Wednesday, October 20, 2021
Homeराजनीतिअपने ही घर में मरे मिले थे अन्वय नाइक और उनकी मॉं, उद्धव ठाकरे...

अपने ही घर में मरे मिले थे अन्वय नाइक और उनकी मॉं, उद्धव ठाकरे ने खरीदा था मकान; CM ने 19 घरों की जानकारी छिपाईः बीजेपी नेता किरीट सौमैया का आरोप

इस सौदे का खुलासा सीएम के चुनावी हलफनामे में नहीं था, जबकि सरकारी रिकॉर्ड बताते हैं कि इन 19 संपत्तियों को मार्च, 2014 में अन्वय नाइक से खरीदा गया, लेकिन नवंबर, 2020 में यह ठाकरे के नाम पर ट्रांसफर कर दिया गया था।

भारतीय जनता पार्टी के नेता किरीट सोमैया ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री सीएम उद्धव ठाकरे की पत्नी रश्मि ठाकरे द्वारा शिवसेना पार्टी विधायक रवींद्र वायकर की पत्नी मनीषा के साथ संयुक्त रूप से अलीबाग के कोरलाई गाँव में 23,500 स्क्वायर फीट के 19 घरों की खरीद पर सवाल उठाए हैं।

भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व सांसद किरीट सोमैया ने महाराष्ट्र मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर आरोप लगाया है कि उन्होंने अपने चुनावी हलफनामे में 19 घरों का खुलासा नहीं किया। सोमैया ने बृहस्पतिवार (जनवरी 08, 2021) को एक ट्वीट में कहा, “सीएम उद्धव ठाकरे ने अपने चुनावी हलफनामे में 5.29 करोड़ रूपए मूल्य के 23,500 स्क्वायर फीट के 19 घरों का खुलासा नहीं किया।”

सोमैया ने दावा किया कि ठाकरे ने 21 मार्च, 2014 को इंटीरियर डिजाइनर अन्वय नाइक से ग्राम कोरलाई (अलीबाग) में भूमि/मकान खरीदा था। गौरतलब है कि ये वही अन्वय नाइक (Anvay Naik) हैं, जिन्होंने 2018 में आत्महत्या कर ली थी।

सोमैया ने पूछा कि इस सौदे का खुलासा सीएम के चुनावी हलफनामे में क्यों नहीं किया गया, जबकि सरकारी रिकॉर्ड बताते हैं कि इन 19 संपत्तियों को मार्च, 2014 में अन्वय नाइक से खरीदा गया, लेकिन नवंबर, 2020 में यह ठाकरे के नाम पर ट्रांसफर कर दिया गया था।

भाजपा नेता ने बृहस्पतिवार को एक प्रेस वार्ता में कहा, “5.29 करोड़ रुपए मूल्य के ये 19 घर 12 नवंबर, 2020 तक ठाकरे की बेनामी (बेनामी) सम्पत्ति थे। मैंने कोरलाई गाँव का दौरा किया और ठाकरे के भूमि रिकॉर्ड और अन्वय नाइक के परिवार के लेन-देन की जाँच की।” प्रेस वार्ता के दौरान, सोमैया ने लेनदेन के दस्तावेज भी दिखाए।

उल्लेखनीय है कि नवंबर, 2020 में जब अन्वय नाइक की आत्महत्या का मामला फिर से खुला और पत्रकार अर्णब गोस्वामी को आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया, तो सोमैया ने कोरलाई गाँव में 9.35 एकड़ जमीन खरीदने के बारे में इसी तरह के आरोप लगाए थे और पूछा कि यह सौदा सार्वजनिक क्यों नहीं किया गया?

अन्वय नाइक और उनकी माँ कुमुद नाइक को मई, 2018 में अलीबाग स्थित उनके घर पर मृत पाया गया था। पुलिस के अनुसार, कथित तौर पर सुसाइड नोट में अन्वय नाइक ने कहा था कि वह अपना जीवन समाप्त कर रहा है क्योंकि उसे टीवी एंकर अर्णब गोस्वामी और दो अन्य लोगों द्वारा 5.40 करोड़ रुपए का बकाया भुगतान नहीं किया गया।

किरीट सोमैया ने अर्णब की गिरफ्तारी के समय भी कहा था कि मई, 2018 में आत्महत्या कर चुके अन्वय नाइक की पत्नी अक्षता और मुख्यमंत्री ठाकरे की पत्नी रश्मि ठाकरे के बीच 2014 में जमीन के 21 सौदे हुए थे। भाजपा नेता सोमैया ने ये खुलासे इस बात को सामने रखने के लिए किए थे कि ठाकरे और नाइक परिवारों के बीच पहले से ही आर्थिक लेनदेन को लेकर सम्बन्ध रहे थे।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अभी जेल में ही गुजरेंगी आर्यन खान की रातें, SRK के लाडले को नहीं मिली जमानत: पेश हुए थे दो-दो बड़े वकील

ड्रग्स मामले में शाहरुख़ खान के बेटे आर्यन खान को बुधवार (20 अक्टूबर, 2021) को भी जमानत नहीं मिली। स्पेशल NDPS कोर्ट ने नहीं दिया बेल।

‘इस्लाम ही एकमात्र समाधान है’: कानपुर में बिल की पर्ची से भी मजहबी प्रसार, IAS इफ्तिखारुद्दीन की भी यही भाषा

उत्तर प्रदेश स्थित कानपुर के कुछ कारोबारी व्यापारिक प्रतिष्ठानों के माध्यम से जिहादी विचारधारा फैला रहे हैं। ये लोग इस्लामी धर्मांतरण को बढ़ावा देने वाले IAS इफ्तिखारुद्दीन से प्रेरित हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
130,199FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe