Tuesday, June 18, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय'गौमूत्र पियो, गोबर खाओ हरा@*$': बर्मिंघम में 'अल्लाह-हू-अकबर' बोल हिंदू मंदिर पर टूटी कट्टरपंथियों...

‘गौमूत्र पियो, गोबर खाओ हरा@*$’: बर्मिंघम में ‘अल्लाह-हू-अकबर’ बोल हिंदू मंदिर पर टूटी कट्टरपंथियों की भीड़, PM मोदी को दी माँ की गाली; Videos वायरल

सामने आई वीडियोज में कट्टरपंथियों को अल्लाह-हू-अकबर के नारे लगाते सुना जा सकता है। इसके अलावा हिंदुओं को गंदी-गंदी गाली देते हुए भी कट्टरपंथी साफ सुनाई पड़ रहे हैं। देख सकते हैं कि भीड़ इन्हें रोकती है, लेकिन ये काबू में नहीं आते।

ब्रिटेन के बर्मिंघम में हिंदू मंदिर पर हुए हमले का एक वीडियो 28 सितंबर 2022 को सामने आया है। यहाँ इस्लामी भीड़ ने मंदिर के अंदर मौजूद हिंदुओं को गौमूत्र पीने वाला बता कर मज़ाक उड़ाया और उनकी पिटाई की। इस वीडियो में दिख रहा है कि हमलवारों ने अल्लाह-हू-अकबर के नारे लगाए और सुरक्षा के लिए पहुँचे पुलिस बल से भी अभद्रता की।

इस वीडियो को ट्विटर यूजर @INSIGHT_UK ने शेयर किया है। पहला वीडियो 2:10 मिनट का है। इसमें वीडियो बना रहे व्यक्ति ने हिंदुओं को मूत्र पीने वाला और बास्टर्ड कहा। बाद में उसी ने हिंदुओं को गाय का मूत्र पीने के लिए कहा। इसी वीडियो में हमलावरों द्वारा मंदिर में मौजूद हिंदुओं को माँ की गाली भी देते सुना जा सकता है।

वीडियो के आधे हिस्से के बाद पुलिस मौके पर पहुँचती है और वो हमलावरों को मंदिर से हटाने की कोशिश करती है। इस दौरान साफ देखा जा सकता है कि हमलावर न सिर्फ पुलिस वालों को धक्का देते हैं बल्कि महिला पुलिसकर्मियों पर बोतल भी फेंकते हैं। हालाँकि वो बोतल पुलिसकर्मी को नहीं लगी। इतने में वीडियो बनाने वाले की तरफ पुलिस आई और भीड़ को मंदिर की दीवार से खदेड़ने लगी। पुलिस द्वारा धक्का देते ही वे ‘अल्लाह-हू-अकबर’ के नारे लगाने लगे। 1:34 टाइमस्टैम्प पर, किसी ने महिला पुलिस कर्मियों पर एक बोतल फेंकी जो उन्हें नहीं लगी।

इसी हैंडल द्वारा शेयर किए गए दूसरे वीडियो में भीड़ ने हिंदुओं को नस्लवादी कहा गया। इस दौरान अल्लाह-हू-अकबर के नारे लगाए जा रहे थे। इस वीडियो में रिकार्ड करने वाले व्यक्ति ने कैमरा अपनी तरफ घुमाया और हिंदुओं को फिर से मूत्र पीने वाले कहते हुए माँ की गाली दी। वीडियो बनाने वाले ने अपना चेहरा ढक रखा था। इस वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि हमलावर महिला पुलिस अधिकारियों के खिलाफ भी अश्लील भाषा का प्रयोग कर रहे हैं। यह वीडियो भी 2 मिनट 20 सेकेंड का है।

इसी हैंडल से शेयर हुआ तीसरा वीडियो भी 2:20 मिनट का है। इसमें वीडियो रिकॉर्ड कर रहे व्यक्ति ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को माँ की गाली दी है। इस वीडियो में भी हिंदुओं को मूत्र पीनी वाला बता कर अन्य गालियाँ दी गईं हैं। इसी वीडियो में एक व्यक्ति को मंदिर की दीवार पर चढ़ते भी देखा जा सकता है। मंदिर के बाहर हमलावर भीड़ काले रंग का नकाब पहने हुए है। पुलिसकर्मी उन्हें हटाने की कोशिश करते दिखाई दे रहे हैं लेकिन हमलावर भीड़ पुलिस से उलझती दिख रही है।

बर्मिंघम का जो मंदिर हमले का शिकार हुआ वहाँ पर के कार्यक्रम में साध्वी ऋतम्भरा को आना था। हमलावरों ने उनके इसी दौरे को बहाने के तौर पर बनाया। हालाँकि स्वास्थ्य ठीक नहीं होने के चलते साध्वी ऋतम्भरा इस कार्यक्रम में शामिल नहीं हुई थीं। साध्वी के न आने के बावजूद भी हमलावर भीड़ ने हिन्दुओं को डराने के लिए इस प्रकार की हरकत की।

ब्रिटेन में चरमपंथियों के निशाने पर लगातार हिंदू समाज

पिछले कुछ दिनों से ब्रिटेन के अलग-अलग हिस्सों में हिंदू समाज के लोगों को हिंसा का शिकार होना पड़ा है। इस हमले का बहाना पाकिस्तान की भारत के खिलाफ टी 20 क्रिकेट में हुई हार को बनाया जा रहा है। हालाँकि बाद में पाकिस्तान ने भारत को हरा दिया था पर हमलावर इसके बावजूद नहीं रुके और उनके हिन्दुओं पर हमले जारी रहे। इन हमलों के चलते कई हिंदू परिवार लीसेस्टर छोड़ कर पलायन कर गए हैं जो अब तक नहीं लौट पाए हैं। हिंदू समाज के न सिर्फ घरों बल्कि उनके दुकानों में भी तोड़फोड़ की गई है। इतने के बावजूद कई मीडिया संस्थान इस हमले का दोष हिन्दुओं को ही देते दिखाई दिए।

हिन्दुओं को गौ मूत्र पीने वाला बताना आतंकियों की भाषा

हिन्दुओं को गौमूत्र पीने वाला बताना आतंकियों की भाषा है। साल 2019 में जैश ए मोहम्मद द्वारा पुलवामा के जिस आतंकी हमले में 42 जवानों ने बलिदान दिया था उसमें एक आतंकी को वीडियो में हिन्दुओं को गौमूत्र पीने वाला कहते सुना गया था। आतंकी का नाम आदिल अहमद डार था जो पुलवामा के आतंकी हमले में शामिल होने की बात कबूल रहा था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बेल्ट से पीटते, सिगरेट से दागते, वीडियो बनाते… 10वीं-12वीं की लड़कियों को निशाना बनाता था मुजफ्फरपुर का गिरोह, पुलिस ने भी मानी FIR में...

कुछ लड़कियों को तो जबरन शादी के लिए मजबूर किया गया। कई युवतियों का जबरन गर्भपात कराया गया। पुलिस ने मामला दर्ज करने में आनाकानी की।

NEET-UG में 0.001% की भी लापरवाही हुई तो… : सुप्रीम कोर्ट ने NTA और केंद्र सरकार को नोटिस जारी कर माँगा जवाब

सुप्रीम कोर्ट ने अहम टिप्पणी करते हुए कहा कि अगर 0.001 प्रतिशत भी किसी की खामी पाई गई तो हम उससे सख्ती से निपटेंगे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -