Wednesday, September 29, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयमंदिर में इस्लामी कट्टरपंथियों ने भगवान गणेश, शिव-पार्वती की मूर्तियों को तोड़ा, जलाया भी...

मंदिर में इस्लामी कट्टरपंथियों ने भगवान गणेश, शिव-पार्वती की मूर्तियों को तोड़ा, जलाया भी – पाकिस्तान से वीडियो वायरल

''पंजाब प्रांत के रहीमयार खान जिले के भोंग शहर में हिंदू मंदिर में कट्टरपंथियों ने हमला किया है। इसके चलते इलाके में बुधवार को हालात तनावपूर्ण हो गए थे।''

पाकिस्तान में हिंदुओं पर अत्याचार थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। आए दिन हिंदू धर्म स्थलों को निशाना बनाया जा रहा है। इसी बीच सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। वीडियो में कट्टरपंथी इस्लामी आतंकवादी हिंदुओं के मंदिर में घुसकर भगवान गणेश, शिव-पार्वती की मूर्तियों को तोड़ते हुए नजर आ रहे हैं। इसके साथ ही उन्होंने मंदिर में लगे झूमर, घंटे को भी तहस-नहस कर दिया और मंदिर परिसर को भी काफी नुकसान पहुँचाया।

इस वीडियो को पाकिस्तान में ‘द राइज न्यूज’ की पत्रकार और संस्थापक संपादक वींगास (Veengas) ने अपने ट्विटर हैंडल पर शेयर किया है। यह घटना पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के रहीमयार खान के पास स्थित भोंग शहर की है। उन्होंने लिखा, “पंजाब के रहीमयार खान के गाँव भोंग के गणेश मंदिर में तोड़फोड़ की गई है। एक बार फिर पाकिस्तान में हिंदुओं पर हमला किया गया।”

बताया जा रहा है कि इन आतंकियों ने पहले गणेश मंदिर में भगवान की मूर्तियों को पत्थर मारकर, लकड़ी के लट्ठ से मारकर तोड़ा। फिर इसके बाद पाकिस्‍तानी कट्टरपंथ‍ियों ने इस पूरी घटना को फेसबुक पर लाइव भी किया। वो यही नहीं रुके। घटना को अंजाम देने के बाद उन्होंने मंदिर को आग के हवाले कर दिया।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, जब स्‍थानीय लोगों ने इसकी शिकायत पुलिस में की,तो उन्होंने हिंदुओं की बात पर कोई ध्‍यान नहीं दिया। इसके बाद पाकिस्तान में अल्‍पसंख्‍यक समुदाय ने सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस से हस्‍तक्षेप की गुहार लगाई है।

पाकिस्‍तान के हिंदू परिषद के अध्‍यक्ष डॉक्‍टर रमेश वानकानी ने बताया, ”पंजाब प्रांत के रहीमयार खान जिले के भोंग शहर में हिंदू मंदिर में कट्टरपंथियों ने हमला किया है। इसके चलते इलाके में बुधवार को हालात तनावपूर्ण हो गए थे।” वानकानी ने बताया कि स्‍थानीय पुलिस हिंदुओं का ध्‍यान नहीं रख रही है, जो बेहद शर्मनाक है। सुप्रीम कोर्ट के मुख्‍य न्‍यायाधीश से अनुरोध किया गया है कि वे दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करें।

मामला तूल पकड़ने के बाद जाँच करने के लिए उपायुक्त डॉ. खुरम शहजाद भोंग शरीफ गणेश मंदिर पहुँचे। लेकिन अभी तक इस मामले में किसी भी कट्टरपंथी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। वहीं, इस घटना के बाद पाकिस्तान में अल्पसंख्यक समुदाय में खासा रोष है। इमरान खान की पार्टी के नेता जय कुमार धीरानी ने घटना की निंदा करते हुए दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की माँग की है।

गौरतलब है कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान भले ही यह दावा करते हुए नहीं थकते हो कि वह अपने देश में अल्पसंख्यकों को सुरक्षा दे रहे हैं। अल्पसंख्यक समुदाय के धर्मस्थलों के रख-रखाव के लिए हर संभव कोशिश कर रहे हैं, लेकिन सच्चाई इससे कोसों दूर है। पाकिस्तान में लगातार हिंदुओं को निशाना बनाया जा रहा है। आए दिन हिंदू धर्म स्थलों को तोड़ने की खबरें आती रहती हैं। इसके बावजूद इमरान खान का इन सभी घटनाओं पर चुप्पी साधे रहना पाकिस्तान के चेहरे ​को बेनकाब करता है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘उमर खालिद को मिली मुस्लिम होने की सजा’: कन्हैया के कॉन्ग्रेस ज्वाइन करने पर छलका जेल में बंद ‘दंगाई’ के लिए कट्टरपंथियों का दर्द

उमर खालिद को पिछले साल 14 सितंबर को गिरफ्तार किया गया था, वो भी उत्तर पूर्वी दिल्ली में भड़की हिंसा के मामले में। उसपे ट्रंप दौरे के दौरान साजिश रचने का आरोप है

कॉन्ग्रेस आलाकमान ने नहीं स्वीकारा सिद्धू का इस्तीफा- सुल्ताना, परगट और ढींगरा के मंत्री पदों से दिए इस्तीफे से बैकफुट पर पार्टी: रिपोर्ट्स

सुल्ताना ने कहा, ''सिद्धू साहब सिद्धांतों के आदमी हैं। वह पंजाब और पंजाबियत के लिए लड़ रहे हैं। नवजोत सिंह सिद्धू के साथ एकजुटता दिखाते हुए’ इस्तीफा दे रही हूँ।"

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
125,044FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe