Saturday, May 18, 2024
Homeदेश-समाजमहिला शिक्षिका ने चर्च में 15 साल के छात्र को बनाया शिकार: 10 बार...

महिला शिक्षिका ने चर्च में 15 साल के छात्र को बनाया शिकार: 10 बार किया मुँह वाला सेक्स, भेजती थी नग्न तस्वीरें

इस मामले का खुलासा तब हुआ जब पीड़ित छात्र के माता-पिता ने एक दिन अपने बेटे का मोबाइल चेक किया। पीड़ित के व्हाट्सएप्प पर रीगन ग्रे की कई अश्लील तस्वीरें और मैसेज पाए गए। पीड़ित के अभिभावकों ने चर्च के पादरी स्टीवन स्मिथ को सूचना दी।

अमेरिका के आर्कन्सा में एक महिला टीचर पर 15 साल के बच्चे के यौन शोषण का आरोप लगा है। 26 वर्षीया इस टीचर का नाम रीगन ग्रे है। रीगन ग्रे लिटिल रॉक इमैनुएल बैपटिस्ट चर्च में बच्चों को बतौर वालेंटियर पढ़ाती हैं। उन पर लगभग 4 साल तक नाबालिग छात्र को झाँसा दे कर ओरल सेक्स करने का आरोप है। खबर सामने आने एक बाद रीगन को चर्च ने सस्पेंड कर दिया है। पुलिस ने अरोपिता को गिरफ्तार कर लिया है। फिलहाल उन्हें बाद में जमानत भी मिल गई है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पीड़ित छात्र की रीगन ग्रे से मुलाक़ात साल 2020 की सर्दियों में चर्च में हुई थी। दोनों की पहली मुलाकात चर्च में एक संगीत समारोह के दौरान हुई थी। तब से रीगन ने पीड़ित छात्र को अपनी नग्न तस्वीरें भेजनी शुरू कर दी थी। बाद में मई 2021 में रीगन पीड़ित छात्र से अपनी कार और आपर्टमेंट में मिलीं। बताया जा रहा है कि 2020 से 2021 के बीच रीगन ने पीड़ित से लगभग 10 बार ओरल सेक्स (मुख मैथुन) किया। हालाँकि, खुद को ‘शुद्ध रखने के लिए’ अरोपिता ने संभोग (रति क्रिया) नहीं किया।

इस मामले का खुलासा तब हुआ जब पीड़ित छात्र के माता-पिता ने एक दिन अपने बेटे का मोबाइल चेक किया। पीड़ित के व्हाट्सएप्प पर रीगन ग्रे की कई अश्लील तस्वीरें और मैसेज पाए गए। पीड़ित के अभिभावकों ने चर्च के पादरी स्टीवन स्मिथ को सूचना दी। पादरी ने अपनी पत्नी एश्ले के माध्यम से रीगन ग्रे को समझाने की कोशिश की। हालाँकि थोड़े समय चुप रहने के बाद रीगन ग्रे ने फिर से छात्र को मैसेज भेजने शुरू कर दिए। ये मैसेज अब व्हाट्सएप के बजाय स्नैपचैट पर भेजे जा रहे थे।

रीगन ग्रे की दोबारा शुरू हुई इस करतूत की जानकारी जब पीड़ित छात्र के परिजनों को हुई तो वो नाराज हो गए। उन्होंने पहले चर्च के पादरी को सूचित किया। फरवरी 2024 में रीगन की हरकतों की जाँच पुलास्की काउंटी स्पेशल स्कूल डिस्ट्रिक्ट द्वारा की गई। जाँच में आरोप सही पाए जाने पर रीगन ग्रे को चर्च में पढ़ाई के कार्य से सस्पेंड कर दिया। निलंबन काल में भी आरोपित ने पीड़ित को मैसेज भेजने जारी रखे तो छात्र के परिजनों ने पुलिस में शिकायत कर दी।

इस बीच पादरी स्टीवन द्वारा हुई पूछताछ में रीगन ने 15 वर्षीय छात्र के साथ ओरल सेक्स करना स्वीकार किया। पुलिस ने पीड़ित छात्र से पूछताछ की तो उसने भी अपनी टीचर द्वारा अपने यौन शोषण की बात कबूली। पुलिस ने रीगन पर एक नाबालिग के यौन शोषण का केस दर्ज किया। अप्रैल 2024 में रीगन ग्रे को अदालत से जमानत मिल गई। यह जमानत 20,000 डॉलर के मुचलके पर दी गई है। कोर्ट में रीगन खुद पर लगे आरोपों से मुकर गईं। उनके वकील जॉन ओगल्स ने आशा जताई है कि उन्हें न्यायिक व्यवस्था पर पूरा भरोसा है जहाँ से रीगन जल्द बाइज्जत बरी होंगी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

स्वाति मालीवाल बन गई INDI गठबंधन में गले की फाँस? राहुल गाँधी की रैली के लिए केजरीवाल को नहीं भेजा गया न्योता, प्रियंका कह...

दिल्ली में आयोजित होने वाली राहुल गाँधी की रैली में शामिल होने के लिए AAP प्रमुख अरविंद केजरीवाल को न्योता नहीं दिया गया है।

‘अनुच्छेद 370 को हमने कब्रिस्तान में गाड़ दिया, इसे वापस नहीं लाया जा सकता’: PM मोदी बोले- अलगाववाद को खाद-पानी देने वाली कॉन्ग्रेस ने...

पीएम मोदी ने कहा, "आजादी के बाद गाँधी जी की सलाह पर अगर कॉन्ग्रेस को भंग कर दिया गया होता, तो आज भारत कम से कम पाँच दशक आगे होता।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -