Monday, November 29, 2021
Homeराजनीतिकेरल सोना तस्करी केस: UDF ने की CM पिनराई विजयन को मुख्यमंत्री पद से...

केरल सोना तस्करी केस: UDF ने की CM पिनराई विजयन को मुख्यमंत्री पद से हटाने की माँग, सीताराम येचुरी को लिखा पत्र

"उच्च शिक्षा मंत्री केटी जलील के अलावा, कुछ और मंत्रियों के बच्चे भी सवालों के घेरे में आ गए हैं। जिन सीपीएम नेताओं और मंत्रियों ने पार्टी को शर्मिंदा किया है, उन्हें पद पर बने रहने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए। उन्हें वापस बुला लिया जाना चाहिए। सीपीएम नेताओं को भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई के लिए जाना जाता है।"

यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट (UDF) के संयोजक बेनी बेहानन ने सीपीएम महासचिव सीताराम येचुरी को पत्र लिखकर मुख्यमंत्री पिनराई विजयन को पद से हटाने का आग्रह किया है। उन्होंने कहा कि जब से मुख्यमंत्री कार्यालय पर सवाल उठने शुरू हुए हैं, पिनराई का पद पर बने रहना अनुचित है। 

बेहानन ने इस बात पर प्रकाश डाला कि सीएमओ के खिलाफ आरोप गंभीर हैं। उनके कुछ अधिकारियों को राष्ट्रीय जाँच एजेंसी ने बुलाया है। उन्होंने कहा कि सीएमओ आरोपों से भाग नहीं सकते हैं और पिनराई को जाँच में सहयोग करना चाहिए।

पत्र में बेहानन ने लिखा, “उच्च शिक्षा मंत्री केटी जलील के अलावा, कुछ और मंत्रियों के बच्चे भी सवालों के घेरे में आ गए हैं। जिन सीपीएम नेताओं और मंत्रियों ने पार्टी को शर्मिंदा किया है, उन्हें पद पर बने रहने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए। उन्हें वापस बुला लिया जाना चाहिए। सीपीएम नेताओं को भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ाई के लिए जाना जाता है।”

बता दें कि पिछले महीने विपक्ष नेता रमेश चेन्निथला ने भी कहा कि मुख्यमंत्री पिनराई विजयन को नैतिक जिम्मेदारी लेनी चाहिए और इस्तीफा देना चाहिए। इस अनुरोध के साथ उन्होंने येचुरी को पत्र लिखा था। उन्होंने यह भी कहा था कि ये खबर काफी हैरान कर देने वाली है कि मुख्यमंत्री पिनराई विजयन के प्रमुख सचिव सोने की तस्करी में शामिल थे। यह राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए खतरा है। ऐसे में तुरंत सीएम को अपना इस्तीफा दे देना चाहिए।

वायनाड में सोना तस्करी के मामले में कथित संबंध होने पर मुख्यमंत्री पी विजयन के इस्तीफे की माँग कर रहे कार्यकर्ताओं पर केरल पुलिस ने लाठीचार्ज किया था। इसका वीडियो भी सामने आया था।

गौरतलब है कि यह पूरा मामला केरल की राजधानी तिरुवनंतपुरम में यूएई (संयुक्त अरब अमीरात) के पते वाले डिप्लोमैटिक कार्गो से 30 किलो सोना मिलने का है। दावा किया गया था कि कार्गो के संबंध में स्वप्ना सुरेश ने एयरपोर्ट के अधिकारी से संपर्क साधा था। यूएई वाणिज्य दूतावास जनरल ऑफिस के उच्च कूटनीतिज्ञ राशिद खामिस अल शामली के कहने पर कथित तौर पर संपर्क किया गया था। तस्करी किए गए सोने की कीमत 15 करोड़ रुपए बताई गई है। 

यह सोना उस कार्गो में छिपाया गया था, जिसमें बिस्किट, नूडल्स और बाथरूम आदि का सामान रखा जाता था लेकिन कस्टम को तस्करी को लेकर पहले से सूचना मिल चुकी थी। राष्ट्रीय जाँच एजेंसी ने स्वप्ना सुरेश, फाजिल फरीद और संदीप नायर को इस मामले में आरोपित बनाया है। तीनों पर गैरकानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम 1967 के तहत एफआईआर दर्ज की गई है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘UPTET के अभ्यर्थियों को सड़क पर गुजारनी पड़ी जाड़े की रात, परीक्षा हो गई रद्द’: जानिए सोशल मीडिया पर चल रहे प्रोपेगंडा का सच

एक तस्वीर वायरल हो रही है, जिसके आधार पर दावा किया जा रहा है कि ये उत्तर प्रदेश में UPTET की परीक्षा देने वाले अभ्यर्थियों की तस्वीर है।

बेचारा लोकतंत्र! विपक्ष के मन का हुआ तो मजबूत वर्ना सीधे हत्या: नारे, निलंबन के बीच हंगामेदार रहा वार्म अप सेशन

संसद में परंपरा के अनुरूप आचरण न करने से लोकतंत्र मजबूत होता है और उस आचरण के लिए निलंबन पर लोकतंत्र की हत्या हो जाती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
140,506FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe