Saturday, April 20, 2024
Homeराजनीति'SP से इस्तीफा दो नहीं तो रेप केस में फँसा दूँगा': जहर खाने से...

‘SP से इस्तीफा दो नहीं तो रेप केस में फँसा दूँगा’: जहर खाने से पहले लालू यादव के दामाद तेज प्रताप पर हरवीर ने लगाए आरोप

पोस्ट में हरवीर ने तेज प्रताप यादव, राजेश खटीक और विश्वनाथ प्रजापति को आत्महत्या का जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने लिखा कि तेज प्रताप उन्हें पिछले 2 हफ्तों से मानसिक तौर पर प्रताड़ित कर रहे हैं।

उत्तरप्रदेश के मैनपुरी में समाजवादी पार्टी के पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के पूर्व राज्य सचिव हरवीर सिंह प्रजापति ने गुरुवार (अगस्त 20, 2020) को जहर खाकर आत्महत्या करने का प्रयास किया। सपा नेता ने आत्महत्या से पहले फेसबुक पर पोस्ट भी डाला। पोस्ट में उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव के पौत्र व सपा के पूर्व सांसद तेज प्रताप सिंह यादव पर मानसिक रूप से प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है। तेज प्रताप बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव के दामाद भी हैं।

पोस्ट में हरवीर ने तेज प्रताप यादव, राजेश खटीक और विश्वनाथ प्रजापति को आत्महत्या का जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने लिखा कि तेज प्रताप उन्हें पिछले 2 हफ्तों से मानसिक तौर पर प्रताड़ित कर रहे हैं। प्रजापति के मुताबिक, तेज प्रताप उन पर दबाव बना रहे हैं कि वह समाजवादी पार्टी को छोड़ भाजपा में शामिल हो जाएँ। इतना ही नहीं, प्रजापति का आरोप है कि यादव उन्हें धमकाते हैं कि अगर उन्होंने पार्टी से इस्तीफा नहीं दिया तो वह उस पर झूठा रेप केस कर देंगे।

फेसबुक पोस्ट

प्रजापति ने यह भी बताया है कि उनके बच्चों को भी जान से मारने की धमकी दी जा रही है। इसके अलावा गायत्री प्रजापति जैसे मामले में फँसाने के लिए उनके फोन से दो लड़कियों को वीडियो कॉल करके उनकी फोटो और वीडियो भी रिकॉर्ड की गई है।

प्रजापति के अनुसार, इन लड़कियों को पैसे देकर उन्हें परेशान करवाया गया, क्योंकि तेज प्रताप यादव और विश्वनाथ प्रजापति ऐसा चाहते हैं। प्रजापति ने इस पोस्ट में लिखा है कि वह अब अपने परिवार के सामने जाने में बहुत शर्म महसूस करते हैं, इसलिए अपने जीवन को समाप्त कर रहे हैं।

बता दें, हरवीर सिंह के इस पोस्ट को जैसे ही उनके परिजनों ने देखा, वह फौरन उन्हें बचाने गए। इसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया। अब वह फिलहाल खतरे से बाहर हैं। इस घटना के बाद हरवीर सिंह को समाजवादी पार्टी से निकाल दिया गया है। एक प्रेस रिलीज जारी करके यह सूचना सार्वजनिक की गई।

प्रेस रिलीज में पार्टी के जिलाध्यक्ष ने लिखा कि तेज प्रताप सिंह यादव पर गंभीर टिप्पणी करने के आरोप में हरवीर सिंह को पार्टी में जिला सचिव पद से हटा दिया गया है। इस रिलीज में हरवीर सिंह के आरोपों को अनुशासनहीनता करार दिया गया। साथ ही कहा गया कि उन्होंने ये आरोप बिना किसी सबूत के लगाए हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हनुमान मंदिर को बना दिया कूड़ेदान, साफ़-सफाई कर पीड़ा दिखाई तो पत्रकार पर ही FIR: हैदराबाद के अक्सा मस्जिद के पास स्थित है धर्मस्थल,...

हनुमान मंदिर को बना दिया कूड़ेदान, कचरे में दब गई प्रतिमा। पत्रकार सिद्धू और स्थानीय रमेश ने आवाज़ उठाई तो हैदराबाद पुलिस ने दर्ज की FIR.

‘शहजादे को वायनाड में भी दिख रहा संकट, मतदान बाद तलाशेंगे सुरक्षित सीट’: महाराष्ट्र में PM मोदी ने पूछा- CAA न होता तो हमारे...

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि राहुल गाँधी 26 अप्रैल की वोटिंग का इंतजार कर रहे हैं। इसके बाद उनके लिए नई सुरक्षित सीट खोजी जाएगी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe