Tuesday, August 3, 2021
HomeराजनीतिVideo: कन्हैया को माला पहनाने के बाद बेगूसराय के ग्रामीणों ने बोला - 'हर...

Video: कन्हैया को माला पहनाने के बाद बेगूसराय के ग्रामीणों ने बोला – ‘हर हर मोदी’

ग्रामीणों ने कहा कि सिर्फ़ कन्हैया ही नहीं बल्कि गाँव में कोई भी नेता आता है तो फ़र्ज़ निभाते हुए उसका स्वागत करेंगे लेकिन वोट मोदीजी को ही देंगे।

बेगूसराय के आज़ाद नगर स्थित एक गाँव में जब सीपीआई प्रत्याशी कन्हैया कुमार चुनाव प्रचार के लिए पहुँचे, तो ग्रामीणों ने उनका स्वागत फूल-मालाओं से किया लेकिन उन्हें वोट देने से इनकार कर दिया। ग्रामीणों ने कहा कि भले ही कन्हैया का बेगूसराय में कुछ नाम बना हो लेकिन उनका वोट तो मोदीजी को ही जाएगा। उन्होंने पुलवामा हमले के बाद हुई एयर स्ट्राइक का ज़िक्र करते हुए कहा कि हमारे पास ऐसा प्रधानमंत्री है जो देश के लिए लड़ता है, देश के लिए जीता-मरता है, तो हम किसी और को क्यों वोट दें? नीचे इस वीडियो में ख़ुद ही देख लें, ग्रामीणों ने क्या कहा।

ट्विटर पर लेखक एवं पत्रकार राहुल पंडिता द्वारा ट्वीट किए गए वीडियो में ग्रामीणों की राय देखकर साफ़-साफ़ लगता है कि नरेंद्र मोदी की इमेज आम जनों के मन में एक प्रभावशाली और निर्णायक नेता की है। ऐसा नेता, जो कड़े फैसले लेने की क्षमता रखता है। ग्रामीणों ने कहा कि सिर्फ़ कन्हैया ही नहीं बल्कि गाँव में कोई भी नेता आता है तो फ़र्ज़ निभाते हुए उसका स्वागत करेंगे लेकिन वोट मोदीजी को ही देंगे।

वीडियो में ग्रामीणों का कॉन्ग्रेस के प्रति गुस्सा भी देखा जा सकता है। ग्रामीणों का कहना था कि आज़ादी के बाद से लगातार हमारे जवान वीरगति को प्राप्त हो रहे हैं लेकिन कॉन्ग्रेस पार्टी ने कभी उनके लिए कुछ नहीं किया। उन्होंने कॉन्ग्रेस पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि वो ऐसी पार्टी है जो पाकिस्तान के ही गुण गाती रहती है। बकौल ग्रामीण, हमारे पास मोदीजी के रूप में एक ऐसा नेता है जो देश के गीत गाता है।

बेगूसराय में गिरिराज सिंह के पहुँचते ही कन्हैया गैंग में हड़कंप मचा हुआ है। उन्हें चुनाव प्रचार के दौरान भी लोगों का साथ नहीं मिल रहा है। हाल ही में बिहार के बेगूसराय में CPI उम्मीदवार कन्हैया कुमार को ग्रामीणों ने खदेड़ दिया था। दोनों तरफ के लोगों के बीच झड़प हुई ऐसा भी कहा जा रहा है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार इसे उनके काफिले पर हमला भी कहा जा रहा है। बताया जा रहा है कि कल सुबह जब कन्हैया प्रचार के लिए जा रहे थे उसी समय कुछ असामाजिक तत्वों ने सड़क को जाम कर दिया था। जब कन्हैया के समर्थक जाम खुलवाने के लिए गए तो वही उनसे झड़प होने लगी।

हालाँकि, कन्हैया कुमार ने सीधे-सीधे गिरिराज सिंह पर आरोप लगाते हुए कहा कि वह हार मान चुके हैं। गिरिराज सिंह को भय है कि कन्हैया जीत जाएगा, इसलिए अब गिरिराज सिंह लोकतंत्र की हत्या करते हुए अपने गुंडों द्वारा उन पर हमलों जैसी घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं। जबकि सच ये भी है कि जब से कन्हैया कुमार के देश विरोधी और सैनिकों के बारे में भद्दी टिप्पणी करती उनकी वीडियो सोशल मीडिया और मीडिया पर दिखाई गई तभी से बिहार के लोक उनसे भड़के हुए हैं। यहाँ तक कन्हैया के अपने गाँव में भी उनके गाँव वाले भी उन्हें धकिया के भगा रहे हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘माँस फेंक करते हैं परेशान’: 81 हिन्दू परिवारों ने लगाए ‘मकान बिकाऊ है’ के पोस्टर, एक्शन में मुरादाबाद पुलिस

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद स्थित कटघर थाना क्षेत्र में स्थित इस कॉलोनी में 81 हिन्दू परिवारों ने 'मकान बिकाऊ है' के पोस्टर लगा दिए हैं। वहाँ बसे मुस्लिमों पर परेशान करने के आरोप।

4 साल में 4.5 करोड़ को मरवाया, हिटलर-स्टालिन से भी बड़ा तानाशाह: ओलंपिक में चीन के खिलाड़ियों ने पहना उसका बैज

जापान की राजधानी टोक्यो में चल रहे ओलंपिक खेलों में चीन के दो खिलाड़ियों को स्वर्ण पदक जीतने के बाद माओ का बैज पहने हुए देखा गया। विरोध शुरू।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,740FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe