Friday, July 30, 2021
Homeराजनीति'तू चीज बड़ी है मस्त-मस्त': आखिर क्यों ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल के राज्यपाल...

‘तू चीज बड़ी है मस्त-मस्त’: आखिर क्यों ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल के राज्यपाल से ऐसा कहा?

"...अख़बार में 27 नवंबर को ख़बर छपी, जिसमें विधानसभा में संविधान दिवस का ज़िक्र किया गया है। सम्मानीय मुख्यमंत्री ने राज्यपाल के लिए कहा, तू चीज बड़ी है मस्त-मस्त। मैं इसका जवाब देना ही सही नहीं समझता क्योंकि मुझे उनके पद का सम्मान है।"

पश्चिम बंगाल में राज्यपाल और सूबे की सरकार के बीच तीखी नोंक-झोंक देखने को मिल रही है। राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने बुधवार (27 नवंबर) को एक ट्वीट कर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर निशाना साधा है।

उन्होंने अपने ट्वीट में दावा करते हुए लिखा कि दीदी ने उनके बारे में ‘तू चीज बड़ी है मस्त-मस्त’ कहा है। इसे प्रमाणित करने के लिए धनखड़ ने एक बंगाली अख़बार की ख़बर की तस्वीर भी शेयर की है। अपने ट्वीट में राज्यपाल ने कहा कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने उन पर निशाना साधते हुए बॉलीवुड फ़िल्म का गाना गाया, ‘तू चीज है बड़ी मस्त-मस्त’। 

सोशल मीडिया पर उन्होंने ट्वीट किया, “…अख़बार में 27 नवंबर को ख़बर छपी, जिसमें विधानसभा में संविधान दिवस का ज़िक्र किया गया है। सम्मानीय मुख्यमंत्री ने राज्यपाल के लिए कहा, तू चीज बड़ी है मस्त-मस्त। मैं इसका जवाब देना ही सही नहीं समझता क्योंकि मुझे उनके पद का सम्मान है।”

राज्यपाल धनखड़ ने बुधवार को ही अपने एक अन्य ट्वीट में एक वीडियो भी शेयर किया। इस वीडियो में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी संविधान दिवस पर कार्यक्रम के समापन के बाद संवाददाताओं से बात कर रही थीं। 

अपने एक अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा, “मैंने कभी सम्मान देने में कोई कमी नहीं की, चाहे वह माननीय मुख्यमंत्री ही क्यों न हों। मैं उनका व्यक्तिगत तौर पर काफ़ी सम्मान करता हूँ। आश्चर्य है कि उन्होंने कोई क़दम नहीं उठाया और मैं चकित रह गया। अमित मित्रा, पार्थो समेत सभी मंत्रियों, अब्दुल मनन और सभी विधायकों का मैंने अभिवादन किया।”


  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘2 से अधिक बच्चे तो छीन लें आरक्षण और वोटिंग का अधिकार’: UP के जनसंख्या नियंत्रण कानून के पक्ष में 97% लोग

जनसंख्या नियंत्रण कानून को लेकर उत्तर प्रदेश विधि आयोग को मिले सुझाव में से ज्यादातर में सख्त कानून का समर्थन किया गया है।

रोज के ₹300, शराब के साथ शबाब भी: देह व्यापार का अड्डा बना टिकरी बॉर्डर, टेंट में नंगे पड़े रहते हैं ‘किसान’

किसान आंदोलन के नाम पर फर्जी किसान टीकरी बॉर्डर शराब और लड़कियों के साथ झाड़ियों के पीछे अय्याशी करते देखे जा सकते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,980FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe