Saturday, July 24, 2021
Homeराजनीतिमाँ-मानुष को TMC के गुंडों ने बंगाल की मिट्टी में नहीं डालने दिया वोट:...

माँ-मानुष को TMC के गुंडों ने बंगाल की मिट्टी में नहीं डालने दिया वोट: अधिकारियों से शिकायत पर भी सुनवाई नहीं

ममता बनर्जी के एमपी भतीजे अभिषेक बनर्जी के लोकसभा क्षेत्र डायमंड हार्बर में मतदाताओं को वोट डालने नहीं दिया गया। एक महिला ने कहा, “अधिकारी आए लेकिन हमारे लिए मतदान करने की सुविधा नहीं दी।”

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण में राज्य की सीएम ममता बनर्जी के एमपी भतीजे अभिषेक बनर्जी के लोकसभा क्षेत्र डायमंड हार्बर में मतदाताओं को वोट डालने नहीं दिया गया। डायमंड हार्बर निर्वाचन क्षेत्र के मतदान केंद्र के कई मतदाताओं ने दावा किया कि तृणमूल कॉन्ग्रेस (TMC) कार्यकर्ताओं ने उन्हें वोट नहीं करने दिया। एक महिला ने कहा, “अधिकारी यहाँ आए लेकिन हमारे लिए मतदान करने की सुविधा नहीं दी।”

इससे पहले दक्षिण 24 परगना जिले के डायमंड हार्बर से भाजपा प्रत्याशी दीपक हलदर ने अपने विधानसभा क्षेत्र में कई बूथों पर तृणमूल कॉन्ग्रेस के गुंडों द्वारा लोगों को वोट देने से रोकने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि टीएमसी के गुंडे बूथ संख्या 180, 143 (दगिरा बडुलडंगा) पर लोगों को वोट नहीं डालने दिया। मैंने चुनाव आयोग के अधिकारियों से शिकायत की है।

बता दें कि दीपक हालदार पहले डायमंड हार्बर से टीएमसी के एमएलए थे, लेकिन विगत दो वर्षों से टीएमसी से नाराज थे और चुनाव के पहले वह बीजेपी में शामिल हुए हैं। बीजेपी ने उन्हें डायमंड हार्बर से उम्मीदवार बनाया है।

इस घटना के बाद लोगों की तरह-तरह की प्रतिक्रियाएँ सामने आ रही है। एक सोशल मीडिया यूजर ने इस पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा, “चमचे कहाँ गए अब लोकतंत्र खतरे में नहीं हैं।”

एक अन्य सोशल मीडिया यूजर ने लिखा, “कम से कम अब, हर कोई यह समझ गया है कि टीएमसी सभी चुनाव कैसे जीतती रही है। 2016 में, ऐसा कवरेज नहीं किया गया था।”

वहीं एक अन्य यूजर ने लिखा कि टीएमसी हार मान चुकी है, इसलिए गुंडागर्दी पर उतर आई है।

बता दें कि हुगली जिले के तारकेश्वर विधानसभा में बीजेपी एजेंट को बूथ में न घुसने देने की घटना सामने आई। यहाँ भाजपा प्रत्याशी स्वप्नदास के पहुँचने के बाद वह अपने बूथ एजेंट का हाथ पकड़ कर उसे अंदर लेकर गए। न्यूज 18 बंगला के अनुसार, भाजपा कार्यकर्ता ने स्वप्नदास गुप्ता को बताया कि उसे एक हफ्ते से डराया जा रहा है और मौत की धमकियाँ भी मिल रही हैं।

स्वप्नदास गुप्ता ने इस बारे में बताया कि उनके बूथ एजेंट को अंदर जाने नहीं दिया गया या वह किसी कारण बूथ पर नहीं पहुँच पाए, इसकी वह जाँच कर रहे हैं। इस बीच बारुईपुर पूर्बा विधानसभा के भाजपा प्रत्याशी चंदन मंडल ने गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि उनके पार्टी एजेंट्स को 8 इलेक्शन बूथ पर जाने से रोका गया।

उल्लेखनीय है कि तीसरे चरण के मतदान के बीच केवल आपसी झड़प के मामले सामने नहीं आए बल्कि हत्या की घटनाएँ भी दर्ज की गई। बीरभूम के दुबराजपुर इलाके में बीजेपी के बूथ उपाध्यक्ष पतिहार डोम का कत्ल कर दिया गया, जिसके बाद बीजेपी ने टीएमसी कार्यकर्ताओं पर मर्डर का आरोप लगाया।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

योगी सरकार के एक्शन के डर से 3 कुख्यात गैंगस्टर मोमीन, इन्तजार और मंगता हाथ उठाकर पहुँचे थाने, किया आत्मसमर्पण

मामला यूपी के शामली जिले का है। सभी गैंगस्टर्स ने कहा कि वो अपराध से तौबा कर भविष्य में अपराध न करने की कसम खाते हैं।

जहाँ से इस्लाम शुरू, नारीवाद वहीं पर खत्म… डर और मौत भला ‘चॉइस’ कैसे: नितिन गुप्ता (रिवाल्डो)

हिंदुस्तान में नारीवाद वहीं पर खत्म हो जाता है, जहाँ से इस्लाम शुरू होता है। तीन तलाक, निकाह, हलाला पर चुप रहने वाले...

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,018FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe