Sunday, June 23, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय'Apple ने ट्विटर को दी ऐप स्टोर से हटाने की धमकी, विज्ञापन देना भी...

‘Apple ने ट्विटर को दी ऐप स्टोर से हटाने की धमकी, विज्ञापन देना भी बंद कर दिया’: एलन मस्क ने पूछा- क्या फ्री स्पीच से नफरत है

अक्टूबर 2022 में 44 बिलियन डॉलर करीब (362461220000 रुपए) में ट्विटर को खरीदने वाले मस्क ने एक ट्वीट में कहा, "Apple ने ज्यादातर ट्विटर पर विज्ञापन देना बंद कर दिया है। क्या वे अमेरिका में बोलने की आजादी से नफरत करते हैं?"

ट्विटर के सीईओ एलन मस्क (Elon Musk) ने आरोप लगाया है कि एप्पल (Apple) ने बिना कारण बताए ट्विटर (Twitter) को अपने ऐप स्टोर से हटाने की धमकी दी है। दुनिया के सबसे अमीर शख्स ने सिलसिलेवार कई ट्वीट करके चौंकने वाले दावे किए हैं। उन्होंने कहा कि आईफोन निर्माता ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर विज्ञापन देना भी बंद कर दिया है।

अक्टूबर 2022 में 44 बिलियन डॉलर करीब (362461220000 रुपए) में ट्विटर को खरीदने वाले मस्क ने एक ट्वीट में कहा, “Apple ने ज्यादातर ट्विटर पर विज्ञापन देना बंद कर दिया है। क्या वे अमेरिका में बोलने की आजादी से नफरत करते हैं?” उन्होंने कहा, “फ्री स्पीच सप्रेसन पर ट्विटर फाइलें जल्द ही ट्विटर पर ही प्रकाशित होंगी। जनता जानना चाहती है कि वास्तव में क्या हुआ था।”

इसके बाद में उन्होंने एक अन्य ट्वीट में Apple के मुख्य कार्यकारी अधिकारी टिम कुक के ट्विटर अकाउंट को टैग करते हुए पूछा, “यहाँ क्या हो रहा है?” हालाँकि, Apple की ओर से कोई जवाब नहीं दिया गया।

ट्विटर और टेस्ला के मालिक ने कहा कि कंटेंट मॉडरेशन की डिमांड पर एप्पल ट्विटर पर दबाव डाल रहा था। Apple द्वारा की गई कार्रवाई आसामान्य नहीं है, क्योंकि बार-बार अन्य कंपनियों पर भी नियम थोपने की कोशिश की जा रही है। इसके तहत उसने गैब और पार्लर जैसे ऐप्स को हटा दिया है। पार्लर ऐप को Apple ने 2021 में अपनी सामग्री और कंटेंट मॉडरेशन को अपडेट करने के बाद बहाल किया गया था। उन्होंने फिर एक और ट्वीट किया, “Apple ने और किसे सेंसर किया है?”

मस्क ने एक ट्वीट में एप्पल ऐप स्टोर से दूसरे ऐप को डाउनलोड करने पर ली जाने वाली फीस को लेकर भी आलोचना की है। मस्क ने लिखा है कि क्या आप जानते हैं एप्पल अपने ऐप स्टोर के माध्यम से खरीदी जाने वाली हर चीज पर सीक्रेट रूप से 30 फीसदी टैक्स लगाता है।

गौरतलब है कि 27 अक्टूबर 2022 को ट्विटर को खरीदने के तुरंत बाद एलन मस्क ने कंपनी के CEO पराग अग्रवाल, CFO नेड सेगल और लीगल अफेयर-पॉलिसी हेड विजया गाड्डे को टर्मिनेट कर दिया था। इसके बाद उन्होंने कई और कर्मचारियों को भी कंपनी से बाहर का रास्ता दिखाया।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मोदी के दिए घरों में रहते हैं, 100% वोट कॉन्ग्रेस को देते हैं’: बोले असम CM सरमा – राज्य पर कब्ज़ा करना चाहते हैं...

सीएम हिमंता ने कहा कि बांग्लादेशी मूल के अल्पसंख्यकों ने कॉन्ग्रेस को इसलिए वोट दिया, क्योंकि अगले 10 सालों में वे राज्य को कब्जा चाहते हैं।

NEET पीपर लीक की जाँच अब CBI के हवाले, केंद्रीय जाँच एजेंसी ने दर्ज की FIR: PG की परीक्षा के लिए नई तारीखों का...

केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय की ओर से बताया गया कि विवाद की समीक्षा के बाद मंत्रालय ने मामले की व्यापक जाँच के लिए इसे सीबीआई को सौंपने का फैसला किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -