पाकिस्तानी F-16 लड़ाकू विमान को IAF ने मार गिराया, भारत की ओर गिरे बम से कोई नुकसान नहीं: रिपोर्ट्स

पाकिस्तान ने दावा किया है कि उसने भारतीय लड़ाकू विमान मिग को मार गिराया है लेकिन यह दावा पूरी तरह खोखला प्रतीत होता है क्योंकि बड़गाम से राजौरी के बीच 200 किमी की दूरी है।

27 फ़रवरी की सुबह पाकिस्तान के विमानों ने भारतीय सीमा का उल्लंघन किया। जवाबी कार्रवाई में भारतीय वायु सेना ने उनका F-16 लड़ाकू विमान मार गिराया। सीमा पर ऐसे हालात के बाद कश्मीर का पूरा एयर फील्ड सील कर दिया गया है।

कल पाकिस्तान के बालाकोट में इंडियन एयरफोर्स के हमले के बाद पाकिस्तानी फ़ौज बौखला गई है। आज पाकिस्तानी फ़ौज ने भारतीय वायुसीमा का उल्लंघन कर राजौरी सेक्टर में बम गिराए। खबर है कि पुंछ और नौशेरा सेक्टर में भारतीय सीमा में पाकिस्तानी विमान घुसे और उन्होंने भागते समय हड़बड़ाहट में बम गिराए, जिसमें किसी भी भारतीय के हताहत होने की सूचना नहीं है।

सीमा पर हलचल के बीच बड़गाम में एक मिग विमान के क्रैश होने की भी सूचना है। हालाँकि पाकिस्तान ने दावा किया है कि यह विमान उसने मार गिराया है लेकिन यह दावा पूरी तरह खोखला प्रतीत होता है क्योंकि बड़गाम से राजौरी के बीच 200 किमी की दूरी है।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

बुधवार रात जम्मू-कश्मीर सीमा पर पाकिस्तान की ओर से जमकर गोलाबारी होती रही। भारत ने जवाबी फायरिंग में पाक की 5 चौकियां तबाह की हैं। इस बीच पंजाब से लगती पश्चिमी सीमा पर हलचल तेज है। सियालकोट में पाकिस्तान सेना के टैंकों के मूवमेंट की खबरें है।  

जम्मू-कश्मीर सीमा पर तनाव अचानक बढ़ गया है। पाकिस्तान के 2 विमानों ने भारत के नौशेरा सेक्टर में घुसने की कोशिश की, जिसे भारत के मुस्तैद वायुसेना के विमानों ने पीछे धकेल दिया। इस बीच जम्मू कश्मीर, लेह, श्रीगर, पठानकोट एयरपोर्ट्स को हाई अलर्ट पर रखा गया है। सारी कमर्शल फ्लाइट्स को रद्द कर दिया गया है।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by paying for content

बड़ी ख़बर

SC और अयोध्या मामला
"1985 में राम जन्मभूमि न्यास बना और 1989 में केस दाखिल किया गया। इसके बाद सोची समझी नीति के तहत कार सेवकों का आंदोलन चला। विश्व हिंदू परिषद ने माहौल बनाया जिसके कारण 1992 में बाबरी मस्जिद गिरा दी गई।"

ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

91,623फैंसलाइक करें
15,413फॉलोवर्सफॉलो करें
98,200सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: