Thursday, November 26, 2020
Home विविध विषय अन्य घर से दूर हैं तो बैठे-बैठे Voter ID में ऐसे बदलें अपना पता, समझें...

घर से दूर हैं तो बैठे-बैठे Voter ID में ऐसे बदलें अपना पता, समझें पूरी प्रक्रिया

आपको इस कार्य के लिए जिन डॉक्यूमेंट्स की ज़रूरत पड़ेगी, उन्हें तैयार रखें। ये डॉक्यूमेंट्स हैं- पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ की स्कैन की हुई कॉपी, उम्र और पता के प्रूफ वाले डॉक्यूमेंट्स की स्कैन की हुई कॉपीज़।

अगर आप अपने घर से दूर हैं और अपने मताधिकार को बेकार नहीं जाने देना चाहते, तो आप काफ़ी आसानी से वोटर आईडी में अपना पता बदल कर वोट डाल सकते हैं। इसके लिए बहुत ही आसान प्रक्रिया है, जिसे हम यहाँ स्टेप बाय स्टेप समझा रहे हैं। नीचे चरणबद्ध तरीके से दिए गए स्टेप्स का अनुसरण करें और वोटर आईडी में अपना पता बदलें।

1.) सबसे पहले आपको फॉर्म 6 के बारे में जानना होगा जिसे आप इंटरनेट के माध्यम से घर बैठे भर सकते हैं। इसके माध्यम से आप अपने निर्वाचन क्षेत्र में बदलाव कर सकते हैं। आपको इस कार्य के लिए जिन डॉक्यूमेंट्स की ज़रूरत पड़ेगी, उन्हें तैयार रखें। ये डॉक्यूमेंट्स हैं- पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ की स्कैन की हुई कॉपी, उम्र और पता के प्रूफ वाले डॉक्यूमेंट्स की स्कैन की हुई कॉपीज।

2.) डॉक्यूमेंट्स और फोटोग्राफ अपलोड करते समय आपको कुछ बातें ध्यान में रखनी है। आपको सपोर्टिंग डॉक्यूमेंट सेक्शन में जाकर क्लिक करना होगा ताकि आप अपलोड कर सकें। किसी भी फाइल का आकार 2 एमबी से ज्यादा नहीं हो, इस बात का ध्यान रखें।

उम्र प्रूफ के लिए स्वीकार्य डॉक्यूमेंट्स: जन्म प्रमाण पत्र, 5वीं, 8वीं या 10वीं का मार्कशीट, भारतीय पासपोर्ट, ड्राइविंग लइसेंस, आधार कार्ड।

अभी का पता प्रूफ करने के लिए स्वीकार्य डॉक्यूमेंट्स: ड्राइविंग लइसेंस, भारतीय पासपोर्ट, राशन कार्ड, रेंट एग्रीमेंट, आईटी असेसमेंट ऑर्डर, पानी/बजली/टेलीफोन/गैस/बिजली का बिल, बैंक/किसान/डाकघर का पासबुक।

3.) सबसे पहले राष्ट्रीय मतदाता सेवा पोर्टल (NVSP) की वेबसाइट पर जाएँ

मतदाता पोर्टल की वेबसाइट कुछ यूँ खुलेगी

4.) यहाँ “Apply online for registration of new voter/due to shifting from AC” पर क्लिक करें। ऐसा करते ही आपके सामने फॉर्म 6 खुल जाएगा, जिसे आपको भरना है।

फॉर्म 6 पर जाने के लिए यहाँ क्लिक करें

5.) ऊपर दाहिने कोने में जाकर अपनी भाषा चुनें। आप जो भी भाषा चुनेंगे, फॉर्म 6 उसी भाषा में खुलेगा। ये फॉर्म तीन भाषाओँ में उपलब्ध है- हिंदी, अंग्रेजी, मलयालम।

भाषा चुनें, ड्रॉपडाउन में जाकर नीचे-ऊपर स्क्रॉल कर के भाषा बदल सकते हैं

6.) फॉर्म 6 को 6 भागों में विभाजित किया गया है- Mandatory particulars, Address, Optional particulars, Supporting documents और Declaration में। आपको सभी विवरण भरने हैं। वैकल्पिक को आप इच्छानुसार छोड़ सकते हैं। फॉर्म भरने के बाद आपके SMS आएगा, जो इसकी पुष्टि करेगा।

7.) सबसे पहले ज़रूरी विवरण भरें, जैसे कि राज्य, निर्वाचन क्षेत्र, जिला इत्यादि। ये सारे विवरण आप अभी जिस निर्वाचन क्षेत्र में रह रहे हैं, उसी के अनुसार भरें।

अपने अभी के निर्वाचन क्षेत्र के हिसाब से ये विवरण भरें

8.) ‘पहली बार के मतदाता के रूप में’ या ‘अन्‍य सभा क्षेत्र से स्‍थानांतरण के कारण’ में से कोई एक चुनें। अगर आपने अपना निर्वाचन क्षेत्र बदला है तो दूसरा वाला विकल्प चुनें।

पहली बार वोट दाल रहे हैं या निर्वाचन क्षेत्र बदल रहे हैं? यहाँ चुनें

9.) अनिवार्य विकल्पों में नाम, उपनाम, नातेदार का नाम, उम्र, इत्यादि को अंग्रेजी और स्थानीय- दोनों ही भाषाओँ में भरें। अगर आप अपनी कीबोर्ड में टैब की दबाते हैं तो वेबसाइट आपके नाम को स्थानीय भाषा में ख़ुद से बदल देगा।

नाम, उम्र इत्यादि को अंग्रेजी व स्थानीय भाषा में भरें

10.) अब आप अपना स्थायी पता और अभी का पता सही-सही भरें।

वर्तमान पता भरें
अपना स्थायी पता सही-सही भरें

11.) अब आप अपना संपर्क विवरण भरें, जैसे की ईमेल पता, मोबाइल नंबर इत्यादि। अगर आप दिव्यांग हैं, तो वो भी इसी सेक्शन में मिलेगा।

संपर्क विवरण और निःशक्तता विवरण

12.) अब अपने डाक्यूमेंट्स अपलोड करें। इसके बारे में अधिक जानकारी के लिए ऊपर हमारे स्टेप 2 पर जाकर फिर से पढ़ें।

डाक्यूमेंट्स अपलोड करें

13.) घोषणा वाले सेक्शन को भरें। यह इस फॉर्म का अंतिम सेक्शन है। यहाँ Captcha डाल कर ‘भेजें’ वाले बटन पर क्लिक करें।

घोषणा वाला सेक्शन
Captcha डाल कर ”भेजें’ पर क्लिक करें

14.) अब आपको एक Reference Id मिलेगा। उसे नोट कर लें। इसी से आप अपने आवेदन की स्थिति पर नज़र रख सकते हैं।

रिफरेन्स आईडी को नोट कर लें

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

क्या है अर्णब-अन्वय नाइक मामला? जानिए सब-कुछ: अजीत भारती का वीडियो | Arnab Goswami Anvay Naik case explained in detail

रिपब्लिक टीवी के एडिटर-इन-चीफ अर्णब गोस्वामी की गिरफ्तारी पर मुंबई पुलिस का चेहरा 4 नवंबर को पूरे देश ने देखा। 20 सशस्त्र पुलिसकर्मी उनके घर में घुसे, घसीटकर उन्हें अलीबाग थाने ले गए।

Cyclone Nivar के अगले 12 घंटे में अति विकराल रूप धरने की आशंका: ट्रेनें, फ्लाइट रद्द, NDRF की टीम तैनात

“तमिलनाडु से लगभग 30,000 से अधिक लोगों को निकाला गया है और पुडुचेरी से 7,000 लोगों को निकाला गया है। केंद्र, राज्य और स्थानीय सरकारें मिलकर काम कर रही हैं। क्षति को कम करने के लिए सभी प्रयास किए जा रहे हैं।”

आखिर CM रावत ने India Today से ये क्यों कहा- भ्रामक खबर फैलाने से बचें?

India Today ने अपने समाचार चैनल पर दावा किया कि उत्तराखंड सरकार ने देहरादून में रविवार, 29 नवम्बर से लॉकडाउन घोषित किया है।

#justiceforkirannegi: CM त्रिवेंद्र सिंह रावत ने उठाया गैंगरेप पीड़िता के परिवार को इंसाफ दिलाने का बीड़ा, कहा- अब चुप नहीं बैठेंगे

आज सोशल मीडिया के कारण किरण नेगी का यह मामला मुख्यधारा में आया है। उत्तराखंड की बेटी को इंसाफ दिलाने के लिए सीएम त्रिवेंद्र रावत ने इस पर स्वयं संज्ञान ले लिया है।

‘पहले सिर्फ ऐलान होते थे, 2014 के बाद हमने सोच बदली’: जानिए लखनऊ यूनिवर्सिटी के स्‍थापना दिवस पर क्या बोले PM मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को लखनऊ विश्वविद्यालय के शताब्दी वर्ष समारोह को वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से संबोधित किया। इस दौरान राजनाथ सिंह और योगी आदित्यनाथ के साथ ही अन्य मंत्री भी आनलाइन जुड़े रहे।

सरकार ने लक्ष्मी विलास बैंक के डीबीएस बैंक में विलय को दी मंजूरी: निकासी की सीमा भी हटाई, 6000 करोड़ के निवेश को स्वीकृति

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने लक्ष्‍मी विलास बैंक (Lakshmi Vilas Bank) के डीबीएस बैंक इंडिया लिमिटेड (DBS Bank India Limited)के साथ विलय के प्रस्‍ताव को मंजूरी दे दी है।

प्रचलित ख़बरें

फैक्टचेक: क्या आरफा खानम घंटे भर में फोटो वाली बकरी मार कर खा गई?

आरफा के पाँच बज कर दस मिनट वाले ट्वीट के साथ एक ट्वीट छः बज कर दस मिनट का था, जिसके स्क्रीनशॉट को कई लोगों ने एक दूसरे को व्हाट्सएप्प पर भेजना शुरु किया। किसी ने यह लिखा कि देखो जिस बकरी को सीने से चिपका कर फोटो खिंचा रही थी, घंटे भर में उसे मार कर खा गई।

‘मेरे पास वकील रखने के लिए रुपए नहीं हैं’: सुप्रीम कोर्ट में पूर्व सैन्य अधिकारी की पत्नी से हरीश साल्वे ने कहा- ‘मैं हूँ...

साल्वे ने अर्णब गोस्वामी का केस लड़ने के लिए रिपब्लिक न्यूज नेटवर्क से 1 रुपया भी नहीं लिया। अंतरराष्ट्रीय न्यायालय में उन्होंने कुलभूषण जाधव का केस भी मात्र 1 रुपए में लड़ा था।

बहन से छेड़खानी करता था ड्राइवर मुश्ताक, भाई गोलू और गुड्डू ने कुल्हाड़ी से काट डाला: खुद को किया पुलिस के हवाले

गोलू और गुड्डू शाम के वक्त मुश्ताक के घर पहुँच गए। दोनों ने मुश्ताक को उसके घर से घसीट कर बाहर निकाला और जम कर पीटा, फिर उन्होंने...

इतिहास में गुम हैं मुगलों को 17 बार हराने वाले अहोम योद्धा: देश भूल गया ब्रह्मपुत्र के इन बेटों को

राजपूतों और मराठों की तरह कोई और भी था, जिसने मुगलों को न सिर्फ़ नाकों चने चबवाए बल्कि उन्हें खदेड़ कर भगाया। असम के उन योद्धाओं को राष्ट्रीय पहचान नहीं मिल पाई, जिन्होंने जलयुद्ध का ऐसा नमूना पेश किया कि औरंगज़ेब तक हिल उठा। आइए, चलते हैं पूर्व में।

‘मुस्लिमों ने छठ में व्रती महिलाओं का कपड़े बदलते वीडियो बनाया, घाट पर मल-मूत्र त्यागा, सब तोड़ डाला’ – कटिहार की घटना

बिहार का कटिहार मुस्लिम बहुत सीमांचल का हिस्सा है, जिसकी सीमाएँ पश्चिम बंगाल से लगती हैं। वहाँ के छठ घाट को तहस-नहस कर दिया गया।

रहीम ने अर्जुन बनकर हिंदू विधवा से बनाए 5 दिन शारीरिक संबंध, बाद में कहा- ‘इस्लाम कबूलो तब करूँगा शादी’

जब शादी की कोई बात किए बिना अर्जुन (रहीम) महिला के घर से जाने लगा तो पीड़िता ने दबाव बनाया। इसके बाद रहीम ने अपनी सच्चाई बता...
- विज्ञापन -

‘मैं मध्य प्रदेश की धरती पर ‘लव जिहाद’ नहीं होने दूँगा, ये देश को तोड़ने का षड्यंत्र है’: CM शिवराज सिंह चौहान

“मेरे सामने ऐसे उदाहरण भी हैं कि शादी कर लो, पंचायत चुनााव लड़वा दो और फिर पंचायत के संसाधनों पर कब्जा कर लो। ऐसे लोगों से सावधान रहने की जरूरत है।"
00:20:48

क्या है अर्णब-अन्वय नाइक मामला? जानिए सब-कुछ: अजीत भारती का वीडियो | Arnab Goswami Anvay Naik case explained in detail

रिपब्लिक टीवी के एडिटर-इन-चीफ अर्णब गोस्वामी की गिरफ्तारी पर मुंबई पुलिस का चेहरा 4 नवंबर को पूरे देश ने देखा। 20 सशस्त्र पुलिसकर्मी उनके घर में घुसे, घसीटकर उन्हें अलीबाग थाने ले गए।
00:16:15

यूपी में लव जिहाद पर अध्यादेश पारित: अजीत भारती का वीडियो | UP passes ordinance on Love Jihad and conversions

नाम छिपाकर शादी करने वाले के लिए 10 साल की सजा का प्रावधान किया गया है। इसके अलावा गैरकानूनी तरीके से धर्म परिवर्तन पर 1 से 10 साल तक की सजा होगी।

Cyclone Nivar के अगले 12 घंटे में अति विकराल रूप धरने की आशंका: ट्रेनें, फ्लाइट रद्द, NDRF की टीम तैनात

“तमिलनाडु से लगभग 30,000 से अधिक लोगों को निकाला गया है और पुडुचेरी से 7,000 लोगों को निकाला गया है। केंद्र, राज्य और स्थानीय सरकारें मिलकर काम कर रही हैं। क्षति को कम करने के लिए सभी प्रयास किए जा रहे हैं।”

आखिर CM रावत ने India Today से ये क्यों कहा- भ्रामक खबर फैलाने से बचें?

India Today ने अपने समाचार चैनल पर दावा किया कि उत्तराखंड सरकार ने देहरादून में रविवार, 29 नवम्बर से लॉकडाउन घोषित किया है।

#justiceforkirannegi: CM त्रिवेंद्र सिंह रावत ने उठाया गैंगरेप पीड़िता के परिवार को इंसाफ दिलाने का बीड़ा, कहा- अब चुप नहीं बैठेंगे

आज सोशल मीडिया के कारण किरण नेगी का यह मामला मुख्यधारा में आया है। उत्तराखंड की बेटी को इंसाफ दिलाने के लिए सीएम त्रिवेंद्र रावत ने इस पर स्वयं संज्ञान ले लिया है।

फैक्टचेक: क्या आरफा खानम घंटे भर में फोटो वाली बकरी मार कर खा गई?

आरफा के पाँच बज कर दस मिनट वाले ट्वीट के साथ एक ट्वीट छः बज कर दस मिनट का था, जिसके स्क्रीनशॉट को कई लोगों ने एक दूसरे को व्हाट्सएप्प पर भेजना शुरु किया। किसी ने यह लिखा कि देखो जिस बकरी को सीने से चिपका कर फोटो खिंचा रही थी, घंटे भर में उसे मार कर खा गई।

‘पहले सिर्फ ऐलान होते थे, 2014 के बाद हमने सोच बदली’: जानिए लखनऊ यूनिवर्सिटी के स्‍थापना दिवस पर क्या बोले PM मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को लखनऊ विश्वविद्यालय के शताब्दी वर्ष समारोह को वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से संबोधित किया। इस दौरान राजनाथ सिंह और योगी आदित्यनाथ के साथ ही अन्य मंत्री भी आनलाइन जुड़े रहे।

सरकार ने लक्ष्मी विलास बैंक के डीबीएस बैंक में विलय को दी मंजूरी: निकासी की सीमा भी हटाई, 6000 करोड़ के निवेश को स्वीकृति

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने लक्ष्‍मी विलास बैंक (Lakshmi Vilas Bank) के डीबीएस बैंक इंडिया लिमिटेड (DBS Bank India Limited)के साथ विलय के प्रस्‍ताव को मंजूरी दे दी है।

TRP मामले में रिपब्लिक की COO प्रिया मुखर्जी को 20 दिन की ट्रांजिट बेल, कर्नाटक हाईकोर्ट ने मुंबई पुलिस की दलील को नकारा

कर्नाटक हाई कोर्ट ने बुधवार (नवंबर 25, 2020) को रिपब्लिक टीवी के चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर (COO) प्रिया मुखर्जी को 20 दिन का ट्रांजिट बेल दिया है।

हमसे जुड़ें

272,571FansLike
80,390FollowersFollow
357,000SubscribersSubscribe