TRS के वरिष्ठ नेता जी विवेकानंद ने थामा BJP का दामन

विवेकानंद का भाजपा में शामिल होना सत्ताधारी टीआरएस के लिए बड़ा झटका है। उन्हें टीआरएस सुप्रीमो और सीएम के. चंद्रशेखर राव (केसीआर) ने अपने पहले शासनकाल में सलाहकार नियुक्त किया था।

तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के वरिष्ठ नेता जी विवेकानंद शुक्रवार (अगस्त 9, 2019) को भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए। उन्होंने केंद्रीय गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी और तेलंगाना बीजेपी अध्यक्ष के लक्ष्मण की मौजूदगी में पार्टी की सदस्यता ली।

विवेकानंद का भाजपा में शामिल होना सत्ताधारी टीआरएस के लिए बड़ा झटका है। उन्हें टीआरएस सुप्रीमो और सीएम के. चंद्रशेखर राव (केसीआर) ने अपने पहले शासनकाल में सलाहकार नियुक्त किया था। मगर पार्टी की तरफ से टिकट न मिलने के कारण जी विवेकानंद काफी नाराज चल रहे थे। इसी वजह से उन्होंने पार्टी छोड़ने का फैसला किया।

कॉन्ग्रेस के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा में पार्टी के चीफ व्हिप रहे भुवनेश्वर कलीता भी आज (अगस्त 9, 2019) बीजेपी में शामिल हो सकते हैं। कलीता ने अनुच्छेद 370 पर कॉन्ग्रेस के रुख के विरोध में सोमवार (अगस्त 5, 2019) को राज्यसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया था।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

कलीता ने एक पत्र में कहा था, “आज कॉन्ग्रेस ने मुझे कश्मीर मुद्दे के बारे में व्हिप जारी करने को कहा है। जबकि सच्चाई ये है कि देश का मिजाज पूरी तरह से बदल चुका है और ये व्हिप देश की जन भावना के खिलाफ है। पंडित नेहरू ने खुद कहा था कि आर्टिकल 370 एक दिन घिसते-घिसते पूरी तरह घिस जाएगा। आज की कॉन्ग्रेस की विचारधारा से लगता है कि कॉन्ग्रेस आत्महत्या कर रही है और मैं इसमें भागीदार नहीं बनना चाहता हूँ।”

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

बरखा दत्त
मीडिया गिरोह ऐसे आंदोलनों की तलाश में रहता है, जहाँ अपना कुछ दाँव पर न लगे और मलाई काटने को खूब मिले। बरखा दत्त का ट्वीट इसकी प्रतिध्वनि है। यूॅं ही नहीं कहते- तू चल मैं आता हूँ, चुपड़ी रोटी खाता हूँ, ठण्डा पानी पीता हूँ, हरी डाल पर बैठा हूँ।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

118,018फैंसलाइक करें
26,176फॉलोवर्सफॉलो करें
126,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: