Thursday, June 13, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयअमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप 2024 में फिर लड़ेंगे राष्ट्रपति चुनाव, कहा- प्रेसीडेंट...

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप 2024 में फिर लड़ेंगे राष्ट्रपति चुनाव, कहा- प्रेसीडेंट होता तो रूस-यूक्रेन युद्ध कभी नहीं होता

डोनाल्ड ट्रंप 2017 में अमेरिका के राष्ट्रपति बने थे। उन्होंने 2020 में भी राष्ट्रपति चुनाव लड़ा था, लेकिन उन्हें जो बाइडन के हाथों हार का सामना करना पड़ा था। ट्रंप के लिए ये चुनाव बेहद मुश्किल साबित हो सकता है कि क्योंकि बतौर राष्ट्रपति उन पर दो बार महाभियोग चल चुका है।

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (USA Ex-President Donald Trump) ने साल 2024 में होने वाले राष्ट्रपति चुनावों के लिए अपनी उम्मीदवारी की घोषणा कर दी है। इसके लिए उन्होंने दस्तावेज भी दाखिल कर दिए हैं। ये दावेदारी उन्होंने रिपब्लिकन पार्टी (Republican Party) की ओर से की है।

ट्रंप ने बुधवार (16 नवंबर 2022) को यह घोषणा अमेरिका में मध्यावधि चुनाव होने के बाद की है। ट्रंप मध्यावधि चुनाव में जीत के बाद अपनी उम्मीदवारी की घोषणा करना चाहते थे। हालाँकि, चुनाव में ट्रंप समर्थित उम्मीदवारों की हार हुई है, इसके बावजूद उन्होंने चुनाव मैदान में उतरने का फैसला किया है।

ट्रम्प ने जैसे ही 2024 के व्हाइट हाउस की दौड़ के लिए कागजी कार्रवाई पूरी की, वह आधिकारिक तौर पर राष्ट्रपति पद की उम्मीदवारी की घोषणा करने वाले रिपब्लिकन या डेमोक्रेट पक्ष से पहले उम्मीदवार बन गए। ट्रंप ने कहा कि अगर वे राष्ट्रपति होते तो यूक्रेन-रूस का युद्ध नहीं होता। ये बात डेमोक्रेट्स भी मानते हैं।

पूर्व राष्ट्रपति ने अपने फ़्लोरिडा के मार-ए-लागो एस्टेट में समर्थकों को संबोधित करते हुए कहा, “अमेरिका की वापसी अभी से शुरू होती है।” अमेरिका के इतिहास में केवल एक ही ऐसे राष्ट्रपति ग्रोवर क्लीवलैंड थे, जिन्होंने राष्ट्रपति पद से हटने के बाद 1884 और 1892 में दोबारा राष्ट्रपति का पद ग्रहण किया था। 

ट्रंप ने अमेरिकी चुनाव प्राधिकरण के साथ 2024 के लिए अपने आधिकारिक कागजी कार्रवाई को पूरा करने से कुछ मिनट पहले कहा, ”अमेरिका को फिर से महान और गौरवशाली बनाने के लिए मैं आज रात संयुक्त राज्य अमेरिका के राष्ट्रपति पद के लिए अपनी उम्मीदवारी की घोषणा कर रहा हूँ।”

राष्ट्रपति पद की दौड़ के लिए ट्रम्प की शुरुआती घोषणा को पार्टी का प्रतिनिधित्व करने वाले अन्य रिपब्लिकनों पर समर्थन हासिल करने के प्रयास के रूप में देखा जा रहा है। हाल के महीनों में ट्रंप राष्ट्रपति पद के लिए अपनी उम्मीदवारी का संकेत दे रहे थे। आयोवा में एक रैली को संबोधित करते हुए ट्रंप ने कहा था, ”मैं बहुत, बहुत संभव है कि दोबारा ऐसा (राष्ट्रपति पद का चुनाव) करूँगा।”

दो रिपब्लिकन गवर्नर फ्लोरिडा के रॉन डेसांटिस और वर्जीनिया के ग्लेन यंगकिन निकट भविष्य में पार्टी उम्मीदवार के रूप में उनकी स्थिति को चुनौती दे सकते हैं। अन्य संभावित रिपब्लिकन राष्ट्रपति पद के उम्मीदवारों में टेक्सास के गवर्नर ग्रेग एबॉट, दक्षिण कैरोलिना के पूर्व गवर्नर निक्की हेली और पूर्व विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ शामिल हैं।

बता दें कि ट्रंप 20 जनवरी 2017 से 20 जनवरी 2021 तक राष्ट्रपति थे। साल 2020 में उन्होंने राष्ट्रपति का चुनाव लड़ा था, लेकिन उन्हें जो बाइडन के हाथों हार का सामना करना पड़ा था। ट्रंप के लिए ये चुनाव बेहद मुश्किल साबित हो सकता है कि क्योंकि बतौर राष्ट्रपति उन पर दो बार महाभियोग चल चुका है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नेता खाएँ मलाई इसलिए कॉन्ग्रेस के साथ AAP, पानी के लिए तरसते आम आदमी को दोनों ने दिखाया ठेंगा: दिल्ली जल संकट में हिमाचल...

दिल्ली सरकार ने कहा है कि टैंकर माफिया तो यमुना के उस पार यानी हरियाणा से ऑपरेट करते हैं, वो दिल्ली सरकार का इलाका ही नहीं है।

पापुआ न्यू गिनी में चली गई 2000 लोगों की जान, भारत ने भेजी करोड़ों की राहत (पानी, भोजन, दवा सब कुछ) सामग्री

प्राकृतिक आपदा के कारण संसाधनों की कमी से जूझ रहे पापुआ न्यू गिनी के एंगा प्रांत को भारत ने बुनियादी जरूरतों के सामान भेजे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -