Thursday, May 30, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयऐप बैन और Huawei पर छापेमारी से बौखलाया चीन, कहा- हमारे हितों को नुकसान...

ऐप बैन और Huawei पर छापेमारी से बौखलाया चीन, कहा- हमारे हितों को नुकसान पहुँचा रहा है भारत

भारत द्वारा हालिया बैन 54 चीनी ऐप्स में ब्यूटी कैमरा, स्वीट सेल्फी एचडी, सेल्फी कैमरा, इक्वलाइजर और बास बूस्टर, आइसोलैंड 2, एशेज आफ टाइम लाइट, वाइवा वीडियो एडिटर, टेनसेंट एक्सरिवर, ओनमोजी चेस, ओनमोजी एरिना, ऐपलाक, डुअल स्पेस लाइट शामिल हैं।

भारत ने सुरक्षा और निजता के उल्लंघन लेकर सोमवार (14 फरवरी 2022) को 54 और चीनी ऐप्स को बैन करने के फैसले पर चीन तिलमिला उठा है। उसने गुरुवार (17 फरवरी 2022) को भारत के इस कदम की निंदा की। चीनी वाणिज्य मंत्रालय के प्रवक्ता गाओ फेंग ने कहा कि इन प्रतिबंधों की वजह से चीनी कंपनियों के वैध अधिकारों और हितों को नुकसान पहुँच रहा है। चीनी वाणिज्य मंत्रालय ने कहा है कि भारत को अपने कारोबारी माहौल में सुधार करना चाहिए और चीनी कंपनियों सहित सभी विदेशी निवेशकों के साथ निष्पक्ष, पारदर्शी और गैर-भेदभावपूर्ण व्यवहार करना चाहिए।

गाओ ने कहा है कि एक निश्चित अवधि के दौरान भारत का संबंधित विभाग चीनी उद्यमों और संबंधित सेवाओं पर दबाव डालने का कोशिश कर रहा है, जिसने चीनी कंपनियों के वैध अधिकारों और हितों को गंभीर रूप से नुकसान पहुँचा है। चीन ने इस पर गंभीर चिंता जताई है। उन्होंने उम्मीद जताई है कि भारत दोनों देशों के बीच आर्थिक सहयोग की सकारात्मक गतिशीलता को बनाए रखने के लिए उचित उपाय करने में करेगा।

फेंग ने विशेष रूप से उल्लेख किया कि भारत-चीन के आर्थिक और व्यापार सहयोग में अभी भी बेहद लचीलापन और काफी संभावनाएँ हैं। उन्होंने कहा कि चीन और भारत सिर्फ एक पड़ोसी देश ही नहीं बल्कि महत्‍वपूर्ण आर्थिक और व्‍यापारिक पार्टनर भी हैं। दोनों देशों के बीच साल 2021 में व्यापार 125.7 अरब डॉलर के करीब पहुँच गया।

गौरतलब है कि पिछले हफ्ते भारतीय अधिकारियों ने चीनी टेलीकॉम कंपनी हुआवेई (Huawei) के परिसरों पर भी छापेमारी की थी। इससे पहले चीनी फोन निर्माता Xiaomi को कर चोरी के लिए इसी तरह की जाँच का सामना करना पड़ा था। इस साल जनवरी में Xiaomi को टैक्स चोरी के लिए 653 करोड़ रुपए का नोटिस दिया गया था।

बता दें कि भारत द्वारा बैन 54 चीनी ऐप्स में ब्यूटी कैमरा, स्वीट सेल्फी एचडी, सेल्फी कैमरा, इक्वलाइजर और बास बूस्टर, आइसोलैंड 2, एशेज आफ टाइम लाइट, वाइवा वीडियो एडिटर, टेनसेंट एक्सरिवर, ओनमोजी चेस, ओनमोजी एरिना, ऐपलाक, डुअल स्पेस लाइट शामिल हैं।

पिछले साल जून में 59 चीनी मोबाइल एप्लिकेशन पर प्रतिबंध लगा दिया था। इसके बाद 27 जुलाई 2021 को भी 47 ऐप बैन किए गए थे। सितंबर 2021 में भी भारत सरकार ने 118 चीनी मोबाइल ऐप्स पर प्रतिबंध लगाया था। फिर नवंबर में भारत सरकार ने 43 मोबाइल ऐप्स बैन किया था। इसे देश की सुरक्षा और अखंडता के लिए खतरा बताया गया था। अभी तक 321 चीनी ऐप को बैन कर दिया गया है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बाँटने की राजनीति, बाहरी ताकतों से हाथ मिला कर साजिश, प्रधान को तानाशाह बताना… क्या भारतीय राजनीति के ‘बनराकस’ हैं राहुल गाँधी?

पूरब-पश्चिम में गाँव को बाँटना, बाहरी ताकत से हाथ मिला कर प्रधान के खिलाफ साजिश, शांति समझौते का दिखावा और 'क्रांति' की बात कर अपने चमचों को फसलना - 'पंचायत' के भूषण उर्फ़ 'बनराकस' को देख कर आपको भारत के किस नेता की याद आती है?

33 साल पहले जहाँ से निकाली थी एकता यात्रा, अब वहीं साधना करने पहुँचे PM नरेंद्र मोदी: पढ़िए ईसाइयों के गढ़ में संघियों ने...

'विवेकानंद शिला स्मारक' के बगल वाली शिला पर संत तिरुवल्लुवर की प्रतिमा की स्थापना का विचार एकनाथ रानडे का ही था, क्योंकि उन्हें आशंका थी कि राजनीतिक इस्तेमाल के लिए बाद में यहाँ किसी की मूर्ति लगवाई जा सकती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -