Saturday, September 18, 2021
Homeराजनीतिजिस मौलवी ने कहा- अल्लाह ऐसा वायरस भेज कि 50 करोड़ मरे, बंगाल में...

जिस मौलवी ने कहा- अल्लाह ऐसा वायरस भेज कि 50 करोड़ मरे, बंगाल में उसे साधने में जुटे ओवैसी

इस साल की शुरुआत में अब्बास सिद्दीकी के एक वीडियो पर काफी विवाद हुआ था, जिसमें उन्होंने कहा था, “मैं अल्लाह से प्रार्थना करता हूँ कि वह भारत में ऐसा घातक वायरस भेजे जो 50 करोड़ लोगों को मार डाले।”

पश्चिम बंगाल में इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनजर राजनीतिक सरगर्मियाँ तेज हैं। बिहार विधानसभा चुनाव में 5 सीटों पर कब्जा करने वाली पार्टी ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिममीन (AIMIM) के चीफ असदुद्दीन ओवैसी की नजरें भी अब ममता बनर्जी के गढ़ पर है। इसी कड़ी में रविवार (जनवरी 03, 2021) को उन्होंने राज्य का दौरा किया और मौलवी अब्बास सिद्दीकी से मुलाकात की।

ओवैसी हुगली जिले के फुरफुरा शरीफ पहुँचे और वहाँ सिद्दीकी के साथ राज्य के राजनीतिक परिदृश्य और आगामी विधानसभा चुनावों को लेकर चर्चा की। मुलाकात के बाद उन्होंने कहा, “मैं आज अब्बास सिद्दीकी से मिला। हमारी पार्टी आगामी विधानसभा चुनावों में निश्चित रूप से भाग लेगी। हमारी पार्टी उन फैसलों के साथ खड़ी होगी जो अब्बास सिद्दीकी द्वारा उठाए जाएँगे।”

बता दें कि राज्य में चुनाव लड़ने की घोषणा करने के बाद ओवैसी की पश्चिम बंगाल की यह पहली यात्रा है। एआईएमआईएम के राज्य सचिव ज़मीरुल हसन ने कहा कि ओवैसी बैठक को गुप्त रखना चाहते थे, क्योंकि हमें आशंका थी कि राज्य सरकार कहीं उन्हें हवाई अड्डे से बाहर निकलने से रोक दे। वह कोलकाता हवाई अड्डे से अब्बास सिद्दीकी से मिलने के लिए सीधे हुगली गए।

फुरफुरा शरीफ के पीरजादा सिद्दीकी कई मुद्दों पर राज्य सरकार के खिलाफ बोलते रहे हैं। उन्होंने सीएम ममता को चेतावनी देते हुए कहा था, “पश्चिम बंगाल में चार करोड़ मुसलमान हैं। ममता को यह नहीं भूलना चाहिए कि हम हमेशा पश्चिम बंगाल में धर्मनिरपेक्ष विकल्प के रूप में कॉन्ग्रेस या माकपा को उनकी कब्र से जीवित कर सकते हैं।” फुरफुरा शरीफ का हुगली, बर्दवान, मुर्शिदाबाद और उत्तर तथा दक्षिण 24 परगना जैसे जिलों में काफी प्रभाव माना जाता है।

इस साल की शुरुआत में अब्बास सिद्दीकी के एक वीडियो पर काफी विवाद हुआ था, जिसमें उन्होंने कहा था, “मैं अल्लाह से प्रार्थना करता हूँ कि वह भारत में ऐसा घातक वायरस भेजे जो 50 करोड़ लोगों को मार डाले।”

बीते साल नवंबर में पत्रकार अभिजीत मजूमदार ने एक वीडियो शेयर किया था, जिसमें अब्बास सिद्दीकी बंगाल में मुस्लिमों की जनसंख्या को लेकर दावे कर रहे थे। उन्होंने बताया कि इस वीडियो में मौलवी सिद्दीकी कह रहा था, “हम मुस्लिम यहाँ पर बहुसंख्यक हैं। आदिवासी, मथुआ और दलित हिन्दू नहीं हैं, इसीलिए यहाँ हम मेजोरिटी में हैं।” मजूमदार ने कहा कि यहाँ एक ही रणनीति दिखती है– हिन्दुओं को विभाजित करो, मुस्लिमों को एक करो।

पश्चिम बंगाल के राजनीतिक हलकों में चर्चा है कि असदुद्दीन ओवैसी ने अब्बास सिद्दीकी को 50 सीटें देने का फैसला लिया है। उनका असदुद्दीन ओवैसी को समर्थन देना राज्य में मुस्लिम वोटों की बड़ी गोलबंदी की ओर इशारा करता है, जिसका सीधा प्रभाव ममता बनर्जी पर पड़ने वाला है। उन्होंने कबूला है कि असदुद्दीन ओवैसी के साथ मिल कर चुनाव लड़ने के लिए एक राजनीतिक फॉर्मूले पर काम हो रहा है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘फर्जी प्रेम विवाह, 100 से अधिक ईसाई लड़कियों का यौन शोषण व उत्पीड़न’: केरल के चर्च ने कहा – ‘योजना बना कर हो रहा...

केरल के थमारसेरी सूबा के कैटेसिस विभाग ने आरोप लगाया है कि 100 से अधिक ईसाई लड़कियों का फर्जी प्रेम विवाह के नाम पर यौन शोषण किया गया।

डॉ जुमाना ने किया 9 बच्चियों का खतना, सभी 7 साल की: चीखती-रोती बच्चियों का हाथ पकड़ लेते थे डॉ फखरुद्दीन व बीवी फरीदा

अमेरिका में मुस्लिम डॉक्टर ने 9 नाबालिग बच्चियों का खतना किया। सभी की उम्र 7 साल थी। 30 से अधिक देशों में है गैरकानूनी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
122,951FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe