Sunday, May 19, 2024
Homeराजनीति'नमाज पढ़ने के लिए कमरा तो हनुमान चालीसा के लिए चाहिए हॉल': झारखंड में...

‘नमाज पढ़ने के लिए कमरा तो हनुमान चालीसा के लिए चाहिए हॉल’: झारखंड में गहराया विवाद, बीजेपी नेता मंदिर के लिए भी तैयार

"अगर मुसलमान एक अलग कमरे में नमाज पढ़ सकते हैं, तो हिंदुओं को एक अलग कमरे में हनुमान चालीसा पढ़ने की अनुमति क्यों नहीं दी जा सकती है। मैं झारखंड विधानसभा के सचिव से आग्रह करता हूँ कि हिंदुओं को हनुमान चालीसा पढ़ने के लिए पाँच कमरे या एक हॉल आवंटित किया जाए।''

झारखंड के नए विधानसभा भवन में नमाज पढ़ने के लिए अलग से कमरा आवंटित किया गया है, जिससे राजनीतिक विवाद छिड़ गया है। भाजपा ने इस फैसले पर आपत्ति जताते हुए कहा है कि राज्य विधानसभा में हिंदुओं को भी ‘हनुमान चालीसा पढ़ने’ के लिए अलग कमरा आवंटित किया जाए।

एक भाजपा नेता ने कहा, “अगर मुसलमान एक अलग कमरे में नमाज पढ़ सकते हैं, तो हिंदुओं को एक अलग कमरे में हनुमान चालीसा पढ़ने की अनुमति क्यों नहीं दी जा सकती है। मैं झारखंड विधानसभा के सचिव से आग्रह करता हूँ कि हिंदुओं को हनुमान चालीसा पढ़ने के लिए पाँच कमरे या एक हॉल आवंटित किया जाए।”

पूर्व स्पीकर और बीजेपी नेता सीपी सिंह ने भी यही माँग करते हुए कहा कि विधानसभा परिसर में भी मंदिर बनाया जाए। समाचार एजेंसी एएनआई से उन्होंने कहा, “मैं नमाज कक्ष के खिलाफ नहीं हूँ, लेकिन उन्हें झारखंड विधानसभा परिसर में एक मंदिर भी बनाना चाहिए। मैं ये भी माँग करता हूँ कि वहाँ हनुमान मंदिर की स्थापना की जाए। अगर अध्यक्ष ने मंजूरी दी तो हम अपने खर्च पर मंदिर का निर्माण कर सकते हैं।”

झारखंड के नए विधानसभा भवन में नमाज पढ़ने के लिए कमरा आवंटित करने के फैसले पर आपत्ति जताते हुए भाजपा नेता बाबू लाल मरांडी ने कहा कि लोकतंत्र का मंदिर लोकतंत्र के मंदिर के रूप में ही रहना चाहिए। मरांडी ने कहा, “झारखंड विधानसभा में नमाज के लिए अलग कमरा आवंटित करना गलत है। हम इस फैसले के खिलाफ हैं।”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साल 2019 में कुटे ग्राम में झारखंड विधानसभा के नए भवन का उद्घाटन किया था। 465 करोड़ रुपए की लागत से बनी तीन मंजिला इमारत को देश की पहली पेपरलेस असेंबली कहा जाता है। भवन की आधारशिला 12 जून 2015 को रखी गई थी।

गौरतलब है कि झारखंड विधानसभा सचिवालय के अनुसार, 2 सितंबर को जारी आदेश में कहा गया है कि राज्य के नए विधानसभा भवन में एक कमरा नमाज पढ़ने के लिए आवंटित किया गया है। विधानसभा के उप सचिव नवीन कुमार के हस्ताक्षर से जारी आदेश में कहा गया है, “नए विधानसभा भवन में नमाज अदा करने के लिए नमाज कक्ष के रूप में कमरा संख्या TW-348 आवंटित किया जाता है।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

CCTV फुटेज गायब, फोन फॉर्मेट: जाँच में सहयोग नहीं कर रहा विभव कुमार, AAP के मार्च के बीच बोलीं स्वाति मालीवाल – काश मनीष...

स्वाति मालीवाल पिटाई मामले में बिभव की गिरफ्तारी से अरविंद केजरीवाल बौखलाए दिख रहे हैं। उन्होंने बीजेपी ऑफिस तक मार्च करने का ऐलान किया है।

पानी की टंकी में हथियार, जवानों के खाने-पीने की चीजों में ज़हर… जानें क्या था ‘लाल आतंकियों’ का ‘पेरमिली दलम’ जिसे नेस्तनाबूत करने में...

पेरमिली दलम ने गढ़चिरौली के जंगलों में ट्रेनिंग कैम्प खोल रखे थे। जनजातीय युवकों को सरकार के खिलाफ भड़का कर हथियार चलाने की ट्रेनिंग देते थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -