Sunday, June 16, 2024
Homeदेश-समाजलापरवाही तमिलनाडु के सरकारी हॉस्पिटल की, मर गई 17 साल की फुटबॉलर: कराने गई...

लापरवाही तमिलनाडु के सरकारी हॉस्पिटल की, मर गई 17 साल की फुटबॉलर: कराने गई थी घुटने की सर्जरी, हो गए ऑर्गेन फेल

"क्या अस्पताल में सर्जरी की सभी सुविधाएँ हैं? क्या अस्पताल में आवश्यक दवाएँ हैं? यदि मुख्यमंत्री के निर्वाचन क्षेत्र के अस्पतालों की स्थिति ऐसी है, तो तमिलनाडु के अन्य गाँवों में चिकित्सिय सुविधाओं का क्या हाल है?

चेन्नई में डॉक्टरों की लापरवाही के कारण 18 साल की फुटबॉल खिलाड़ी प्रिया आर की मृत्यु हो गई। प्रिया ने पेरियार नगर स्थित सरकारी परिधीय अस्पताल में अपने घुटने का ऑपरेशन कराया था, जिसके बाद उसके घुटने की हालत और खराब हो गई। प्रिया को लिगामेंट इंजरी थी। इसकी वजह से उसे चेन्नई के पेरियार नगर के सरकारी पेरिफेरल अस्पताल में भर्ती कराया गया। डॉक्टरों ने उसके घुटनों की सर्जरी की, जिसके बाद उसके पैर ठीक होने की बजाए और सूजने लगे।

बाद में जब हालत बिगड़ने लगी तो प्रिया को राजीव गाँधी सरकारी अस्पताल में रेफर कर दिया गया। जहां प्रिया को पहले हार्ट और किडनी संबंधित दिक्कतें आईं और फिर मल्टी ऑर्गेन फेल होने के बाद अस्पताल में उसकी मौत हो गई।

ऑपरेशन करने वाले डॉक्टर निलंबित

प्रिया की मौत के बाद उसके परिजनों ने अस्पताल परिसर में विरोध प्रदर्शन किया। मामले को बढ़ता देख आनन-फानन में पेरियार नगर स्थित सरकारी परिधीय अस्पताल के दो डॉक्टरों को निलंबित कर दिया गया है। तमिलनाडु के चिकित्सा एवं परिवार कल्याण मंत्री एमए सुब्रमण्यन ने प्रिया के परिजनों को कानूनी कार्रवाई का आश्वासन दिया है। मंत्री एमए सुब्रमण्यन ने किशोरी की मौत को लेकर दुख जताया और कहा कि ऑपरेशन में शामिल दोनों डॉक्टरों को निलंबन के साथ साथ विभागीय कार्रवाई का सामना करना पड़ेगा।

मंत्री एमए सुब्रमण्यन ने राज्य सरकार की तरफ से परिवार को 10 लाख रुपए का मुआवजा देने और परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने का ऐलान किया है।

भाजपा प्रमुख ने सरकार पर उठाए सवाल

तमिलनाडु भाजपा के प्रमुख के अन्नामलाई ने डीएमके सरकार से पीडि़त परिवार के सदस्य के लिए सरकारी नौकरी और दो करोड़ रुपए का मुआवजा देने की माँग की। उन्होंने ट्वीट किया,

“चेन्नई के राजीव गाँधी सरकारी अस्पताल में कॉलेज छात्रा, फुटबॉल खिलाड़ी बहन प्रिया की सर्जरी के दौरान सरकारी डॉक्टरों द्वारा गलत इलाज की वजह से मौत की खबर चौंकाने वाली है। उन्होंने कहा, डीएमके शासन में हर विभाग बदहाल है अब चिकित्सा विभाग भी उसमें शामिल हो गया।”

के अन्नामलाई का ट्वीट

के अन्नामलाई ने अपने एक बयान में तमिलनाडु के अस्पतालों की स्थिति पर सवाल उठाए। उन्होंने पूछा, “क्या अस्पताल में सर्जरी की सभी सुविधाएँ हैं? क्या अस्पताल में आवश्यक दवाएँ हैं? यदि मुख्यमंत्री के निर्वाचन क्षेत्र के अस्पतालों की स्थिति ऐसी है, तो तमिलनाडु के अन्य गाँवों में चिकित्सिय सुविधाओं का क्या हाल है? इन सभी सवालों का जवाब तमिलनाडु सरकार को देना होगा।” बता दें कि प्रिया स्टेट वेल की फुटबॉलर खिलाड़ी थी और चेन्नई के क्वीन मैरी कॉलेज से फिजिकल एजुकेशन की पढ़ाई कर रही थी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

भाजपा विधायक T राजा सिंह हैदराबाद में गिरफ्तार: हमले के शिकार गोरक्षकों से जा रहे थे मिलने, आरोप- मूकदर्शक बनी रही थी तेलंगाना पुलिस

तेलंगाना के मेडक में गौ रक्षा कर रहे भाजपा कार्यकर्ताओं पर हमले में 2 लोग घायल। मिलने जा रहे भाजपा विधायक टी राजा सिंह गिरफ्तार।

बाबरी अब मस्जिद नहीं ‘ढाँचा’, राम मंदिर ‘राष्ट्रीय गर्व’, अयोध्या ‘पवित्र स्थल’: NCERT ने 12वीं की किताब में किया बदलाव, सुप्रीम कोर्ट के फैसले...

अयोध्या को भारत के सबसे पवित्र स्थलों में से एक बताया गया है। राम जन्मभूमि को 'राष्ट्रीय गर्व' लिखा गया है। सन् 1528 में इसे तोड़ कर यहाँ ढाँचा बना।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -