Tuesday, July 27, 2021
Homeराजनीतितृणमूल के गुंडों ने BJP विधायक सब्यसाची दत्ता की सरेआम पिटाई की, तमाशबीन बन...

तृणमूल के गुंडों ने BJP विधायक सब्यसाची दत्ता की सरेआम पिटाई की, तमाशबीन बन देखती रही बंगाल पुलिस

सब्यसाची राजारहाट न्यू टाउन विधानसभा क्षेत्र से विधायक हैं। वो 2015-19 तक विधाननगर के पहले मेयर रहे हैं और इलाक़े में एक जाना-पहचाना नाम हैं। भाजपा में शामिल होने से पहले वो तृणमूल कॉन्ग्रेस में ही थे।

पश्चिम बंगाल में एक बार फिर से तृणमूल कॉन्ग्रेस के कार्यकर्ताओं द्वारा भाजपा नेताओं के साथ बदसलूकी करने का मामला सामने आ रहा है। सोमवार (जून 8, 2020) को पश्चिम बंगाल भाजपा के नेता सब्यसाची दत्ता के साथ बदसलूकी की गई।

उनके साथ टीएमसी के गुंडों ने धक्का-मुक्की की। सब्यसाची दत्ता वहाँ भाजपा के कुछ चोटिल कार्यकर्ताओं को देखने पहुँचे थे। वीडियो से पता चलता है कि ममता बनर्जी की पार्टी के लोगों ने उनकी पिटाई भी की

सब्यसाची राजारहाट न्यू टाउन विधानसभा क्षेत्र से विधायक हैं। वो 2015-19 तक विधाननगर के पहले मेयर रहे हैं और इलाक़े में एक जाना-पहचाना नाम हैं। भाजपा में शामिल होने से पहले वो तृणमूल कॉन्ग्रेस में ही थे

राज्यसभा सांसद स्वप्न दासगुप्ता ने सब्यसाची दत्ता की पिटाई की निंदा करते हुए कहा कि ममता बनर्जी के ‘जंगल राज’ में लोकतंत्र की स्थिति ये है कि टीएमसी के गुंडों ने पुलिस के सामने ये सब किया लेकिन पुलिस शांत रही। भाजपा के अन्य कार्यकर्ताओं को भी दौड़ाया गया।

सब्यसाची ने तृणमूल नेताओं निताई दत्ता और कृष्णपाद दत्ता पर मारपीट का आरोप लगाया है। उन्होंने जानकारी दी कि इस घटना को लेकर पुलिस के समक्ष शिकायत दर्ज करा दी गई है।

निताई को पश्चिम बंगाल के मंत्री सुहित बोस का करीबी बताया जाता है। बोस ममता बनर्जी सरकार में फायर एंड इमरजेंसी सर्विसेज विभाग में मंत्री हैं। अभी तक टीएमसी की तरफ से इस मामले में कोई स्पष्टीकरण नहीं आया है।

पश्चिम बंगाल के भाजपा कार्यकर्ताओं ने वीडियो शेयर किया है, जिसमें सब्यसाची दत्ता को तृणमूल के गुंडे खदेड़ते और पिटाई करते दिख रहे हैं। साथ ही लोगों ने पूछा कि जब एक विधायक और पूर्व मेयर के साथ इस तरह का व्यवहार किया जा रहा है तो बंगाल में आम भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ क्या होता होगा, ये सोचने वाली बात है। पश्चिम बंगाल में भाजपा कार्यकर्ताओं और संघ के स्वयंसेवकों की हत्या होती रही है। टीएमसी के गुंडों पर अक्सर आरोप लगते हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कभी ट्रैकसूट, डाइट के लिए संघर्ष करने वाली भारतीय महिला बॉक्सर लवलिना बोरगोहेन ओलंपिक में पदक से सिर्फ एक कदम दूर

लवलिना क्वार्टर फाइनल में शुक्रवार (30 जुलाई 2021) को चीनी ताइपे की निएन चिन चेन से भिड़ेंगी। चिन चेन पूर्व वर्ल्ड चैंपियन हैं और मौजूदा खेलों में उन्हें चौथी वरीयता प्राप्त है।

नाम: नूर मुहम्मद, काम: रोहिंग्या-बांग्लादेशी महिलाओं और बच्चों को बेचना; 36 घंटे चला UP पुलिस का ऑपरेशन, पकड़ा गया गिरोह

देश में रोहिंग्याओं को बसाने वाले अंतरराष्ट्रीय मानव तस्करी के गिरोह का उत्तर प्रदेश एटीएस ने भंडाफोड़ किया है। तीन लोगों को अब तक गिरफ्तार किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,464FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe