Monday, May 16, 2022
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयBBC ने ब्रिटेन में यहूदियों पर हमले को बता दिया मुस्लिम विरोधी हेट क्राइम:...

BBC ने ब्रिटेन में यहूदियों पर हमले को बता दिया मुस्लिम विरोधी हेट क्राइम: फेक न्यूज पर पकड़े जाने के बाद चुपके से माँगी माफी

इस घटना के बाद ब्रिटेने के यहूदियों ने बीबीसी ऑफिस के सामने प्रदर्शन किया था। प्रदर्शनकारियों का कहना था कि घटना के लिए बीबीसी यहूदियों को दोष देना बंद करे। वहीं, बीबीसी से 30 वर्षों से जुड़े पत्रकार एवं न्यूज एंकर रब्बी वाईवाई रुबीन्स्टीन ने इस्तीफा दे दिया था।

फेक न्यूज (Fake News) फैलाने के लिए कुख्यात अंतरराष्ट्रीय न्यूज एजेंसी बीबीसी (BBC) की चोरी एक बार फिर पकड़ी गई है और हर बार की तरह वह इस बार भी उसने माफी माँगकर मामला रफा-दफा करने की कोशिश की है। हालिया मामला ब्रिटेन का है। लंदन के ऑक्सफोर्ड स्ट्रीट पर यहूदी किशोरों के बस पर हुए हमले को लेकर बीबीसी ने फेक न्यूज फैलाई थी। इस मामले में ब्रिटेन की दूसंचार रेग्यूलेटर ऑफकॉम (Ofcom) ने जाँच शुरू की है।

पिछले साल नवंबर में लंदन के ऑक्सफोर्ड स्ट्रीट का एक वीडियो सामने आया था, जिसमें एक बस में बैठे लगभग 40 यहूदी किशोरों पर कुछ लोगों का एक समूह थूक रहा रहा था और उनके साथ गाली-गलौज कर रहा था। ये बस की खिड़कियों पर धक्का दे रहे थे। इस घटना को बीबीसी ने अलग ही रंग दे दिया था। बीबीसी ने अपनी रिपोर्ट में कहा था कि बस यहूदी किशोर मुस्लिम विरोधी बातें कही जा रही थीं और उनके साथ गाली-गलौज की जा रही थी।

ब्रिटिश ऑनलाइन मीडिया न्यूज वेबसाइट ‘डेली मेल’ के अनुसार, स्थानीय पुलिस ने इस घटना को ‘हेट क्राइम’ (Hate Crime) कहा था। वहीं, ब्रिटिश यहूदियों के बोर्ड ऑफ डेप्यूटी (Deputies of British Jews) एवं मुख्य रब्बी ने बीबीसी की निष्पक्षता पर सवाल उठाए थे। तब बीबीसी के महानिदेशक टिम डेवी ने कॉरपोर्शन की कार्यकारी शिकायत इकाई (ICU) को शिकायतों की ‘तत्काल के रूप में’ जाँच करने का निर्देश दिया था।

बुधवार को प्रकाशित अपने निष्कर्षों में ईसीयू ने कहा कि ऑनलाइन और टेलीविजन के मूल संस्करण ‘बीबीसी के उचित सटीकता के मानकों को पूरा नहीं करते’। इसने अपनी रिपोर्ट में कहा कि बीबीसी के टीवी प्रसारण और ऑनलाइन स्टोरी में अंतर है। रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि बीबीसी ने अपनी ऑनलाइन रिपोर्ट में उचित सटीकता के मानकों को पूरा नहीं किया और इसमें निष्पक्षता का अभाव है।

बीबीसी ने अपनी गलती स्वीकार करते हुए माफी माँगी और कहा कि ऑनलाइन रिपोर्ट को संशोधित कर दिया गया है, लेकिन टीवी प्रसारण के रिपोर्ट को संशोधित नहीं किया जा सकता है। इस मसले पर एंटीसेमिटिज्म के खिलाफ अभियान (Campaign Against Antisemitism) के एक प्रवक्ता ने ऑफकॉम की जाँच का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि उम्मीद है कि यहूदी समुदाय को न्याय मिलेगा।

इस घटना के बाद ब्रिटेने के यहूदियों ने बीबीसी ऑफिस के सामने प्रदर्शन किया था। प्रदर्शनकारियों का कहना था कि घटना के लिए बीबीसी यहूदियों को दोष देना बंद करे। इस घटना को लेकर बीबीसी से 30 वर्षों से जुड़े यहूदी पत्रकार एवं न्यूज एंकर रब्बी वाईवाई रुबीन्स्टीन ने इस्तीफा दे दिया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

चर्च में मौजूद थे 30-40 लोग, बाहर से चलने लगीं ताबड़तोड़ गोलियाँ: 1 की मौत, 5 घायल, दहशतगर्द हिरासत में

अमेरिका के कैलिफोर्निया के चर्च में गोलीबारी में 1 शख्स की मौत हो गई जबकि 5 लोग घायल हो गए। पुलिस ने संदिग्ध हमलावर को हिरासत में ले लिया है।

भोजपुरी, हिंदी, मराठी – सब में गरजे फडणवीस, कहा – ‘अरे ओवैसी सुन ले, कुत्ता भी ना पेशाब करेगा, औरंगजेब की पहचान पर’, CM...

बोले देवेंद्र फडणवीस, "बाला साहब बाघ थे, लेकिन इस समय एक बाघ है - नरेंद्र मोदी। आतंकियों के घर में घुसकर मारने का काम नरेंद्र मोदी ने किया।"

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
185,988FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe