Sunday, June 23, 2024
Homeराजनीति'नो कर्फ्यू, नो दंगा, यूपी में सब चंगा': सहारनपुर से CM योगी ने फूँका...

‘नो कर्फ्यू, नो दंगा, यूपी में सब चंगा’: सहारनपुर से CM योगी ने फूँका निकाय चुनाव का बिगुल, कहा- अब माफिया की मौत पर आँसू बहाने वाला भी नहीं मिलता

"पश्चिमी उत्तर प्रदेश में अब कर्फ्यू नहीं लगता। अब दंगे नहीं होते, गुंडा टैक्स की वसूली नहीं होती। गुंडा टैक्स वसूली करने वालों की गर्मी शांत हो गई। गुंडा टैक्स वसूलने वाले कहाँ चले गए पता ही नहीं चलता। उनके लिए दो बूँद आँसू बहाने वाले भी अब नहीं है।"

उत्तर प्रदेश में निकाय चुनावों की तैयारियाँ चल रही है। 4 और 11 मई को मतदान होना है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने इन चुनावों के प्रचार का बिगुल 24 अप्रैल 2023 को सहारनपुर से फूँका। उन्होंने शामली में भी जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान अतीक अहमद का नाम लिए बिना उन्होंने कहा कि प्रदेश में अब माफिया अतीत हो गए हैं। यूपी को दंगा, कर्फ्यू से मुक्ति मिल चुकी है।

उन्होंने कहा कि पहले जो गर्मी दिखाया करते थे, उनकी अब गर्मी निकल चुकी है। पहले यूपी में गुंडा टैक्स वसूला जाता था। अब गुंडा टैक्स वसूलने वाले कहाँ चले गए, यह पता ही नहीं चल रहा। उन्होंने कहा, “नो कर्फ्यू-नो दंगा, यूपी में सब चंगा।” शामली की जनसभा को संबोधित करते हुए सीएम ने लोगों को पूर्व की सरकारों में हुए और कांधला से हुए हिंदुओं के पलायन की भी याद दिलाई। इस इलाके में गुंडाराज और बुनियादी सुविधाओं के अभाव का भी जिक्र किया।

उन्होंने कहा, “याद करिए आज से 6 साल पहले शामली जनपद की क्या स्थिति हुआ करती थी। पलायन, गुंडाराज, दंगों का दंश, बुनियादी सुविधाओं का अभाव था। व्यापारियों से गुंडा टैक्स की वसूली होती थी। लेकिन 6 वर्षों के अंदर कैसे तकदीर बदली जा सकती है, शामली और उत्तर प्रदेश इसका जीता जागता उदाहरण है।” उनके इस बयान को वीडियो में 17 मिनट 30 सेकेंड के बाद सुना जा सकता है।

उन्होंने कहा, “पश्चिमी उत्तर प्रदेश में अब कर्फ्यू नहीं लगता। अब दंगे नहीं होते, गुंडा टैक्स की वसूली नहीं होती। गुंडा टैक्स वसूली करने वालों की गर्मी शांत हो गई। गुंडा टैक्स वसूलने वाले कहाँ चले गए पता ही नहीं चलता। उनके लिए दो बूँद आँसू बहाने वाले भी अब नहीं है। जब बेटियों को माँ-बाप के संरक्षण में अपने ही घर और गाँव के स्कूल में पढ़ते हुए देखता हूँ तो मुझे लगता है कि हमारा सत्ता में आना सफल हो गया।”

विपक्ष पर निशाना साधते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि पहले गरीबों को शौचालय, फ्री रसोई गैस का कनेक्शन, फ्री बिजली कनेक्शन, आयुष्मान भारत जैसी योजना का लाभ नहीं मिलता था। तब किसान, व्यापारी, बेटी कोई सुरक्षित नहीं थी। लेकिन जब उत्तर प्रदेश ने जातिवाद की जगह राष्ट्रवाद को चुना तो प्रदेश को बदलने में समय नहीं लगा।

उल्लेखनीय है कि उत्तर प्रदेश में निकाय चुनाव के दोनों चरणों में 9-9 मंडलों में मतदान होना है। पहले चरण में सहारनपुर, मुरादाबाद, आगरा, झाँसी, प्रयागराज, लखनऊ, देवीपाटन, गोरखपुर, वाराणसी में वोट डाले जाएँगे। दूसरे चरण में मेरठ, अलीगढ़, कानपुर, चित्रकूट, अयोध्या, बस्ती, आजमगढ़ और मिर्जापुर में मतदान होगा।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

किसानों के आंदोलन से तंग आ गए स्थानीय लोग: शंभू बॉर्डर खुलवाने पहुँची भीड़, अब गीदड़-भभकी दे रहे प्रदर्शनकारी

किसान नेताओं ने अंबाला शहर अनाज मंडी में मीडिया बुलाई, जिसमें साफ शब्दों में कहा कि आंदोलन खराब नहीं होना चाहिए। आंदोलन खराब करने वाला खुद भुगतेगा।

‘PM मोदी ने किया जी अयोध्या धाम रेलवे स्टेशन का उद्घाटन, गिर गई उसकी दीवार’: News24 ने फेक न्यूज़ परोस कर डिलीट की ट्वीट,...

अयोध्या धाम रेलवे स्टेशन से जुड़े जिस दीवार के दिसंबर 2023 में बने होने का दावा किया जा रहा है, वो दावा पूरी तरह से गलत है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -