BJP विधायक के ऊपर बम से हमला, TMC के गुंडो ने की पार्टी ऑफिस में तोड़फोड़

"मुझे पता चला कि मेरे पार्टी कार्यालय में तोड़फोड़ की जा रही है, जब मैं वहाँ पहुँचा तो मैंने देखा कि एक लड़का मेरे ऑफिस को TMC के झंडे वाले रंग से रंग रहा था।"

पश्चिम बंगाल में राजनीतिक हिंसा का दौर थमने का नाम नहीं ले रहा है। तृणमूल कॉन्ग्रेस (TMC) के गुंडे आए दिन हिंसात्मक घटनाओं को अंजाम देते रहते हैं। ऐसा ही एक मामला उत्तर 24 परगना का है, जहाँ बीजेपी के भाटपारा विधायक पवन सिंह ने आरोप लगाया कि उनके पार्टी कार्यालय में तोड़फोड़ की गई और TMC के लोगों द्वारा उन पर बम से हमला किया गया।

उन्होंने कहा, “मुझे पता चला कि मेरे पार्टी कार्यालय में तोड़फोड़ की जा रही है, जब मैं वहाँ पहुँचा तो मैंने देखा कि एक लड़का मेरे ऑफिस को TMC के झंडे वाले रंग से रंग रहा था।”

पश्चिम बंगाल में बीजेपी सदस्यों को तंग करने और उनकी हत्या करने का सिलसिला कोई नया नहीं है। राज्य के विद्युत मंत्री सोवनदेब चट्टोपाध्याय ने अपनी ही पार्टी की सांसद माला रॉय के समर्थकों पर मारपीट का आरोप लगाया था। उनका कहना था कि उन पर यह हमला दक्षिण कोलकाता में एक कार्यक्रम के दौरान किया गया।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

इसके अलावा, अक्टूबर महीनें में राज्य के बीरभूम में TMC गुंडों ने 47 वर्षीय महिला बीजेपी कार्यकर्ता शंकरी बागड़ी की गोली मारकर हत्या कर दी थी। वहीं, छ: अन्य बीजेपी समर्थक गंभीर रूप से घायल हो गए थे। बताया गया था कि TMC के गुंडों ने बंदूकों और हथियार के साथ शंकरी बागड़ी के घर को पूरी तरह से घेर लिया था। उसके बाद TMC कार्यकर्ताओं द्वारा शुरू की गई गोलीबारी में इस हिंसात्मक घटना को अंजाम दिया गया।   

बता दें कि पश्चिम बंगाल में सूबे की सरकार और राज्यपाल के बीच भी तीखी नोंक-झोंक देखने को मिलती रहती है। राज्यपाल जगदीर धनखड़ ने हाल ही में एक ट्वीट के ज़रिए ममता बनर्जी पर निशाना साधा था। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा कि दीदी ने उनके बारे में ‘तू चीज बड़ी है मस्त-मस्त’ कहा है। इस बात की पुष्टि के लिए राज्यपाल धनखड़ ने एक बंगाली अख़बार की ख़बर की तस्वीर भी शेयर की थी। 

यह भी पढ़ें:बंगाल के मंत्री पर TMC सांसद के समर्थकों ने किया हमला, ममता बनर्जी ने माँगा जवाब

यह भी पढ़ें: पश्चिम बंगाल के बीरभूम में TMC गुंडों ने महिला BJP कार्यकर्ता की गोली मारकर की हत्या, 6 घायल

यह भी पढ़ें:‘तू चीज बड़ी है मस्त-मस्त’: आखिर क्यों ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल के राज्यपाल से ऐसा कहा?


शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

शाहीन बाग़, शरजील इमाम
वे जितने ज्यादा जोर से 'इंकलाब ज़िंदाबाद' बोलेंगे, वामपंथी मीडिया उतना ही ज्यादा द्रवित होगा। कोई रवीश कुमार टीवी स्टूडियो में बैठ कर कहेगा- "क्या तिरंगा हाथ में लेकर राष्ट्रगान गाने वाले और संविधान का पाठ करने वाले देश के टुकड़े-टुकड़े गैंग के सदस्य हो सकते हैं? नहीं न।"

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

144,546फैंसलाइक करें
36,423फॉलोवर्सफॉलो करें
164,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: