Tuesday, June 25, 2024
Homeराजनीतिजब 5 मिनट तक फ्लाइंग किस देते रहे थे भगवंत मान, बार-बार गिर रहे...

जब 5 मिनट तक फ्लाइंग किस देते रहे थे भगवंत मान, बार-बार गिर रहे थे: AAP ने बनाया चेहरा तो बोले लोग – ‘उड़ते पंजाब का उड़ता CM’

भगवंत मान पर शराब पीकर जनसभा में पहुँचने के आरोप लगे थे और लगातार 5 मिनट तक फ्लाइंग KISS देते रहे थे।

पंजाब में आम आदमी पार्टी (AAP) ने भगवंत मान (Bhagwant Mann) को मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित किया है। भगवंत मान को लोग नेता के अलावा बतौर कॉमेडियन के रूप में भी जानते हैं। उन्हें सीएम उम्मीदवार बनाने की औपचारिक घोषणा करने के बाद से उनके पुराने फोटो और वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने लगे हैं।

ट्विटर पर यूजर्स भगवंत मान को ‘पेगवंत मान’ कहकर संबोधित कर रहे हैं। उनके पाँच साल पहले का फोटो शेयर कर रहे हैं, जब उन पर शराब पीकर जनसभा में पहुँचने के आरोप लगे थे और लगातार 5 मिनट तक फ्लाइंग KISS देते रहे थे।

ट्विटर पर एक यूजर ने लिखा, “पंजाब में सीएम उम्मीदवार के लिए ‘पेगवंत मान’ का चयन करना गलत है। वह गोवा में बेहतर सेवाएँ दे सकते हैं।”

वहीं संतोष कुमार नाम के यूजर ने लिखा, “केजरीवाल चले पंजाब को नशामुक्त करने, एक नशेड़ी के सहारे।” एक अन्य यूजर ने लिखा, “पंजाब में दारू वाला, गोवा में फेनी वाला।”

पाँच साल पहले की बात है। मोगा की पुरानी अनाज मंडी में भगवंत मान एक जनसभा में पहुँचे थे, लेकिन जब वह बोलने उठे तो 5 मिनट तक ऑडियंस को फ्लाइंग किस ही देते रहे और बार-बार लड़खड़ाकर गिर रहे थे। संभले, उठे और फिर से फ्लाइंग किस देने लगे। बताया जाता है कि वह भाषण के दौरान एक बार भी सीधे खड़े नहीं हो पाए थे। किसी तरह सिक्योरिटी गार्ड ने उन्हें संभाला और सहारा देकर गाड़ी तक पहुँचाया था।

इसको लेकर कभी दिल्‍ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल के बेहद करीबी रह चुके वकील प्रशांत भूषण ने ‘आप’ सांसद भगवंत मान पर शराब पीकर जनसभा को संबोधित करने का अरोप लगाया था। भूषण ने एक अखबार की फोटो को ट्वीट करते हुए लिखा था, “आम आदमी पार्टी के स्‍टार परफॉर्मर भगवंत मान चुनावी बैठकों में शराब पीकर पहुँचे।”

बता दें कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मोहाली के एक कार्यक्रम में मंगलवार (18 जनवरी 2022) को घोषणा करते हुए बताया कि 93.9% लोगों ने CM उम्मीदवार के रूप में भगवंत मान को अपनी पसंद बताया। वो 2014 से ही AAP से जुड़े हुए हैं। उससे पहले उन्होंने 2012 के विधानसभा चुनाव में संगरूर के लेहरा विधानसभा क्षेत्र से किस्मत आजमाई थी, लेकिन उन्हें हार नसीब हुई थी। अल्कोहल को लेकर उनकी समस्या को लेकर कई बार आवाज़ उठ चुके हैं। हालाँकि, वो पंजाब में नशा मुक्ति की बात करते हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जूलियन असांजे इज फ्री… विकिलीक्स के फाउंडर को 175 साल की होती जेल पर 5 साल में ही छूटे: जानिए कैसे अमेरिका को हिलाया,...

विकिलीक्स फाउंडर जूलियन असांजे ने अमेरिका के साथ एक डील कर ली है, इसके बाद उन्हें इंग्लैंड की एक जेल से छोड़ दिया गया है।

‘जिन्होंने इमरजेंसी लगाई वे संविधान के लिए न दिखाएँ प्यार’: कॉन्ग्रेस को PM मोदी ने दिखाया आईना, आपातकाल की 50वीं बरसी पर देश मना...

इमरजेंसी की 50वीं बरसी पर पीएम मोदी ने कॉन्ग्रेस पर निशाना साधा। साथ ही लोगों को याद दिलाया कि कैसे उस समय लोगों से उनके अधिकार छीने गए थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -