Tuesday, July 16, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयअयोध्या में भूमि पूजन के बाद राममय हुआ न्यूयॉर्क का Times Square: दिखी भगवान...

अयोध्या में भूमि पूजन के बाद राममय हुआ न्यूयॉर्क का Times Square: दिखी भगवान राम की झलक

अयोध्या में प्रभु राम के भव्य मंदिर के भूमि पूजन के मौके पर अमेरिका के न्यूयॉर्क शहर के टाइम्स स्क्वायर में ब्रॉडवे पर भगवान राम का सबसे बड़ा हाई-डेफिनिशन डिजिटल डिस्प्ले दिखाया गया। साथ ही इस मौके पर लोगों ने 'जय श्रीराम' के नारे भी लगाए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार (अगस्त 5, 2020) को अयोध्या में राम मंदिर की आधारशिला रखी। राम मंदिर निर्माण की गूँज देश ही नहीं विदेश में भी गूँजी। अमेरिका के प्रसिद्ध स्थल न्यूयॉर्क टाइम्स स्क्वायर पर रामभक्तों ने डिजिटल बिलबोर्ड के जरिए राम में अपनी आस्था प्रकट की।

अयोध्या में प्रभु राम के भव्य मंदिर के भूमि पूजन के मौके पर अमेरिका के न्यूयॉर्क शहर के टाइम्स स्क्वायर में ब्रॉडवे पर भगवान राम का सबसे बड़ा हाई-डेफिनिशन डिजिटल डिस्प्ले दिखाया गया। साथ ही इस मौके पर लोगों ने ‘जय श्रीराम’ के नारे भी लगाए।

टाइम्स स्क्वायर के बिलबोर्ड पर भगवान राम और मंदिर के मॉडल के अलावा भारत का झंडा भी डिस्प्ले हो रहा था। भगवान राम का डिजिटल प्रदर्शन टाइम्स स्क्वायर में हिंदू देवता के सबसे महँगे डिजिटल होर्डिंग में से एक है।

जानकारी के मुताबिक अमेरिकन इंडियन पब्लिक अफेयर कमेटी के अध्यक्ष जगदीश सेवहानी ने बताया था कि ये जीवन में एक बार या सदी में एक बार होने वाली घटना नही हैं। बल्कि, पूरी मानवजाति के जीवन में इस तरह के मौके एक ही बार आते हैं। इस मौके को खास बनाने के लिए उन्होंने टाइम्स स्क्वायर को चुना।

इससे पहले अयोध्या में ऐतिहासिक राम मंदिर की नींव रखी जाने का अमेरिका में भारतीय- अमेरिकियों ने दीप जलाकर जश्न मनाया। कैपिटल हिल में राम मंदिर की तस्वीरों की एक झाँकी भी निकाली गई।

गौरतलब है कि इससे पहले खबर थी कि अयोध्या में राम मंदिर के भूमिपूजन की तस्वीरें अब न्यूयॉर्क की टाइम्स स्क्वायर इमारत पर नजर नहीं आएँगी। बताया गया कि जिस विज्ञापन कंपनी ‘ब्रांडेड सिटीज’ के पास बिल्डिंग पर मुख्य बिल बोर्ड मैनेज करने का अधिकार था, उन्होंने यूएस के मुस्लिम गुटों की आपत्ति के बाद इमारत पर श्रीराम की तस्वीर डिस्प्ले पर दिखाने से मना कर दिया।

संयुक्त राज्य अमेरिका में मुस्लिम समूहों के गठबंधन में से एक समूह ने कहा था कि विज्ञापन कंपनी ‘ब्रांडेड सिटीज’, जो टाइम्स स्क्वायर में नैस्डैक के लिए डिजिटल विज्ञापन बोर्ड का प्रबंधन करती है और प्रमुख डिजिटल बोर्ड चलाती है, उसने अपने बिलबोर्ड पर भगवान राम की तस्वीरें दिखाने की योजना बनाने वाले हिंदू समूहों के लिए विज्ञापन चलाने से इनकार कर दिया।

भूमि पूजने से पहले अयोध्या को पूरी तरह से सजा दिया गया। जगमग रोशनी से शहर की तस्वीर देखते ही बन रही थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी जब भूमि पूजन के लिए दिल्ली से अयोध्या के लिए निकले तो वह पारंपरिक धोती-कुर्ता धारण किए हुए थे। पूजा के दौरान उनके साथ संघ प्रमुख मोहन भागवत, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सहित कई धर्मगुरु भी मौजूद रहे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या में भूमि पूजन कर श्री राम जन्मभूमि मंदिर निर्माण की आधारशिला रख रहे थे तो दूसरी तरफ उनकी मां हीराबेन अपने घर पर बैठ टीवी पर ऐतिहासिक पलों को देख रही थीं। पीएम मोदी की माँ की कुछ तस्वीरें सामने आईं हैं, जिसमें देखा जा सकता है कि प्रधानमंत्री अयोध्या में हनुमानगढ़ी में आरती कर रहे थे तो उनकी माँ अपने घर बैठकर टीवी के सामने बैठकर पूरे कार्यक्रम को देख रही थीं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘जम्मू-कश्मीर की पार्टियों ने वोट के लिए आतंक को दिया बढ़ावा’: DGP ने घाटी के सिविल सोसाइटी में PAK के घुसपैठ की खोली पोल,...

जम्मू कश्मीर के DGP RR स्वेन ने कहा है कि एक राजनीतिक पार्टी ने यहाँ आतंक का नेटवर्क बढ़ाया और उनके आका तैयार किए ताकि उन्हें वोट मिल सकें।

कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री DK शिवकुमार को सुप्रीम कोर्ट से झटका, चलती रहेगी आय से अधिक संपत्ति मामले CBI की जाँच: दौलत के 5 साल...

सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री डीके शिवकुमार को आय से अधिक संपत्ति मामले में CBI जाँच से राहत देने से मना कर दिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -