Saturday, July 24, 2021
HomeराजनीतिPM मोदी के आरोपों से तिलमिलाई ममता बनर्जी ने किया खाली वार: 'किसान सम्मान...

PM मोदी के आरोपों से तिलमिलाई ममता बनर्जी ने किया खाली वार: ‘किसान सम्मान निधि’ नहीं लागू करने पर दिया गोलमोल जवाब

"आज (शुक्रवार को) पीएम मोदी ने अपने टेलीविजन भाषण में किसानों के मुद्दों को सुलझाने पर काम करने की बजाय उनके प्रति अपनी चिंता जताई। इस दौरान उन्होंने सार्वजनिक तौर पर पश्चिम बंगाल के किसानों को सम्मान निधि योजना के तहत मदद करने के अपने इरादे का दावा किया।"

पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत किसानों को 18000 करोड़ रुपए ट्रांसफर करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार (25 दिसंबर, 2020) को ममता बनर्जी सरकार पर हमला बोलते हुए 70 लाख किसानों को राजनीतिक वजहों से मदद से वंचित रखने का आरोप लगाया था। साथ ही उन्होंने इस मुद्दे पर उनकी विचारधारा को भी कोसा था।

वहीं अब पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने मामले में खुद को घिरता देख पलटवार किया है। हालाँकि, इस दौरान भी उन्होंने राज्य में पीएम किसान सम्मान निधि योजना को नहीं लागू करने को लेकर कोई बात नहीं कही और मुद्दे को अलग ही दिशा देते हुए पीएम मोदी पर ही लोगों को गुमराह करने का आरोप लगा दिया।

सीएम ममता बनर्जी ने कहा, “आज (शुक्रवार को) पीएम मोदी ने अपने टेलीविजन भाषण में किसानों के मुद्दों को सुलझाने पर काम करने की बजाय उनके प्रति अपनी चिंता जताई। इस दौरान उन्होंने सार्वजनिक तौर पर पश्चिम बंगाल के किसानों को सम्मान निधि योजना के तहत मदद करने के अपने इरादे का दावा किया। फैक्ट ये है कि वह लोगों को अपने आधे सच से गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं।”

ममता ने केंद्र सरकार पर आरोप लगाया, “तथ्य यह है कि मोदी सरकार ने पश्चिम बंगाल की मदद करने के लिए एक भी काम नहीं किया है। उन्हें अभी तक बकाया 85 हजार करोड़ रुपए की राशि जारी करनी है, जिसमें 8000 करोड़ रुपये का जीएसटी बकाया भी शामिल है, जिसका भुगतान अभी तक नहीं किया गया है।”

वहीं दूसरी ओर ममता पर निशाना साधते हुए राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने भी राज्य के किसानों को पीएम सम्मान निधि नहीं मिलने का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा, “यह मेरे लिए चिंता कि बात है कि पश्चिम बंगाल के किसानों को प्रधानमंत्री सम्मान निधि का फायदा नहीं मिल सकेगा।” ममता सरकार के रवैए को लेकर उन्होंने कहा, “एक राज्यपाल होने के नाते मैंने कई बार मुख्यमंत्री को इस मुद्दे पर अवगत कराया है, लेकिन मेरे किसी भी पत्र का जवाब नहीं दिया गया।”

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज किसानों से बातचीत के दौरान ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए कहा था, “अगर बंगाल आपकी धरती है तो आपने बंगाल में किसानों को केंद्र सरकार की योजना से होने वाले लाभ से क्यों वंचित रखा? अब आप उठ कर पंजाब पहुँच गए? आपको क्या लगता है लोग इसे भूल जाएँगे।”

उन्होंने कहा कि बंगाल के किसानों को केंद्र की योजनाओं के लाभ से वंचित रखा गया। बंगाल एकमात्र ऐसा राज्य है, जो योजनाओं का लाभ किसानों तक नहीं पहुँचने दे रहा। ममता बनर्जी की विचारधारा ने बंगाल को बर्बाद कर दिया है। अपनी बात रखते हुए पीएम ने उस विचारधारा को भी कोसा, जिसके कारण आज बंगाल का विकास रुका हुआ है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘हमने मोदी को जिताया की रट लगाते हो, खुद 2 बार लड़े तो क्यों नहीं जीत गए?’ महिला पत्रकार ने उतार दी राकेश टिकैत...

'इंडिया 1 न्यूज़' की गरिमा सिंह ने राकेश टिकैत के इस बयान को लेकर भी सवाल पूछा जिसमें वो बार-बार कहते हैं कि इस सरकार को 'हमने जिताया'।

UP में सपा-AIMIM का मुस्लिम डिप्टी CM, मायावती का ब्राह्मण प्रेम और राहुल गाँधी को पसंद नहीं ‘अमेठी’ के आम: 2022 की तैयारी

राहुल गाँधी ने कहा कि उन्हें यूपी के आम का स्वाद पसंद नहीं। उन्होंने कहा कि उन्हें आंध्र प्रदेश के आम पसंद हैं। ओवैसी ने सपा को दिया गठबंधन का ऑफर।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
110,931FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe