Sunday, May 9, 2021
Home रिपोर्ट अंतरराष्ट्रीय कट्टरपंथियों का भ्रम दूर करने चले थे राकेश: दुबई में नौकरी गई, इस्लाम के...

कट्टरपंथियों का भ्रम दूर करने चले थे राकेश: दुबई में नौकरी गई, इस्लाम के अपमान में सजा भी संभव

सोशल मीडिया इस तरह के कई वीडियो को वायरल किया जा रहा है, जिसमें दूसरे समुदाय द्वारा दावा किया गया है कि सोशल आइसोलेशन एक साजिश है। यह कोरोना वायरस से बचाव में कोई मदद नहीं करता। इसके साथ ही इसमें दावा किया गया कि दिन में पाँच बार नमाज पढ़ना कोरोना वायरस से बचने का एकमात्र उपाय है।

राकेश बी कित्तूरमठ नाम के एक भारतीय नागरिक दुबई में मुश्किलों में फँस गए हैं। उन्हें नौकरी से निकाल दिया गया है। उन्हें कथित तौर पर इस्लाम का अपमान करने के आरोप में जेल की सजा हो सकती है। उनकी गलती यह है कि उन्होंने फेसबुक पर भ्रम के शिकार मजहब के कुछ लोगों पर टिप्पणी की थी। दरअसल मजहब विशेष के कुछ टिक टॉक यूजर्स ने फेसबुक पोस्ट में लिखा था कि कोरोना वायरस को हराने के लिए पाँच टाइम नमाज पढ़ना काफी है। राकेश ने इस पर आपत्ति जाहिर की थी। राकेश Emrill Services नामक कंपनी में जॉब करते थे, जिसका मुख्यालय दुबई में है।

Comment by Kitturmath that sparked outrage on social media

बता दें कि सोशल मीडिया इस तरह के कई वीडियो को वायरल किया जा रहा है, जिसमें समुदाय के लोगों द्वारा दावा किया गया है कि सोशल आइसोलेशन एक साजिश है। यह कोरोना वायरस से बचाव में कोई मदद नहीं करता। इसके साथ ही इसमें दावा किया गया कि दिन में पाँच बार नमाज पढ़ना कोरोना वायरस से बचने का एकमात्र उपाय है। कोरोना वायरस का प्रकोप दिन प्रतिदिन बढ़ रहा है और इसी को देखते हुए राकेश ने टिक टॉक यूजर्स द्वारा लोगों को बरगलाने पर आपत्ति जाहिर किया।

इसके बाद तो जैसे इस्लामवादियों और हिंदुओं से नफरत करने वाले लोगों के कमेंट्स की झड़ी लग गई, जैसे वो इसी ताक में बैठे थे। कोरोना वायरस से लड़ने में 5 बार नमाज पढ़ने का समर्थन करने वाले कट्टरपंथियों ने राकेश के कमेंट का स्क्रीनशॉट वायरल कर दिया। उनका कहना था कि राकेश ने इस्लाम का अपमान किया है। बाद में उन्हें उनकी नौकरी से निकाल दिया गया और उनके संगठन एमरिल सर्विसेज ने उन्हें पुलिस के हवाले कर दिया। कथित तौर पर इस्लाम का अपमान करने पर उन्हें जेल भी जाना पड़ सकता है।

Emrill Services के सीईओ स्टुअर्ट हैरिसन ने इस बाबत कहा, “कित्तूरमठ को तत्काल प्रभाव से नौकरी से निकाल दिया गया है। उसे दुबई पुलिस को सौंप दिया जाएगा। हमारे पास ऐसे हेट क्राइम के प्रति जीरो टॉलरेंस की नीति है।” आगे उसने कहा, “हमारे पास 8,500 से अधिक कर्मचारी हैं इसलिए इसमें कुछ समय लग सकता है। हमने उसे निकाल दिया है। यदि वह अभी भी देश में है, तो उसे दुबई पुलिस को सौंप दिया जाएगा।”

https://twitter.com/Sthomas_inc/status/1248462184692080642?ref_src=twsrc%5Etfw%7Ctwcamp%5Etweetembed%7Ctwterm%5E1248462184692080642&ref_url=https%3A%2F%2Fwww.opindia.com%2F2020%2F04%2Fdubai-indian-man-sacked-may-face-jail-term-social-media-post-muslims-tiktok-coronavirus-misinformation%2F

कित्तूरमठ के खिलाफ शुरू की गई इस दंडात्मक कार्रवाई का समर्थन कॉन्ग्रेस के समर्थकों ने किया। इन्हीं कॉन्ग्रेस समर्थकों में से एक है- सेल्विन थॉमस। उसने राकेश के कमेंट को वायरल करने की कोशिश की और साथ ही दुबई पुलिस से उनके खिलाफ कार्रवाई की माँग की। इसके साथ ही उसने दुबई में भारतीय राजनयिक से उसे देश भेज देने की भी सिफारिश की।

इस्लामियों और हिंदू से घृणा करने वालों ने भी इस मौके को खूब भुनाया।

पूर्व पत्रकार इरेना अकबर, जिन्हें अक्सर भारत में हिंदुओं और दलितों के खिलाफ जहर उगलते हुए पाया जाता है, ने एक ट्वीट करते हुए लोगों से अपील किया कि अगर यूएई बेस्ड संघी द्वारा कोई भी “इस्लामोफोबिक” पोस्ट किया जाता है तो प्लीज गल्फ न्यूज के मजहर फारुकी को टैग करें। जिसके बाद ऐसे व्यक्तियों के खिलाफ जवाबी कार्रवाई की जा सकती है। इरेना का दावा है कि मजहर भारतीय समुदाय विशेष के लिए एक बड़ी संपत्ति है।

यहाँ यह उल्लेखनीय है कि इस्लामी राष्ट्रों के पास ईशनिंदा के खिलाफ सख्त कानून हैं। इसका दुरुपयोग अक्सर दूसरे धर्म के लोगों को अपनी राय व्यक्त पर लिए टारगेट करने के लिए होता है। ये कानून मनमाने हैं और आम तौर पर तुच्छ मुद्दों पर दूसरे धर्म के लोगों को निशाना बनाने और परेशान करने के लिए एक हथियार के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मुरादाबाद और बरेली में दौरे पर थे सीएम योगी: अचानक गाँव में Covid संक्रमितों के पहुँचे घर, पूछा- दवा मिली क्या?

सीएम आदित्यनाथ अचानक ही गाँव के दौरे पर निकल पड़े और होम आइसोलेशन में रह रहे Covid-19 संक्रमित मरीजों के स्वास्थ्य की जानकारी ली। उनके इस अप्रत्याशित निर्णय का अंदाजा उनके अधिकारियों को भी नहीं था।

‘2015 से ही कोरोना वायरस को हथियार बनाना चाहता था चीन’, चीनी रिसर्च पेपर के हवाले से ‘द वीकेंड’ ने किया खुलासा: रिपोर्ट

इस रिसर्च पेपर के 18 राइटर्स में पीएलए से जुड़े वैज्ञानिक और हथियार विशेषज्ञ शामिल हैं। मैग्जीन ने 6 साल पहले 2015 के चीनी वैज्ञानिकों के रिसर्च पेपर के जरिए दावा किया है कि SARS कोरोना वायरस के जरिए चीन दुनिया के खिलाफ जैविक हथियार बना रहा था।

नेहरू के अखबार का वो पत्रकार, जिसने पोप को दी चुनौती… धर्म परिवर्तन के खिलाफ विश्व हिन्दू परिषद की रखी नींव

विश्व हिन्दू परिषद की स्थापना करते समय स्वामी चिन्मयानन्द सरस्वती ने कहा था, “जिस दिन प्रत्येक हिन्दू जागृत होगा और उसे..."

‘मदरसा छाप, मिर्जापुर का ललित’: दिल्ली में ऑक्सीजन की बर्बादी पर तजिंदर बग्गा और अमानतुल्लाह के बीच छिड़ा वाक युद्ध

इस पर तजिंदर बग्गा ने अमानतुल्लाह खान से कहा कि बाटला हाउस इनकाउंटर को फर्जी बताने वाला और मोहनचंद शर्मा के बलिदान का अपमान करने वाला आज फेक न्यूज की बात कर रहा है।

स्वाति चतुर्वेदी पर HT के पत्रकार ने लगाया ‘कंटेंट चुराने’ का आरोप, हिमंत बिस्वा सरमा पर NDTV में लिखा था लेख

HT के पत्रकार जिया हक़ ने ट्विटर के माध्यम से दोनों ही लेखों का स्क्रीनशॉट शेयर किया और उस पैराग्राफ के बारे में बताया, जिसका उन्होंने कॉपी करने का आरोप लगाया।

‘केजरीवाल सहित AAP के सभी मंत्रियों के घरों की तलाशी हो, मिल सकते हैं कई ऑक्सीजन सिलिंडर’

कपिल मिश्रा ने कहा कि एक तरफ लोग मर रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ दिल्ली के मंत्री के घर में 630 ऑक्सीजन सिलिंडर छिपा कर रखे गए हैं।

प्रचलित ख़बरें

रमजान का आखिरी जुमा: मस्जिद में यहूदियों का विरोध कर रहे हजारों नमाजियों पर इजरायल का हमला, 205 रोजेदार घायल

इजरायल की पुलिस ने पूर्वी जेरुसलम स्थित अल-अक़्सा मस्जिद में भीड़ जुटा कर नमाज पढ़ रहे मुस्लिमों पर हमला किया, जिसमें 205 रोजेदार घायल हो गए।

‘मेरी बहू क्रिकेटर इरफान पठान के साथ चालू है’ – चचेरी बहन के साथ नाजायज संबंध पर बुजुर्ग दंपत्ति का Video वायरल

बुजुर्ग ने पूर्व क्रिकेटर पर आरोप लगाते हुए कहा, “इरफान पठान बड़े अधिकारियों से दबाव डलवाता है। हम सुसाइड करना चाहते हैं।”

एक जनाजा, 150 लोग और 21 दिन में 21 मौतें: राजस्थान के इस गाँव में सबसे कम टीकाकरण, अब मौत का तांडव

राजस्थान के सीकर स्थित खीरवा गाँव में मोहम्मद अजीज नामक एक व्यक्ति के जनाजे में लापरवाही के कारण अब तक 21 लोगों की जान जा चुकी है।

पुलिस गई थी लॉकडाउन का पालन कराने, महाराष्ट्र में जुबैर होटल के स्टाफ सहित सैकड़ों ने दौड़ा-दौड़ा कर मारा

महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले के संगमनेर में 100 से 150 लोगों की भीड़ पुलिस अधिकारी को दौड़ा कर उन्हें ईंटों से मारती और पीटती दिखाई दे रही है।

इरफान पठान के नाजायज संबंध: जिस दंपत्ति ने लगाया बहू के साथ चालू होने का आरोप, उसी पर FIR

बुजुर्ग ने पूर्व क्रिकेटर पर आरोप लगाते हुए कहा, “इरफान पठान बड़े अधिकारियों से दबाव डलवाता है। आज हमारी ऐसी हालत आ गई कि हम सुसाइड करना चाहते हैं।”

‘केजरीवाल सहित AAP के सभी मंत्रियों के घरों की तलाशी हो, मिल सकते हैं कई ऑक्सीजन सिलिंडर’

कपिल मिश्रा ने कहा कि एक तरफ लोग मर रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ दिल्ली के मंत्री के घर में 630 ऑक्सीजन सिलिंडर छिपा कर रखे गए हैं।
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,387FansLike
90,991FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe