Wednesday, November 30, 2022
Homeराजनीतिउद्धव ठाकरे की आलोचना करने पर महाराष्ट्र पुलिस ने किया ट्विटर यूजर को गिरफ्तार,...

उद्धव ठाकरे की आलोचना करने पर महाराष्ट्र पुलिस ने किया ट्विटर यूजर को गिरफ्तार, शिवसेना नेता ने की थी शिकायत

सोशल मीडिया पर यूजर्स सुनैना की गिरफ्तारी के ख़िलाफ़ आवाज बुलंद कर रहे हैं। शिवसेना के पूर्व कार्यकर्ता रमेश सोलंकी लिखते हैं, "गणपति बप्पा का अपमान करने पर कोई कार्रवाई नहीं हुई लेकिन यदि आपने महाविकास अघाड़ी नेताओं के ख़िलाफ़ कुछ भी बोला तो आपको हिरासत में लेकर गिरफ्तार कर लिया जाएगा।"

महाराष्ट्र पुलिस ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की आलोचना करने पर सुनैना होले नाम की एक ट्विटर यूजर को गिरफ्तार कर लिया है। सुनैना के खिलाफ़ शिवसेना की यूथ विंग के नेता रोहन चव्हाण ने नालासोपारा के तुलिंज थाने में शिकायत दर्ज कराई थी।

अपनी शिकायत में चव्हाण ने कहा था कि सुनैना ने ट्विटर पर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे के ख़िलाफ़ आपत्तिजनक पोस्ट किया। शिकायत में सुनैना के रियल अकॉउंट के अलावा @NidarNaari अकाउंट का उल्लेख किया गया। उन्होंने बताया कि सुनैना बैकअप अकॉउंट के रूप में इसे चलाती हैं।

चव्हाण ने शिकायत में कहा कि सुनैना ने अपने बेहद आक्रामक पोस्ट के जरिए शिवसेना प्रमुख और उनके बेटे की छवि को सोशल मीडिया पर बिगाड़ने का प्रयास किया।

उन्होंने पुलिस से सुनैना के ख़िलाफ़ धारा 294 (सार्वजनिक स्थान पर आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल), धारा 499 (मानहानि), धारा 506 (आपराधिक धमकी) और आईटी एक्ट 2000 की धारा 66ए समेत अन्य उपयुक्त धाराओं के तहत 48 घंटों में कार्रवाई करने की माँग की।

अब सोशल मीडिया के कई यूजर्स का कहना है कि पुलिस ने सुनैना को गिरफ्तार कर लिया है और उसे आज कोर्ट में पेश किया जाएगा। ऑपइंडिया ने इस मामले में जानकारी जुटाने के लिए पुलिस से संपर्क करने का प्रयास किया। लेकिन वहाँ बात नहीं हो पाई। जैसे ही इस संबंध में कोई सूचना आएगी हम यह खबर अपडेट करेंगे।

फिलहाल, सोशल मीडिया पर यूजर्स सुनैना की गिरफ्तारी के ख़िलाफ़ आवाज बुलंद कर रहे हैं। शिवसेना के पूर्व कार्यकर्ता रमेश सोलंकी लिखते हैं, “गणपति बप्पा का अपमान करने पर कोई कार्रवाई नहीं हुई लेकिन यदि आपने महाविकास अघाड़ी नेताओं के ख़िलाफ़ कुछ भी बोला तो आपको हिरासत में लेकर गिरफ्तार कर लिया जाएगा।”

भाजपा नेता किरीट सोमैय्या ने मामले की जानकारी होते ही सुनैना को मदद पेशकश की। उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा कि अगर मुंबई पुलिस उनके ख़िलाफ़ कोई एक्शन लेती है, तो वह उन्हें संपर्क कर सकती हैं।

गौरतलब है कि यह पहली बार नहीं कि शिवसेना ने ट्विटर पर कोई पोस्ट करने पर नागरिकों के ख़िलाफ़ एक्शन लिया हो। अप्रैल 2020 में शिवसेना ने सुनैना होले पर एक कार्रवाई और की थी। इसके अलावा उस दौरान शेफाली वैद्य के ख़िलाफ़ भी एक्शन लिया गया था।

इन दोनों की गलती ये थी कि इन्होंने तबलीगी जमात पर सवाल उठा दिया था। इन दोनों के अतिरिक्त एक डॉक्टर पर भी शिकंजा कसा गया था। जबकि 2019 में शिवसैनिकों ने एक आदमी को उद्धव ठाकरे के ख़िलाफ़ लिखने पर गंजा कर दिया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अब वक्फ बोर्ड खुद खोलेगा स्कूल-कॉलेज, मुस्लिम छात्राएँ पहनेंगी बुर्का-हिजाब: बोले आक्रोशित हिन्दू संगठन – देश के लिए खतरा बनेंगे शरिया शैक्षणिक संस्थान

मुस्लिमों की बढ़ती माँगों को देखते हुए वक्फ बोर्ड खोलेगा नए शिक्षण संस्थान। हिन्दू संगठनों ने कहा कि देश में 'शरीया संस्थानों' की जरूरत नहीं।

मॉर्निंग वॉक पर निकली मंदिर के हथिनी ‘लक्ष्मी’ की मौत, लोगों ने रोते हुए दी अंतिम विदाई: लोगों ने एक्टिविस्ट्स को बताया जिम्मेदार

हथिनी लक्ष्मी को इलाज के लिए पशु चिकित्सकों के पास ले जाया गया, लेकिन कार्डियक अरेस्ट के कारण उसने दम तोड़ दिया। मंदिर के सामने अंतिम दर्शन के लिए रखा गया शव।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
236,216FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe