Sunday, May 19, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयदीवाली से पहले Pak के शिव मंदिर में तोड़फोड़, ₹25 लाख के आभूषण और...

दीवाली से पहले Pak के शिव मंदिर में तोड़फोड़, ₹25 लाख के आभूषण और रुपए भी ले गए: इलाके के लोगों की ही करतूत

सिंध स्थित हैदराबाद के जमशोरो के कोटरी में प्राचीन शिव मंदिर का ताला तोड़कर अज्ञात हमलावरों ने सोने के जेवर, चाँदी के तीन हार, मंदिर की दान पेटी से लगभग 25,000 रुपए और अन्य कीमती सामान चुरा लिए।

पाकिस्तान में हिंदूओं और मंदिरों को लगातार निशाना बनाया जा रहा है। ताजा मामला सिंध प्रांत के कोटरी का है। यहाँ एक प्राचीन हिंदू मंदिर में तोड़फोड़ की घटना सामने आई है। बताया जा रहा है कि कुछ अज्ञात बदमाशों ने मंदिर भगवान की मूर्तियों को खंडित कर चोरी की घटना को अंजाम दिया है। पाकिस्तानी न्यूज वेबसाइट डॉन की रिपोर्ट के मुताबिक, हैदराबाद के जमशोरो के कोटरी में बुधवार (28 अक्टूबर 2021) देर रात प्राचीन शिव मंदिर का ताला तोड़कर अज्ञात हमलावरों ने सोने के जेवर, चाँदी के तीन हार, मंदिर की दान पेटी से लगभग 25,000 रुपए और अन्य कीमती सामान चुरा लिए। मंदिर की देखरेख करने वाले ने बताया कि हार का वजन 10 तोले था।

पुलिस ने अज्ञात चोरों के खिलाफ मंदिर की देखरेख करने वाले भगवानदास की शिकायत पर धारा 457, 380, 295 और 297 पीपीसी के तहत मामला दर्ज किया है। जमशोरो के एसएसपी जावेद बलोच ने बताया कि मंदिर प्रबंधन को पास के आवासीय इलाके से कुछ लोगों पर मंदिर में लूटपाट करने का शक है। हालाँकि, उन्होंने प्रतिमाओं के खंडित होने से इनकार किया है, लेकिन बताया गया है कि दीवाली के मौके पर क्षेत्र में तनाव फैलाने के मकसद से इस घटना को अंजाम दिया गया है। पुलिस ने चारों तरफ मंदिरों की सुरक्षा बढ़ा दी है।

इस बीच, सिंध के अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री ज्ञानचंद इसरानी ने एसएसपी को एफआईआर दर्ज करने और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने का आदेश दिया है। उन्होंने कहा कि इस तरह की घटना ऐसे समय में सामने आई है, जब हिंदू समुदाय दीवाली का त्योहार मनाने में व्यस्त था। यह बेहद शर्मनाक है। उन्होंने एसएसपी को जिले में मंदिरों के चारों ओर सुरक्षा कड़ी करने का निर्देश दिया है, ताकि इस तरह की घटना दोबारा ना हो। बताया जा रहा है कि चोरी किए गए जेवर और अन्य सामान की कीमत 20 से 25 लाख रुपए है।

गौरतलब है कि इसी साल अगस्त में पाकिस्तान में हिंदू मंदिर को निशाना गया था। इसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। वीडियो में कट्टरपंथी इस्लामी आतंकवादी हिंदुओं के मंदिर में घुसकर भगवान गणेश, शिव-पार्वती की मूर्तियों को तोड़ते हुए नजर आ रहे थे। इसके साथ ही उन्होंने मंदिर में लगे झूमर, घंटे को भी तहस-नहस कर दिया और मंदिर परिसर को भी काफी नुकसान पहुँचाया था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

CCTV फुटेज गायब, फोन फॉर्मेट: जाँच में सहयोग नहीं कर रहा विभव कुमार, AAP के मार्च के बीच बोलीं स्वाति मालीवाल – काश मनीष...

स्वाति मालीवाल पिटाई मामले में बिभव की गिरफ्तारी से अरविंद केजरीवाल बौखलाए दिख रहे हैं। उन्होंने बीजेपी ऑफिस तक मार्च करने का ऐलान किया है।

पानी की टंकी में हथियार, जवानों के खाने-पीने की चीजों में ज़हर… जानें क्या था ‘लाल आतंकियों’ का ‘पेरमिली दलम’ जिसे नेस्तनाबूत करने में...

पेरमिली दलम ने गढ़चिरौली के जंगलों में ट्रेनिंग कैम्प खोल रखे थे। जनजातीय युवकों को सरकार के खिलाफ भड़का कर हथियार चलाने की ट्रेनिंग देते थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -