Wednesday, September 28, 2022
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय'मुझे घसीट कर कमरे के बाहर धकेल दिया, शरीर पर नहीं थे कोई कपड़े':...

‘मुझे घसीट कर कमरे के बाहर धकेल दिया, शरीर पर नहीं थे कोई कपड़े’: पूर्व फुटबॉलर पर एक्स का आरोप – हर समय चाहते थे सेक्स, 8 लड़कियों से अफेयर

केट ने पुलिस को मैनचेस्टर स्टार के बारे में खुलासा करते हुए बताया, "रयान गिग्स हरदम सेक्स करना चाहते थे और एक घंटे में 50 बार कॉल करते थे।"

फुटबाल टीम मैनचेस्टर यूनाइटेड के पूर्व स्टार फुटबॉलर रयान गिग्स की पूर्व प्रेमिका केट ग्रेविल ने उन पर यौन उत्पीड़न के साथ ही घरेलू हिंसा का आरोप लगाया। उन्होंने पुलिस को बताया कि रयान की कई महिलाओं से सम्बन्ध रहे हैं। उसने मुझे घसीट कर कमरे से बाहर कर दिया। उस वक्त मेरे शरीर पर एक भी कपड़ा नहीं था। उसने मेरी पीठ में लात मारी और मेरे सिर पर लैपटॉप फेंक दिया। यह वाकया तब हुआ जब केट ने रयान पर किसी दूसरी महिला के साथ छेड़खानी करने का आरोप लगाया।

द सन की रिपोर्ट के अनुसार, इस मामले में केट ने आज एक अदालत को बताया कि मुझे उसके साथ एक गुलाम की तरह महसूस हुआ। केट ग्रेविल ने कहा कि मैनचेस्टर यूनाइटेड के पूर्व स्टार ने उन्हें ऐसा महसूस कराया कि उन्हें वही करना होगा जो वो चाहते हैं। अन्यथा इसके बुरे परिणाम भुगतने होंगे। आज रयान इसी मामले में मैनचेस्टर क्राउन कोर्ट पहुँचे थे।

केट ने पुलिस को मैनचेस्टर स्टार के बारे में खुलासा करते हुए बताया, “रयान गिग्स हरदम सेक्स करना चाहते थे और एक घंटे में 50 बार कॉल करते थे।” वहीं केट ग्रीविल के एक 36 वर्षीय पीआर कार्यकारी ने दावा किया कि उसे पता चला कि गिग्स का आठ अलग-अलग लड़कियों के साथ रिलेशनशिप भी था। इसके बावजूद भी उनको हर समय सेक्स की तलब थी।

उन्होंने कहा, “मैंने सच्चाई का पता लगाने के लिए इसे अपना मिशन बना लिया। यही वह समय था जब मैंने उसके आईपैड की जाँच शुरू की। उस आईपैड पर मुझे जो मिला वह वास्तविकता से कहीं ज्यादा खराब था जिसकी आप कभी कल्पना नहीं कर सकते थे।”

मिरर की रिपोर्ट के अनुसार, मैनचेस्टर क्राउन कोर्ट में अपने मुकदमे की सुनवाई के तीसरे दिन सबूत देते हुए, केट ने क्रिस डॉ क्यूसी से कहा, जिरह: “मैं एक कमजोर स्थिति में थी और उसने इसका फायदा उठाया।”

वहीं इस पूरे मामले में 48 वर्षीय गिग्स ने अगस्त 2017 और नवंबर 2020 के बीच केट द्वारा लगाए गए नियंत्रण और दुर्व्यवहार से इनकार किया है। वहीं केट ने उनपर हाथापाई का आरोप लगाया।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बंगाल का एक दुर्गा पूजा पंडाल ऐसा भी: याद उनकी जो चुनाव बाद मार डाले गए, सुनाई देगी माँ की रुदन

दुर्गा पूजा में अलग-अलग थीम के पंडाल के तैयार किए जाते हैं। पश्चिम बंगाल में इस बार एक पूजा पंडाल उन लोगों की याद में तैयार किया गया है जो विधानसभा चुनाव के बाद राजनीतिक हिंसा में मार डाले गए थे।

मूर्तिपूजकों को जहाँ देखो, वहीं लड़ो-काटो… ऐसे बनाओ IED बम: PFI पर 5 साल का बैन क्यों लगा, पढ़िए इसके कुकर्मों की पूरी लिस्ट

भारत सरकार ने पॉपुलर फ्रंट ऑफ़ इंडिया (PFI) और उससे जुड़ी 8 संस्थाओं पर बैन लगा दिया है। PFI की देश विरोधी गतिविधियों के कारण...

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
224,749FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe