Tuesday, May 21, 2024
Homeराजनीति'बेईमान और भ्रष्टाचारी नेताओं को आगे किया जा रहा है, क्योंकि वे चापलूस हैं':...

‘बेईमान और भ्रष्टाचारी नेताओं को आगे किया जा रहा है, क्योंकि वे चापलूस हैं’: ममता बनर्जी के एक और मंत्री ने खोला मोर्चा

पश्चिम बंगाल के वन मंत्री राजीब बनर्जी ने कहा कि उनका कभी-कभी मन करता है कि वे भी बाहर निकलें और इन चीजों के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन करें। उन्होंने साउथ कोलकाता में एक समाजिक कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि जो लोग AC में बैठ कर जनता को बेवकूफ बनाते हैं, उन्हें हर स्तर पर आगे बढ़ाया जा रहा है।

पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी की तृणमूल कॉन्ग्रेस (TMC) में बगावतों का दौर थमता नहीं नजर आ रहा है। शुभेंदु अधिकारी ने मंत्री पद से इस्तीफा देकर एक समानांतर संगठन तैयार कर लिया है। कूच विहार के विधायक मिहिर गोस्वामी भाजपा में जा चुके हैं। अब राज्य के वन मंत्री राजीब बनर्जी की नाराजगी सामने आई है। उन्होंने शनिवार (दिसंबर 5, 2020) को अपनी सरकार पर निशाना साधते हुए बड़े आरोप लगाए।

राजीब बनर्जी ने कहा कि उन्हें तब बहुत दुःख होता है, जब वे देखते हैं कि बेईमान और भ्रष्टाचारी लोगों को आगे रखा जा रहा है। उन्होंने कहा कि ये सब सिर्फ इसीलिए किया जा रहा है, क्योंकि ऐसे लोग चापलूस होते हैं। उन्होंने कहा कि ये ‘चापलूसी का युग’ है और जो सक्षम और योग्य हैं, उन्हें वो सब नहीं मिल रहा जिसके वे हकदार हैं। उन्होंने कहा कि ये सब कुछ देख कर उन्हें बड़ी ठेस पहुँचती है।

पश्चिम बंगाल के वन मंत्री राजीब बनर्जी ने कहा कि उनका कभी-कभी मन करता है कि वे भी बाहर निकलें और इन चीजों के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन करें। उन्होंने साउथ कोलकाता में एक समाजिक कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि जो लोग AC में बैठ कर जनता को बेवकूफ बनाते हैं, उन्हें हर स्तर पर आगे बढ़ाया जा रहा है। उन्होंने खुद का उदाहरण देते हुए कहा कि जिन लोगों ने कुशलता से काम किया है, वो पीछे छूट जाते हैं।

उन्होंने ऐलान किया कि ऐसे लोगों का विरोध करने का अब सही समय है, क्योंकि जनता ने उन्हें स्वीकार करना बंद कर दिया है। उन्होंने ऐसे लोगों के खिलाफ आवाज़ उठाने की बात कही। ये सब ऐसे समय में हो रहा है, जब मुख्यमंत्री और TMC सुप्रीमो ममता बनर्जी ने पार्टी को एकजुट रहने की सलाह दी है। इस बयान के 1 दिन बाद राजीब ने कहा कि एकजुट होकर आगे बढ़े चापलूसों को सबक सिखाने का समय आ गया है।

उन्होंने कहावत याद दिलाई कि आप सभी लोगों को हमेशा के लिए बेवकूफ नहीं बना सकते। राजीब हावड़ा के डोमजूर क्षेत्र से विधायक हैं। उन्होंने लोगों को भरोसा दिलाया कि उनकी राजनीति जनता के लिए है और भले ही लाख बाधाएँ आएँ, वो जनसेवा पर केंद्रित रहेंगे। उन्होंने बताया कि कई लोग राजनीति से इसीलिए विमुख हो गए हैं, क्योंकि यहाँ भ्रष्टाचारियों का बोलबाला है। उन्होंने कहा कि आज युवाओं के मन में राजनीति को लेकर सही धारणा नहीं है।

पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार से इस्तीफा देने वाले शुभेंदु अधिकारी ने रविवार (नवंबर 29, 2020) को पूर्वी मिदनापुर में सभा की थी। हालॉंकि उन्होंने अपने पत्ते पूरी तरह नहीं खोले हैं। इस सभा के जरिए उन्होंने अपनी ताकत की झलक दिखाने की कोशिश की। सत्ताधारी टीएमसी उनकी नाराजगी दूर करने की कोशिशों में लगी है। शुभेंदु अधिकारी ने अपने समर्थकों से कहा है कि वे सड़क पर उतरने के लिए गोलबंद हो जाएँ।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

J&K के बारामुला में टूट गया पिछले 40 साल का रिकॉर्ड, पश्चिम बंगाल में सर्वाधिक 73% मतदान: 5वें चरण में भी महाराष्ट्र में फीका-फीका...

पश्चिम बंगाल 73% पोलिंग के साथ सबसे आगे है, वहीं इसके बाद 67.15% के साथ लद्दाख का स्थान रहा। झारखंड में 63%, ओडिशा में 60.72%, उत्तर प्रदेश में 57.79% और जम्मू कश्मीर में 54.67% मतदाताओं ने वोट डाले।

भारत पर हमले के लिए 44 ड्रोन, मुंबई के बगल में ISIS का अड्डा: गाँव को अल-शाम घोषित चला रहे थे शरिया, जिहाद की...

साकिब नाचन जिन भी युवाओं को अपनी टीम में भर्ती करता था उनको जिहाद की कसम दिलाई जाती थी। इस पूरी आतंकी टीम को विदेशी आकाओं से निर्देश मिला करते थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -