Saturday, May 21, 2022
Homeराजनीति250 सीटों पर आगे चल रही है BJP, 12 सीटों के रुझान आने अब...

250 सीटों पर आगे चल रही है BJP, 12 सीटों के रुझान आने अब भी बाकी: लखीमपुर खीरी में भी BJP का डंका, रायबरेली से अदिति सिंह आगे

लखीमपुर खीरी जिले की 8 विधानसभा सीटों में से 6 पर बीजेपी आगे चल रही है। 2 सीटों पर सपा प्रत्‍याशी लीड कर रहे हैं।

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की 18वीं विधानसभा के चुनाव के लिए मतगणना जारी है। शुरुआती रुझान में भाजपा ने बहुमत के आँकड़े को पार कर लिया है। बीजेपी 250 सीटों पर आगे है, सपा को 101 सीटों पर बढ़त मिली है। बसपा 8 और कॉन्ग्रेस 4 सीटों पर आगे चल रही है। मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ (Yogi Adityanath) गोरखपुर शहर सीट पर 8363 वोटों से आगे चल रहे हैं। सपा की सुभावती गुप्‍ता पिछड़ गई हैं। अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) करहल सीट से लीड कर रहे हैं, जबकि भाजपा से बागी होकर सपा का दामन थामने वाले स्‍वामी प्रसाद मौर्य फाजिलनगर विधानसभा सीट पर पिछड़ गए हैं।

रायबरेली में भाजपा की अदिति सिंह आगे चल रही हैं। अदिति सिंह को 17,228 (53.15%) वोट मिले हैं। दूसरे स्थान पर समाजवादी पार्टी के राम प्रताप यादव हैं। उन्हें 11306 वोट मिले। तीसरे स्थान पर कॉन्ग्रेस के डॉ. मनीष चौहान को 1417 वोट मिले हैं। वहीं बसपा को 888 वोट मिले।

लखीमपुर खीरी जिले की 8 विधानसभा सीटों में से 6 पर बीजेपी आगे चल रही है। 2 सीटों पर सपा प्रत्‍याशी लीड कर रहे हैं। प्रयागराज में भाजपा के हर्षवर्धन बाजपेई आगे चल रहे हैं और सपा के संदीप यादव पिछड़ गए हैं। अलीगढ़ में बीजेपी जहाँ 5 सीटों पर बढ़त बनाए हुए है, वहीं समाजवादी पार्टी के प्रत्‍याशी 2 सीटों पर आगे चल रही है। गोंडा विधानसभा की 7 में से 5 सीटों पर भाजपा प्रत्‍याशी आगे चल रहे हैं। दो सीटों पर सपा उम्‍मीदवार लीड कर रहे हैं।

उत्तर प्रदेश में विधानसभा की कुल 403 सीटें हैं। बहुमत का आँकड़ा 202 है। 2017 के चुनाव में बीजेपी ने 312 सीटें जीती थी। उसे 39.67% मत मिले थे। कॉन्ग्रेस और सपा ने मिलकर चुनाव लड़ा था। सपा को 21.82% वोट के साथ 47 तो कॉन्ग्रेस को 6.25% वोटों के साथ 7 सीटें मिली थी। 22.23% वोट हासिल करने के बावजूद बसपा 19 सीटों पर सिमट गई थी। अन्य के खाते में 5 सीटें गई थी। उससे पहले 2012 में सपा और 2007 के विधानसभा चुनावों में बसपा को स्पष्ट बहुमत हासिल हुआ था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सिखों के जख्म पर नमक छिड़क राजीव गॉंधी को अधीर रंजन चौधरी ने दी श्रद्धांजलि, कॉन्ग्रेस नेता ने लिखा- जब कोई बड़ा पेड़ गिरता...

लोकसभा में कॉन्ग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने राजीव गाँधी की की बरसी पर श्रद्धांजलि देते हुए विवादित ट्वीट कर के फिर उसे डिलीट कर दिया।

एक चिंगारी और पूरे भारत में लग जाएगी आग… कैम्ब्रिज में बैठ राहुल गाँधी ने उगला देश विरोधी जहर, कहा- हालात अच्छे नहीं

कॉन्ग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गाँधी ने यूके के कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी में 'आइडियाज फॉर इंडिया' के नाम पर जम कर नकारात्मकता फैलाई। पढ़िए क्या-क्या कहा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
187,690FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe