Friday, July 30, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयपाकिस्तान के बलूचिस्तान में अपहरण के बाद 11 कोयला खनिकों की गोली मारकर हत्या

पाकिस्तान के बलूचिस्तान में अपहरण के बाद 11 कोयला खनिकों की गोली मारकर हत्या

जतोई ने कहा कि प्रारंभिक जाँच में पता चला है कि हमलावरों ने शिया हजारा समुदाय से संबंध रखने वाले कोयला खनिकों की पहचान की और उन्हें मार डाला। वहीं अन्य लोगों को छोड़ दिया गया, उन्हें कोई नुकसान नहीं पहुँचाया गया।

बलूचिस्तान के माच (Mach) इलाके में रविवार (जनवरी 03, 2021) को बंदूकधारी आतंकवादियों ने 11 कोयला खनिक को गोली मार कर मौत के घाट उतार दिया। 4 घायल बताए जा रहे हैं। आतंकवादी कोयला खनिकों को अगवा कर पास के पहाड़ी में ले गए और पाकिस्तान के दक्षिण-पश्चिमी बलूचिस्तान प्रांत में उन पर गोलियाँ चला दी।

पाकिस्तानी मीडिया Dawn के मुताबिक लेविस फोर्स के एक अधिकारी मोअज्जम अली जतोई ने बताया कि 6 कोयला खनिकों की मौके पर ही मौत हो गई थी, जबकि पाँच जो गंभीर रूप से घायल थे, उनकी अस्पताल ले जाते समय मौत हो गई।

जतोई ने कहा कि प्रारंभिक जाँच में पता चला है कि हमलावरों ने शिया हजारा समुदाय से संबंध रखने वाले कोयला खनिकों की पहचान की और उन्हें मार डाला। वहीं अन्य लोगों को छोड़ दिया गया, उन्हें कोई नुकसान नहीं पहुँचाया गया। फिलहाल किसी ग्रुप ने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है।

घटना के बाद पुलिस, फ्रंटियर कॉर्प्स और जिला प्रशासन के अधिकारियों की भारी टुकड़ी घटनास्थल पर पहुँची। बलूचिस्तान के मुख्यमंत्री जाम कमाल खान ने इस घटना की निंदा की है और संबंधित अधिकारियों से जाँच रिपोर्ट माँगी है। उन्होंने कहा, “जिन्होंने इन निर्दोष कोयला खनिकों को निशाना बनाया, वे किसी भी रियायत के लायक नहीं हैं।”

पाकिस्तानी पत्रकार अनस मल्लिक ने ट्विटर पर लिखा कि माच में पूर्ण रूप से नरसंहार को अंंजाम दिया गया है। भीषण तरीके से मारे गए 11 कोयला खनिकों में अधिकतर शिया हजारा समुदाय से थे। उन्होंने उम्मीद जताई है कि बलूचिस्तान सरकार इसमें शामिल लोगों के खिलाफ ठोस कार्रवाई करेगी। क्वेटा के उपायुक्त मुराद कास के अनुसार, अभी तक कोई मामला दर्ज नहीं किया गया है।

वहीं बलूचिस्तान में हुई इस दर्दनाक घटना के बाद ट्वीट करते हुए पाकिस्तान के पीएम इमरान खान ने कहा कि माच में 11 निर्दोष कोयला खनिकों की निंदनीय हत्या आतंकवाद का एक और कायरतापूर्ण अमानवीय कृत्य है। उन्होंने इन हत्यारों को पकड़ने और पीड़ितों को न्याय दिलाने के लिए सभी संसाधनों का उपयोग करने के निर्देश दिए हैं।

गौरतलब है कि पिछले दिनों बलूचिस्तान नेशनल पार्टी (बीएनपी) के नेता मीर नवाब अमानुल्लाह जेहरी की खुजदार में देर रात गोली मारकर हत्या कर दी गई। हमलावरों ने जेहरी के 14 साल के पोते और दो मित्रों को भी गोलियों से छलनी कर दिया था। बीएनपी अध्यक्ष और नेशनल एसेंबली के सदस्य अख्तर मेंगल ने जेहरी की हत्या को पार्टी और बलूचिस्तान की जनता के लिए काला दिवस करार दिया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

Tokyo Olympics: 3 में से 2 राउंड जीतकर भी हार गईं मैरीकॉम, क्या उनके साथ हुई बेईमानी? भड़के फैंस

मैरीकॉम का कहना है कि उन्हें पता ही नहीं था कि वह हार गई हैं। मैच होने के दो घंटे बाद जब उन्होंने सोशल मीडिया देखा तो पता चला कि वह हार गईं।

मीडिया पर फूटा शिल्पा शेट्टी का गुस्सा, फेसबुक-गूगल समेत 29 पर मानहानि केस: शर्लिन चोपड़ा को अग्रिम जमानत नहीं, माँ ने भी की शिकायत

शिल्पा शेट्टी ने छवि धूमिल करने का आरोप लगाते हुए 29 पत्रकारों और मीडिया संस्थानों के खिलाफ बॉम्बे हाईकोर्ट में मानहानि का केस किया है। सुनवाई शुक्रवार को।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,935FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe