Tuesday, January 18, 2022
Homeराजनीति'42 लोगों की चिता की राख से मोदी करेंगे राजतिलक': कॉन्ग्रेस नेता अज़ीज़ क़ुरैशी

’42 लोगों की चिता की राख से मोदी करेंगे राजतिलक’: कॉन्ग्रेस नेता अज़ीज़ क़ुरैशी

मिजोरम के 15वें राज्यपाल रह चुके अजीज कुरैशी ने कहा है कि नरेंद्र मोदी ने प्लान करके पुलवामा हमले को अंजाम दिया है और वो 42 लोगों के खून से अपने माथे पर तिलक लगाना चाहते हैं।

फारूक़ अब्दुल्ला द्वारा पुलवामा हमले पर शक जताए जाने के बाद कॉन्ग्रेस के कद्दावर नेता ने पुलवामा को आधार बनाकर पीएम मोदी पर निशाना साधा है। मिजोरम के 15वें राज्यपाल रह चुके अजीज कुरैशी ने कहा है कि नरेंद्र मोदी ने प्लान करके पुलवामा हमले को अंजाम दिया है।

एएनआई द्वारा ट्वीट वीडियो में अजीज कुरैशी कह रहे हैं “पुलवामा में आपकी आर्मी, आपकी फौज, आपका पूरा भारत सरकार, आपकी केंद्रीय सरकार के रहते… RDX लेकर… (आवाज साफ़ नहीं) हाइवे के ऊपर कोई कैसे घुस गया? गाड़ी कैसे घुस गई वहाँ पर? प्लान करके आपने यह करवाया ताकि आपको मौका मिले। लेकिन जनता समझती है और मोदीजी चाहें कि 42 (शहीदों?) को मारकर 42 लोगों की हत्या करके उनकी चिताओं से अपना राजतिलक कर लें। जनता नहीं करने देगी उनको अब। वह चाहेंगे 42 लोगों के खून से अपने माथे पर तिलक लगा लें, लोग नहीं करने देंगे उनको।”

अजीज के अलावा राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भी पीएम पर निशाना साधते हुए कहा है कि सैन्य बलों और जवानों को हमेशा राजनीति से दूर रखा गया है। उनकी मानें तो 70 वर्षों में ऐसा पहली बार हुआ है कि सेना का राजनीतिकरण हो रहा है। गहलोत ने सीएम योगी के बयान के आधार पर कहा “योगी जी कहते हैं कि ये मोदी की सेना है, इस तरह के बयान के लिए योगी जी के खिलाफ राष्ट्रद्रोह का मुकदमा चलना चाहिए।” 

इतना ही नहीं, मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी पीएम पर निशाना साधते हुए कहा कि जब मोदी ने पैंट और पायजामा पहनना शुरू नहीं किया था तब नेहरू और इंदिरा गांधी ने फौज बना दी थी। कमलनाथ ने यह बयान खंडवा जिले के हरसूद में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए दिया, “मोदी जी आप देश की सुरक्षा की बात करते हैं। क्या 5 साल पहले (मोदी के प्रधानमंत्री बनने से पहले) देश सुरक्षित हाथों में नहीं था?” उन्होंने आगे कहा, “मोदी जी जब आपने पायजामा और पैंट पहनना सीखा नहीं था, तब जवाहरलाल नेहरू और इंदिरा गांधी ने इस देश की फौज बनाई थी, एयरफोर्स बनाई थी, नेवी बनाई थी और आप कहते हो देश सुरक्षित है आपके नीचे।”

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

17 की उम्र में पहली हत्या, MLA तक के मर्डर में नाम: सपा का प्यारा अतीक अहमद कभी था आतंक का पर्याय, योगी राज...

मुलायम सिंह यादव ने 2003 में उत्तर प्रदेश में अपनी सरकार बनाई। यह देख अतीक अहमद एक बार फिर समाजवादी हो गया। फूलपुर से वो सपा सांसद बना।

‘अमानतुल्लाह खान यहाँ नमाज पढ़ सकते हैं तो हिंदू हनुमान चालीसा क्यों नहीं?’: इंद्रप्रस्थ किले पर गरमाया विवाद, अंदर मस्जिद बनाने के भी आरोप

अमानतुल्लाह खान की एक वीडियो के विरोध में आज फिरोज शाह कोटला किले के बाहर हिंदूवादी लोगों ने इकट्ठा होकर हनुमान चालीसा का पाठ किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
151,996FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe