Sunday, August 1, 2021
Homeबड़ी ख़बरसैनिकों की शहादत पर कॉन्ग्रेस का घटिया बयान

सैनिकों की शहादत पर कॉन्ग्रेस का घटिया बयान

ऐसे में साफ जाहिर होता है कि कॉन्ग्रेस को देश के सुरक्षा या स्वाभिमान की जरा भी चिंता नहीं है। सत्ता पाने के लिए सुरजेवाला जैसे नेता किसी भी स्तर तक नीचे गिर सकते हैं।

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आतंकियों ने भारतीय सुरक्षा बल के जवानों पर आत्मघाती हमला किया। इस हमले में सेना के दो दर्जन से अधिक जवान शहीद हो गए। आतंकी द्वारा इस कायरतापूर्ण घटना को अंजाम देने के बाद कॉन्ग्रेसी नेता रणदीप सुरजेवाला का एक बेकार-सा बयान सामने आया है।

कॉन्ग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट करके सेना के शहीद 18 बहादुर जवानों को श्रद्धांजलि दी। इसके अलावा उन्होंने दु:ख की इस घड़ी में घटिया बयान देते हुए कहा, “इस मोदी सरकार के पिछले 5 वर्षों में यह 18वाँ बड़ा आतंकी हमला है। 56 इंच की छाती कब जवाब देगी?”

इस तरह सुरजेवाला के इस बयान से साफ ज़ाहिर होता है कि देश की सुरक्षा और सम्मान से भी अधिक वोट बैंक की राजनीति कॉन्ग्रेसी नेताओं के लिए मायने रखती है। जब पूरा देश सेना के जवानों के शहीद होने पर दु:ख महसूस कर रहा है, तब देश की दूसरी सबसे बड़ी राष्ट्रीय पार्टी के प्रवक्ता द्वारा राजनीतिक बयान देना बिल्कुल शर्मनाक है।

यह पहली बार नहीं है जब कॉन्ग्रेस से इस तरह के बयान आए हैं। दिसंबर 2018 में शगीर सईद खान ने राज्य के लोगों से भरोसा दिलाया था कि अगर कॉन्ग्रेस की सरकार बनी तो आतंक के नाम पर मारे गए लोगों के परिवार को एक करोड़ रुपए और सरकारी नौकरी दी जाएगी।

ऐसे में साफ जाहिर होता है कि कॉन्ग्रेस को देश के सुरक्षा या स्वाभिमान की जरा भी चिंता नहीं है। सत्ता पाने के लिए सुरजेवाला जैसे नेता किसी भी स्तर तक नीचे गिर सकते हैं। दर्द की इस घड़ी में जब देश के सभी राजनीतिक दलों को एक साथ इस आत्मघाती हमले के ख़िलाफ़ आवाज बुलंद करना चाहिए था, जब शहीद जवानों के परिवार के साथ खड़ा होना चाहिए था, तब सुरजेवाले ने राजनीतिक बयान देकर कॉन्ग्रेस पार्टी के असली चेहरा को उजागर किया है।


CRPF पर आतंकी हमले के बाद नीच लोगों की ‘संवेदनशील’ राजनीति शुरू हो गई है

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मुहर्रम पर यूपी में ना ताजिया ना जुलूस: योगी सरकार ने लगाई रोक, जारी गाइडलाइन पर भड़के मौलाना

उत्तर प्रदेश में डीजीपी ने मुहर्रम को लेकर गाइडलाइन जारी कर दी हैं। इस बार ताजिया का न जुलूस निकलेगा और ना ही कर्बला में मेला लगेगा। दो-तीन की संख्या में लोग ताजिया की मिट्टी ले जाकर कर्बला में ठंडा करेंगे।

हॉकी में टीम इंडिया ने 41 साल बाद दोहराया इतिहास, टोक्यो ओलंपिक के सेमीफाइनल में पहुँची: अब पदक से एक कदम दूर

भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने टोक्यो ओलिंपिक 2020 के सेमीफाइनल में जगह बना ली है। 41 साल बाद टीम सेमीफाइनल में पहुँची है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,514FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe