Thursday, June 13, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयचर्च में बेहोश कर के महिलाओं का बलात्कार, खुद को बताता है जीसस क्राइस्ट...

चर्च में बेहोश कर के महिलाओं का बलात्कार, खुद को बताता है जीसस क्राइस्ट का अवतार: दक्षिण कोरिया में ईसाई कल्ट लीडर को 23 साल की जेल

उसके चर्च में हुई नियुक्तियों और वहाँ रह रहीं महिलाओं एवं बच्चियों के अलावा युवाओं के बारे में भी पता लगाया जाएगा। रिहाई के बाद उसे 15 वर्षों तक अपने घुटने में एक ट्रैकर पहनना होगा।

दक्षिण कोरिया में ईसाई कल्ट लीडर जंग मायुंग सेओक को यौन शोषण के मामलों में जेल की सज़ा मिली है। वो JMS (जीसस मॉर्निंग स्टार्ट) नामक संस्था का संस्थापक है, जिसे ‘प्रोविडेंस चर्च’ के रूप में भी जाना जाता है। 2018 में उसे 10 वर्षों की सज़ा काटने के बाद रिहा किया गया था। उस पर अपने 4 महिला समर्थकों के यौन प्रताड़ना के आरोप लगे थे। 2001-06 के बीच उसने कई बार उनका यौन शोषण किया था। रिहाई के बाद वो फिर से चर्च में यौन अपराधों को अंजाम देने लगा था।

उसने मेपल यीप नामक एक महिला को शिकार बनाया। उन्होंने ‘The Name Of God: A Holy Betrayal‘ नामक नेटफ्लीज़ डॉक्यूमेंट्री में इस संबंध में खुलासे किए हैं। इस खुलासे के बाद फिर से जाँच शुरू हुई। डेजोन के डिस्ट्रिक्ट प्रासीक्यूटर ऑफिस ने जंग मायुंग सेओक के खिलाफ 2 विदेशी अनुयायियों के यौन शोषण का मामला चलाया। फरवरी 2018 से सितंबर 2021 के बीच उक्त ईसाई लीडर ने 3 महिलाओं को 23 बार यौन प्रताड़ना एवं शोषण का शिकार बनाया।

उसे 30 साल की सज़ा सुनाने की माँग की गई और तर्क दिया गया कि पिछली बार सज़ा भुगतने के बावजूद उसमें कोई सुधार नहीं आया है। साथ ही JMS चर्च पर महिलाओं का शोषण कर के उन्हें अवसाद में पहुँचाने का आरोप भी लगा है। शुक्रवार (22 दिसंबर, 2023) को उसे 23 वर्ष की सज़ा सुनाई गई। उसके चर्च में हुई नियुक्तियों और वहाँ रह रहीं महिलाओं एवं बच्चियों के अलावा युवाओं के बारे में भी पता लगाया जाएगा। रिहाई के बाद उसे 15 वर्षों तक अपने घुटने में एक ट्रैकर पहनना होगा।

अब तक कुल 18 महिलाओं ने उसके खिलाफ यौन शोषण का मामला दर्ज कराया है, जिसमें से कई मामलों की जाँच अभी जारी है। वो बेहोश कर के महिलाओं का बलात्कार करता था। 1980 में उसने इस मूवमेंट की शुरुआत की थी। उसे उसके अनुयायी मसीहा कहने लगे और वो खुद को येशु मसीह का अवतार बताता है। 90 के दशक में भी वो हेल्थ चेकअप के नाम पर महिलाओं का यौन शोषण करता रहा है। उसके खिलाफ इंटरपोल ने भी नोटिस जारी किया था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

लड़की हिंदू, सहेली मुस्लिम… कॉलेज में कहा, ‘इस्लाम सबसे अच्छा, छोड़ दो सनातन, अमीर कश्मीरी से कराऊँगी निकाह’: देहरादून के लॉ कॉलेज में The...

थर्ड ईयर की हिंदू लड़की पर 'इस्लाम' का बखान कर धर्म परिवर्तन के लिए प्रेरित किया गया और न मानने पर उसकी तस्वीरों को सोशल मीडिया पर वायरल करने की धमकी दी गई।

जोशीमठ को मिली पौराणिक ‘ज्योतिर्मठ’ पहचान, कोश्याकुटोली बना श्री कैंची धाम : केंद्र की मंजूरी के बाद उत्तराखंड सरकार ने बदले 2 जगहों के...

ज्तोतिर्मठ आदि गुरु शंकराचार्य की तपोस्‍थली रही है। माना जाता है कि वो यहाँ आठवीं शताब्दी में आए थे और अमर कल्‍पवृक्ष के नीचे तपस्‍या के बाद उन्‍हें दिव्‍य ज्ञान ज्‍योति की प्राप्ति हुई थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -