तो निशाना बनाते ही हैं, साथ ही उत्तर भारतीयों खासकर सनातन धर्म के खिलाफ लगातार प्रोपेगेंडा फैलाते हैं। उसी कड़ी में डीएमके के नेता और मुख्यमंत्री एमके स्टालिन के मंत्री बेटे उदयनिधि स्टालिन ने सनातन को खत्म करने की बात कही थी। वहीं, राज्यपाल को लेकर उसकी आक्रामकता लगातार दिखी है, क्योंकि राज्यपाल आरएन रवि ने डीएमके सरकार द्वारा पास किए गए कई बिलों को रिजेक्ट कर दिया है। उन्होंने कई ऐसे मामलों को रोक दिया, जो एकतरफा थे। उन्होंने डीएमके नेताओं द्वारा सनातन धर्म पर हमलों को भी गलत बताया था। इसके कुछ दिन बाद ही उन पर हमला हुआ था।

गौरतलब है कि तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई स्थित राजभवन के मुख्य द्वार पर 25 अक्टूबर को पेट्रोल बम से हमला हुआ था। इस दौरान दो बम राजभवन के गेट पर फेंके गए थे, जिससे ज्यादा नुकसान नहीं हुआ। पुलिस ने बम फेंकने वाले को गिरफ्तार कर लिया था। उस व्यक्ति की पहचान करुक्का विनोद के रूप में हुई थी, जो तीन दिन पहले ही जेल से छूटकर आया था। वो डीएमके का सपोर्टर माना जाता है।

रिपोर्ट के मुताबिक, करुक्का विनोद तमिलनाडु के राज्यपाल आरएन रवि से खफा था। दरअसल, जेल में रहते हुए विनोद ने समय से पहले रिहाई की माँग करते हुए राज्यपाल के पास एक याचिका भेजी थी। इस याचिका को राज्यपाल ने खारिज कर दिया था। इतना ही नहीं, राज्यपाल द्वारा मुस्लिम कैदियों को रिहा नहीं करने से भी वह नाराज था। उसने बताया कि इन दोनों कारणों से वह राज्यपाल से बदला लेना चाहता था और उसने इसी वजह से बम फेंका।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आज भी ‘रलिव, गलिव, चलिव’ ही कश्मीर का सत्य, आखिर कब थमेगा हिन्दुओं को निशाना बनाने का सिलसिला: जानिए हाल के वर्षों में कब...

जम्मू कश्मीर में इस्लाम के नाम पर लगातार हिन्दू प्रताड़ना जारी है। 2024 में ही जिहाद के नाम पर 13 हिन्दुओं की हत्याएँ की जा चुकी हैं।

CM केजरीवाल ने माँगे थे ₹100 करोड़, हमने ₹45 करोड़ का पता लगाया: ED ने दिल्ली हाई कोर्ट को बताया, कहा- निचली अदालत के...

दिल्ली हाई कोर्ट ने मुख्यमंत्री और AAP मुखिया अरविन्द केजरीवाल की नियमित जमानत पर अंतरिम तौर पर रोक लगा दी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -